स्मृति ईरानी

भारतीय राजनीतिज्ञ
(स्मृति ज़ुबिन ईरानी से अनुप्रेषित)

स्मृति मल्होत्रा (स्मृति मल्होत्रा, पंजाबी में ਸਮ੍ਰਿਤੀ ਜੁਬੀਨ ਇਰਾਨੀ ,जन्म: 23 मार्च 1976) एक भारतीय टेलीविज़न अभिनेत्री, महिला राजनीतिज्ञ और भारत सरकार के अन्तर्गत कपड़ा मन्त्री तथा महिला एवं बाल विकास मन्त्री हैं[1][2] और इससे पूर्व वे मानव संसाधन विकास मन्त्री रह चुकी हैं।[3][4][5]

स्मृति ज़ुबिन ईरानी

महिला एवं बाल विकास मन्त्री, भारत सरकार
पदस्थ
कार्यालय ग्रहण 
मई २०१९
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी
पूर्वा धिकारी सन्तोष गंगवार

पदस्थ
कार्यालय ग्रहण 
२३ मई २०१९
पूर्वा धिकारी राहुल गाँधी
चुनाव-क्षेत्र अमेठी

पद बहाल
२६ मई २०१४ – ५ जुलाई २०१६
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी
पूर्वा धिकारी पल्लम राजू
उत्तरा धिकारी प्रकाश जावड़ेकर

भारतीय जनता पार्टी की उपाध्यक्ष
पदस्थ
कार्यालय ग्रहण 
2012

भारतीय जनता पार्टी की राष्ट्रीय सचिव
पदस्थ
कार्यालय ग्रहण 
मार्च 2010
पूर्वा धिकारी कार्यालय स्थापित

भाजपा महिला मोर्चा की अध्यक्ष
उत्तरा धिकारी सरोज पाण्डे

पद बहाल
१८ जुलाई २०१७ – १४ मई २०१८
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी
पूर्वा धिकारी वेंकैया नायडू
उत्तरा धिकारी राज्यवर्धन सिंह राठौड़

पद बहाल
२०१७ – २०१९

जन्म 23 मार्च 1976 (1976-03-23) (आयु 48)
नई दिल्ली, भारत
जन्म का नाम स्मृति मल्होत्रा
राजनीतिक दल भारतीय जनता पार्टी
जीवन संगी जुबिन ईरानी
निवास मुम्बई, महाराष्ट्र, भारत
धर्म हिन्दू धर्म
जालस्थल स्मृति ईरानी

2019 में भारत के लोक सभा चुनाव में, स्मृति ईरानी ने अमेठी सीट जीतने के लिए राहुल गाँधी - देश के प्रमुख विपक्षी नेता और भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के अध्यक्ष को पराजित किया[6]

स्मृति ईरानी 2019 की मन्त्रिपरिषद में सबसे कम उम्र की मन्त्री थीं, उन्होंने मई 2019 में 43 साल की उम्र में कैबिनेट मन्त्री के रूप में शपथ ली थी[7]

प्रारम्भिक जीवन संपादित करें

स्मृति ज़ुबिन ईरानी का जन्म 23 मार्च 1976 को दिल्ली में हुआ और उन्होंने राष्ट्रीय राजधानी में ही शिक्षा ग्रहण की। वे सौन्दर्य प्रसाधनों के प्रचार से लेकर मिस इंडिया प्रतियोगिता की प्रतिभागी भी बनीं। मॉडलिंग में प्रवेश करने से पहले, वह मैकडॉनल्ड्स में वेट्रेस और क्लीनर के पद पर कार्य कर चुकी हैं।[8] बाद में वे मुम्बई चली आयीं, जहाँ उन्होंने टेलीविजन धारावाहिक ‘क्योंकि सास भी कभी बहू थी’ में ‘तुलसी’ का केन्द्रीय किरदार निभाया और चर्चित हुईं।[9]

