वार्ता:हिन्दू धर्म की आलोचना

Active discussions

यह पृष्ठ हिन्दू धर्म की आलोचना लेख के सुधार पर चर्चा करने के लिए वार्ता पन्ना है। यदि आप अपने संदेश पर जल्दी सबका ध्यान चाहते हैं, तो यहाँ संदेश लिखने के बाद चौपाल पर भी सूचना छोड़ दें।

लेखन संबंधी नीतियाँ

हिंदुत्व और हिन्दू धर्मसंपादित करें

स:हिंदुस्थान वासी श्रीमान जी, ध्यान दें कि 'हिन्दुत्व' शब्द में ही देखा जा सकता है कि यह विचार धारा हिन्दू धर्म से जुड़ा है। लेख इस्लाम की आलोचना में इस्लामी अतिवाद की आलोचना को भी किया गया है - तो क्या मुझे भी उस पंक्तियों को मिटाने की अनुमति है क्योंकि 'इस्लाम और इस्लामी अतिवाद अलग चीज़ है'? इस लेख का फ़्रांसीसी अनुवाद में भी हिन्दुत्व का उल्लेख मिलता है। अतः यह करना अनुचित होगा। सादर, --सलमा महमूद 17:48, 27 अप्रैल 2015 (UTC)

सलमा जी, बिल्कुल आपको अनुमति है। ये विकि है यहाँ सब सम्पादन कर सकते हैं। अगर किसी को आपत्ति होगी तो वो आपसे वार्ता कर लेगा। आप देखेगी तो पाएँगी इस्लाम की आलोचना लेख बहुत ही बुरी तरह से लिखा है। आपको उसे तटस्थ दृष्टिकोण से लिखना चाहिये। "मुख्य बिन्दु" वाली शैली बहुत ही गैर-तटस्थ होती है। उसे वर्णन में ही लिखना चाहिये। मैं अपनी तरफ से दोनों को ठीक करने की कोशिश करता हूँ।--पीयूष (वार्ता)योगदान 06:58, 28 अप्रैल 2015 (UTC)
पहली बात तो इस लेख का नाम "हिन्दू धर्म की आलोचना" के स्थान पर "हिन्दू धर्म की समालोचना" होना चाहिए। इसी तरह अन्य पृष्ठ "इस्लाम की आलोचना" का भी शीर्षक बदलकर "इस्लाम की समालोचना" कर देना चाहिए। इसके अलावा इन दोनों लेखों को बड़े स्तर पर पुनरीक्षण की आवश्यकता है।☆★संजीव कुमार (✉✉) 05:00, 3 मई 2015 (UTC)
संजीव जी से सहमत हूँ। 'आलोचना' की जगह 'समालोचना' शब्द का इस्तेमाल किया जाय। (मेरे दिमाग में यही आया और लिखने के लिये यहाँ आया तो पता चला संजीव जी पहले ही यह विचार ज़ाहिर कर चुके हैं)। बाकी मैं ददेखता हूँ और क्या किया जा सकता है।--त्यम् मिश्र बातचीत 07:13, 3 मई 2015 (UTC)
पृष्ठ "हिन्दू धर्म की आलोचना" पर वापस जाएँ।