मुख्य मेनू खोलें

कासगंज या कासगंज, पश्चिमी उत्तर प्रदेश में, एटा से लगभग ३२ किलोमीटर उत्तर, काली नदी के किनारे स्थित एक क़स्बा है। यह कासगंज ज़िले का मुख्यालय भी है, जिसे २००६ में एटा ज़िले से विभक्त कर बनाया गया था, जो अलीगढ़ मंडल में आता है। भारत सरकार की २०११ की जनगणना के अनुसार, कासगंज की कुल आबादी १ लाख से अधिक है, और इसका नगरीय विस्तार लगभग २,२०० वर्ग किलोमीटर पर फ़ैला हुआ है। कासगंज की सबसे विशिष्ट भौगोलिक आकृति है काली नदी जो शहर के दक्षिण से गुज़रती है, तथा, निचली गंगा नहर क़स्बे के पश्चिम से गुज़रती है।

गोण्डा
کاسگنج
गोण्डा की उत्तर प्रदेश के मानचित्र पर अवस्थिति
गोण्डा
गोण्डा
उत्तरप्रदेश में अवस्थिति
निर्देशांक: 27°49′N 78°39′E / 27.82°N 78.65°E / 27.82; 78.65निर्देशांक: 27°49′N 78°39′E / 27.82°N 78.65°E / 27.82; 78.65
देशFlag of India.svg भारत
राज्यउत्तर प्रदेश
जनपदगोण्डा ज़िला
क्षेत्रफल
 • कुल2218 किमी2 (856 वर्गमील)
ऊँचाई177 मी (581 फीट)
जनसंख्या (2011)
 • कुल101
 • घनत्व46 किमी2 (120 वर्गमील)
भाषा
 • आधिकारिकहिंदी, उर्दू
समय मण्डलभारतीय मानक समय (यूटीसी+5:30)
पिनकोड207123
दूरभाष कोड05744
वाहन पंजीकरणUP-87
वेबसाइटwww.gonda.nic.in

www.kanshiramnagar.nic.in

www.kasganjadmin.in

Hiiugg to I didn't ask

भूगोलसंपादित करें

कासगंज निर्देशांक 27°49′N 78°39′E / 27.82°N 78.65°E / 27.82; 78.65 में अवस्थित है। यहाँ की औसत ऊँचाई १७७ मीटर (580 फ़ीट) है। यहाँ की औसत ऊंचाई समुद्र स्तर से १७७ मीटर है। काली नदी के किनारे बसा यह शहर उत्तर भारतीय मैदानों में हिमालय तराई की सामीप्यता में गंगा और यमुना के दोआब भूमि में अवस्थित है। गंगा-यमुना दोआब की जलोढ़ मृदा से भरपूर यह भूमि, दुनिया की सबसे उपजाऊ भूमियों में शुमार है। तथा यहाँ की जनसँख्या, मुख्यतः कृषि, अथवा कृषि-आधारित व्यवसायों में मुलव्विस है।

मौसमसंपादित करें

उत्तर भारत के सिन्धु-गंगा के मैदानों पर अवस्थित यह नगर उत्तरी हिमालय के तराई की सामीप्यता में अवस्थित है। इन दोनों प्राकृतिक संरचनाओं, वार्षिक वर्षा चक्र तथा सम्बंधित हवाओं का यहाँ के मौसम पर मुख्य प्रभाव पड़ता है। शीतकालीन तापमान यहाँ मद्धम होते हैं, हालाँकि यदाकदा तापमान शून्य डिग्री तक भी गिर सकता है। ग्रीष्मकालीन मौसम गर्म और सुख होता है, तथा ग्रीष्मकालीन तापमान अक्सर नियमित तौरपर ४०℃ के पार जाता है। मानसून ऋतू जून मास के अंत से सितंबर तक चलती है, जिस समय मानसून वर्षा लगभग रोज़ाना की घटना रहती है। अक्टूबर के बाद से मौसम खुशनुमा हो जाता है, और तापमान भी शीतल रहता है। तीव्र सर्दी का मौसम दिसंबर से जनवरी के अंत तक चलता है, जिसके बाद वसंत का मौसम आता है।