उन्होंने 10वीं की परीक्षा उत्तीर्ण करने के बाद से ही पैसा कमाना शुरू कर दिया था और सौन्दर्य प्रसाधन के प्रचार करने लगी थीं। रूढ़ीवादी पंजाबी-बंगाली परिवार की तीन बेटियों में से एक स्मृति ने सारी बन्दिशें तोड़कर ग्लैमर जगत में कदम रखा। उन्होंने 1998 में मिस इंडिया प्रतियोगिता में हिस्सा लिया, लेकिन गौरी प्रधान तेजवानी के साथ शीर्ष 9 तक नहीं पहुंच सकीं। इसके बाद स्मृति ने मुम्बई जाकर अभिनय के जरिए अपनी किस्मत बनाई इनके ऊपर अपनी सहेली के पति को जाल में फसाकर अपना पति बनाने के आरोप लगते है जब देश मे कांग्रेस की सरकार थी तो महंगाई का आरोप लगाकर भाजपा की तरफ से सिलेंडर लेकर सड़क पर उतर कर प्रधानमन्त्री को चूड़ियां भेजने की बात करती था जब केंद्र में इनकी पार्टी बीजेपी की सरकार बनी तो गैस सिलेंडर के दाम कांग्रेस सरकार की तुलना मे दोगुने से भी ज्यादा हो गए इनके मुंह से प्रधानमन्त्री के प्रति एक शब्द नही निकला इस बढ़ती महंगाई को लेकर जिससे विपक्षी इन्हे प्रायः सिलेंड्रिला या मोटी भैंस व

सहेली के पति को अपना पति बनाने वाली( पतिचोर)कहकर पुकारते है 2014 लोकसभा चुनाव अमेठी से हारने के बाद भी इन्हे राज्यसभा भेजकर मंत्री बनाया गया क्योंकि इनके नरेंद्र मोदी से काफी नजदीकी रिश्ते है नरेंद्र मोदी के ऊपर कोई आरोप लगाए तो ये तुरंत भीड़ जाति है अमेठी की जानता से 13 रुपए किलो चीनी देने का वादा किया लेकिन चीनी कभी जनता को नही मिली बल्कि 40 से 50 रुपए में जनता को खरीदना पड़ा जिससे साफ जाहिर होता है प्रधानमन्त्री की तरह स्मृति ईरानी भी झूठ बोलती है और झूठ बोलना तो भारतीय जानता पार्टी के नेताओ के खून मे ही है ये राहुल गांधी की कट्टर विरोधी मानी जाती है[10]

अभिनय क्षेत्र संपादित करें

स्मृति ज़ुबिन ईरानी स्मृति ईरानी एक मॉडल थी और स्विमवीयर में फोटोशूट भी किया। उसने वर्ष 1998 में फेमिना मिस इंडिया सौन्द्रर्य प्रतियोगिता के फाइनल में पहुंची, किन्तु विजेता नहीं बन पायी। [11]

उन्होंने वर्ष 2000 में टेलीवीजन सीरियल 'हम है कल आज कल और कल' के साथ अपने करियर की शुरुआत की, किन्तु उन्होंने एकता कपूर के सास बहू सीरियल 'क्योंकि सास भी कभी बहू थी' में लीड रोल निभाया। इसके साथ ही इनकी पहचान एक कलाकार के रूप में बन गई।[12]

स्मृति ज़ुबिन ईरानी ने पांच सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री के लिए भारतीय टेलीविजन अकादमी अवार्ड, चार इंडियन टेली अवार्ड और आठ स्टार परिवार पुरस्कार जीत चुकी हैं। वर्ष 2001 में उन्होने जीटीवी पर प्रसारित रमायण में सीता का किरदार निभाया था। वर्ष 2006 में उन्होने बालाजी टेलीफिल्मस के अन्तर्गत 'थोड़ी सी जमीन और थोड़ा सा आसमान' टीवी सीरियल में सह निदेशक की भूमिका अदा की। वर्ष 2008 में उन्होंने डांस पर आधारिक टीवी सीरियल 'ये हैं जलवा' को साक्षी तंवर के साथ होस्ट किया।[12]

