जागृति (1992 फ़िल्म)

1992 की सुरेश कृष्णा की फ़िल्म

जागृति सुरेश कृष्णा द्वारा निर्देशित 1992 में बनी हिन्दी भाषा की फिल्म है। मुख्य भूमिका में सलमान खान और करिश्मा कपूर हैं।

जागृति
जागृति.jpg
जागृति का पोस्टर
निर्देशक सुरेश कृष्णा
निर्माता एस. आर. शेट्टी
लेखक अनवर खान
अभिनेता सलमान ख़ान,
करिश्मा कपूर
संगीतकार आनंद-मिलिंद
प्रदर्शन तिथि(याँ)
  • 3 जुलाई 1992 (1992-07-03)
देश भारत
भाषा हिन्दी

संक्षेपसंपादित करें

विशाल (पंकज धीर) एक सम्मानजनक और ईमानदार अधिकारी है। एक दिन विशाल का अपहरण कर लिया जाता है और उसके छोटे भाई जुगनू (सलमान खान) की उपस्थिति में मार दिया जाता है। जुगनू गायब हो जाता है और उसे मृत माना जाता है। हकीकत में, उसे जंगल में रहने वाले लोग द्वारा अपना लिया जाता है, जहां उनका सरदार (पुनीत इस्सर) उसे प्रशिक्षित करता है। ईमानदार और मेहनती गांधीवादी रघुनाथ इस स्थिति को देखकर बहुत नाराज हो जाते हैं, और मुख्यमंत्री ओमजी से कदम उठाने की मांग करते हैं। जब ओमजी इस बारे में पूछताछ करने का प्रयास करता है, तो उसके बेटे को अस्पतालों में नकली ग्लूकोज बेचने में फँसा दिया जाता है, जिसके कारण कई मौतें हुईं हैं। कार्य करने के लिए शक्तिहीन होकर, ओमजी हिचकता है, और नतीजतन रघुनाथ की हत्या कर दी जाती है। उसके बाद, जुगनू लौटता है, जो अपने भाई की मृत्यु का बदला लेना का इच्छुक है।

मुख्य कलाकारसंपादित करें

संगीतसंपादित करें

जागृति
आनंद-मिलिंद द्वारा
जारी
1992 (भारत)
संगीत शैली फिल्म साउंडट्रैक
लेबल वीनस म्यूजिक
आनंद-मिलिंद कालक्रम

एक लड़का एक लड़की
(1992)
जागृति
(1992)
हनीमून
(1992)

संगीत आनंद-मिलिंद द्वारा दिया गया है और बोल समीर द्वारा लिखें गए हैं।

क्र॰शीर्षकगायकअवधि
1."हवा में क्या है"एस॰ पी॰ बालसुब्रमण्यम, के॰ एस॰ चित्रा5:50
2."आयेगा आयेगा"अभिजीत, सुरेश वाडकर, कविता कृष्णमूर्ति5:17
3."चल नौजवान आगे चल"अमित कुमार4:09
4."ना ना ना आना"सपना मुखर्जी5:08
5."हवा में क्या है" (दुखी संस्करण)एस॰ पी॰ बालसुब्रमण्यम, के॰ एस॰ चित्रा1:44
6."जलनेवाले तो जलते रहेगे"एस॰ पी॰ बालसुब्रमण्यम, के॰ एस॰ चित्रा5:08
7."हे परम पिता परमेश्वर"साधना सरगम4:18
8."हम सारे बेकार"अभिजीत, जॉली मुखर्जी, कविता कृष्णमूर्ति6:26
9."आ गया आ गया"अभिजीत, सुरेश वाडकर, कविता कृष्णमूर्ति1:42

बाहरी कड़ियाँसंपादित करें