जनसांख्यिकीसंपादित करें

वर्ष २०११ की जनगणना के अनुसार कासगंज की जनसँख्या १,०१,२४१ है, जिसमे ५३,५०७ पुरुष तथा ४७,७३४ महिलाएँ हैं। यहाँ की साक्षरता दर ७८.५६% थी।[1]

आध्यात्मिक जनसांख्यिकी
धार्मिक पहचान प्रतिशत
हिन्दू
  
66%
मुस्लमान
  
32%
जैनी
  
1.4%
अन्य†
  
0.6%
आध्यात्मिक संघटना

सिख (0.2%) तथा बौद्ध अनुयायी (<0.2%)

शामिल।

शिक्षासंपादित करें

कासगंज ज़िले में १०७ उच्च माध्यमिक विद्यालय, ८ आईटीआई कॉलेज, एक पोलीटेक्नीक कॉलेज, ३९ डिग्री कॉलेज, ७ पोस्ट-ग्रेजुएशन कॉलेज और २ इंजीनियरिंग एवं मैनेजमेंट के कॉलेज हैं।

परिवहनसंपादित करें

कासगंज सड़कमार्ग और रेलमार्ग द्वारा अन्य शहरों और भारत के विशाल रेल-सड़क जाल से जुड़ा हुआ है। विभिन्न परिवहन साधनों द्वारा कासगंज से तक आवा-जाहि की जा सकती है। जलमार्ग और वायुमार्ग से कासगंज जक नहीं जाया जा सकता है।

सड़कमार्गसंपादित करें

कासगंज प्रान्तीय राजमार्ग ३३ पर अवस्थित है, जो आगरा-बदायूँ और बरेली को जोड़ता है(जिसे मथुरा-बरेली राजमार्ग) भी कहा जाता है। कासगंज जीटी रोड से तकरीबन 30 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है, जिसतक एटा और सिकंदरा राव से पहुँचा जा सकता है।

कासगंज, दिल्ली से भी सड़कमार्ग(तथा रेलमार्ग) द्वारा जुड़ा हुआ है। सड़क के ज़रिये कासगंज दिल्ली से 200 किमी, आगरा से ११३ किमी, मथुरा से ११० किमी, बरेली से १०७ और राज्य की राजधानी लखनऊ से ३०० किमी की दूरी पर स्थित है। निकट नगर, अलीगढ से ६० किमी, एटा से ३२ किमी, और बदायूँ से ५६ किमी की दूरी पर स्थित है। इन जगहों पर बसों तथा अन्य परिवहन माध्यमों तक जाया जा सकता है। गंगा नदी(कछला गंगा पुल) कासगंज से २६ किमी दूर है, जबकि कछला क़स्बा, नदी के उस पार, कासगंज से ३० किमी की दूरी पर है।[2]

रेलमार्गसंपादित करें

मथुरा - बरेली - लखनऊ
   
हावड़ा की ओर
   
लखनऊ
   
कानपूर
   
फर्रुखाबाद
   
बरेली की ओर
   
कासगंज जं०
   
अगसौली
   
सिकंदरा रोड
   
हाथरस जं०
   
मुरसान
   
राया
   
मथुरा
   
नई दिल्ली की ओर

कासगंज, ब्रिटिशकाल के समय से ही रेलमार्ग के ज़रिये अन्य शहरों से विराट भारतीय रेल जंजाल से जुड़ा हुआ है। कासगंज जंक्शन, कासगंज का मुख्य रेलवे स्टेशन है, जोकि एक रेल त्रिमार्ग पर स्थित है। कासगंज जंक्शन लखनऊ, बरेली और मथुरा से रेलमार्ग द्वारा जुड़ा है, तथा कोलकाता, अहमदाबाद, मुम्बई, न्यू जलपाईगुड़ी, इत्यादि जैसे दूरगामी महानगरों की ट्रेनें भी कासगंज से गुज़रती हैं।

इन्हें भी देखेंसंपादित करें

सन्दर्भसंपादित करें

  1. "Urban Agglomerations/Cities having population 1 lakh and above" (PDF). Provisional Population Totals, Census of India 2011. अभिगमन तिथि 2012-07-07.
  2. गूगल मैप्स Kasganj, Uttar Pradesh-207123, मैप लिंक

बाहरी कड़ियाँसंपादित करें