राजनीतिक जीवन संपादित करें

स्मृति ज़ुबिन ईरानी का राजनीतिक जीवन [13] वर्ष 2003 में तब शुरू हुआ जब उन्होंने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की सदस्यता ग्रहण की और दिल्ली के चाँदनी चौक लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र से चुनाव लड़ा। हालांकि वे भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के उम्मीदवार और पूर्व केंद्रीय मंत्री कपिल सिब्बल से हार गईं। वर्ष 2004 में इन्हें महाराष्ट्र यूथ विंग का उपाध्यक्ष बनाया गया। इन्हें पार्टी ने पांच बार केंद्रीय समिति के कार्यकारी सदस्य के रूप में मनोनीत किया और राष्ट्रीय सचिव के रूप में भी नियुक्त किया। वर्ष 2010 में उन्हें भाजपा महिला मोर्चा की कमान सौंपी गई। वर्ष 2011 में वे गुजरात से राज्यसभा की सांसद चुनी गई। इसी वर्ष इनको हिमाचल प्रदेश में महिला मोर्चे की भी कमान सौंप दी गई।

भारतीय आम चुनाव, 2014 में स्मृति ने कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी और आम आदमी पार्टी के नेता कुमार विश्वास के खिलाफ अमेठी संसदीय सीट से चुनाव लड़ा और उन्हें कड़ी चुनौती दी। यद्यपि वे यह भी चुनाव हार गईं, लेकिन राज्यसभा की सदस्य होने के नाते उन्हें भारत सरकार में मानव संसाधन विकास मंत्री बनाया गया।[8][12] २०१९ के लोक सभा चुनाव ने स्मृति बेन ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी को अमेठी में पराजित किया।

व्यक्तिगत जीवन संपादित करें

वर्ष-2001 में स्मृति ने जुबिन ईरानी पारसी से शादी की। उनके दो बच्चे हैं - ज़ोहर ईरानी, और ज़ोइश ईरानी। 2001 में उन्हें एक बेटा हुआ, जिसका नाम 'जौहर' है।[14] सितंबर 2003 में उन्हें एक बेटी हुई, जिसका नाम 'जोइश' है। वे 'शेनियल' की सौतेली माँ भी है जो उनके पति जुबिन ईरानी और उनकी पूर्व पत्नी मोना ईरानी की पुत्री है।[15] उसके दोनों बच्चे पारसी हैं।[16]

पुरस्कार और उपलब्धियाँ संपादित करें

 
एक फैशन शो के दौरान स्मृति ईरानी रैम्प पर चलती हुई
वर्ष पुरस्कार समारोह श्रेणी शो के लिए चरित्र
2001 भारतीय टेलीविजन अकादमी पुरस्कार आईटीए सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री का पुरस्कार नाटक के लिए (लोकप्रिय) क्योंकि सास भी कभी बहू थी तुलसी वीरानी
2002 भारतीय टेलीविजन अकादमी पुरस्कार आईटीए सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री का पुरस्कार नाटक के लिए (लोकप्रिय)
इंडियन टेली अवार्ड्स सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री (लोकप्रिय)
2003 भारतीय टेलीविजन अकादमी पुरस्कार आईटीए सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री का पुरस्कार नाटक के लिए (लोकप्रिय)
इंडियन टेली अवार्ड्स सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री (लोकप्रिय)
''सर्वश्रेष्ठ टीवी व्यक्तित्व''
स्टार परिवार पुरस्कार पसंदीदा बहू
पसंदीदा पत्नी
2004 भारतीय टेलीविजन अकादमी पुरस्कार आईटीए सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री का पुरस्कार नाटक के लिए (लोकप्रिय)
स्टार परिवार पुरस्कार पसंदीदा मां
पसंदीदा सास
2005 भारतीय टेलीविजन अकादमी पुरस्कार आईटीए सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री का पुरस्कार नाटक के लिए (लोकप्रिय)
स्टार परिवार पुरस्कार पसंदीदा सास
Gr8 ! महिला अचीवर अवॉर्ड सबसे अच्छा घर निर्माता पुरस्कार
2006 स्टार परिवार पुरस्कार पसंदीदा सास
2007 इंडियन टेली अवार्ड्स सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री (ज्यूरी) विरुद्ध वसुधा शर्मा
स्टार परिवार पुरस्कार पसंदीदा सास क्योंकि सास भी कभी बहू थी तुलसी वीरानी
ज़ी अस्तित्व पुरस्कार सर्वश्रेष्ठ टीवी व्यक्तित्व
2008 स्टार परिवार पुरस्कार विशेष मान्यता
2009 गुजराती स्टेज पुरस्कार सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री मानिबेन डॉट कॉम मानिबेन पटेल
2010 भारतीय टेलीविजन अकादमी पुरस्कार आईटीए माइलस्टोन अवार्ड क्योंकि सास भी कभी बहू थी तुलसी वीरानी
2014 गर्व भारतीय टीवी पुरस्कार बेस्ट टीवी दशक के व्यक्तित्व


यह भी देखें संपादित करें

सन्दर्भ संपादित करें

  1. जनसत्ता ऑनलाइन. "स्‍मृति ईरानी से छीना गया HRD तो सदानंद गौड़ा ने गंवाया कानून मंत्रालय, जानिए किसे मिला कौन सा मंत्रालय". Jansatta. मूल से 6 जुलाई 2016 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 2016-07-05.
  2. "PM Narendra Modi cabinet gets big reshuffle, Smriti Irani dropped as HRD minister - Navbharat Times" (अंग्रेज़ी में). Navbharattimes.indiatimes.com. 1970-01-01. मूल से 5 जुलाई 2016 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 2016-07-05.
  3. "मैकडॉनल्ड्स की नौकरी से कैबिनेट तक स्मृति ईरानी". मूल से 27 मई 2014 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 27 मई 2014.
  4. "संग्रहीत प्रति". मूल से 16 अक्तूबर 2018 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 19 अक्तूबर 2018.
  5. "संग्रहीत प्रति". मूल से 19 अक्तूबर 2018 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 19 अक्तूबर 2018.
  6. "राहुल गांधी की हार के लिए थी मन्नत? 14 Km पैदल चलकर स‍िद्धि‍व‍िनायक पहुंचीं स्मृति ईरानी". आज तक (hindi में). 2019-05-28. अभिगमन तिथि 2022-07-29.सीएस1 रखरखाव: नामालूम भाषा (link)
  7. "मोदी कैबिनेट में स्मृति ईरानी सबसे युवा, पासवान सबसे बुजुर्ग, औसत आयु 59.36". आज तक (hindi में). 2019-05-31. अभिगमन तिथि 2022-07-29.सीएस1 रखरखाव: नामालूम भाषा (link)
  8. "Rise of Smriti Irani: Journey from bahu of TV to BJP's Vice President" [भाजपा के उपाध्यक्ष के लिए टीवी की बहू के रास्ते स्मृति ईरानी का उदय]. दि इकॉनोमिक टाइम्स (अंग्रेज़ी में). 1 नवम्बर 2013. मूल से 31 मार्च 2014 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 27 मई 2014.
  9. "हर घर की चहेती बहू (स्मृति ईरानी) बनी देश की मंत्री". जी न्यूज. 26 मई 2014. मूल से 28 मई 2014 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 27 मई 2014.
  10. "स्मृति ईरानी : सीरियल से संसद तक का सफर". जी न्यूज. मूल से 30 मई 2014 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 27 मई 2014.
  11. "The 38-year-old minister who is in the middle of a row over her educational qualification was the finalist of the beauty pageant Miss India 1998". मूल से 19 अक्तूबर 2018 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 19 अक्तूबर 2018.
  12. "स्मृति ईरानी : कैबिनेट मंत्री". जागरण. 26 मई 2014. मूल से 27 मई 2014 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 27 मई 2014.
  13. "संग्रहीत प्रति". मूल से 15 सितंबर 2018 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 19 अक्तूबर 2018.
  14. "An interview with the superstar of Indian Television: Smriti Irani" [भारतीय टेलीविजन के सुपरस्टार: स्मृति ईरानी के साथ एक साक्षात्कार]. Tribune India (अंग्रेज़ी में). मूल से 19 मई 2014 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 27 मई 2014.
  15. "Smriti Irani Biography" [स्मृति ईरानी का जीवन वृत]. Cinebasti (अंग्रेज़ी में). मूल से 30 मार्च 2014 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 27 मई 2014.
  16. "Women have a right to pray, not desecrate: Smriti Irani". मूल से 24 अक्तूबर 2018 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 24 अक्तूबर 2018.

बाहरी कड़ियाँ संपादित करें