भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान पटना

पटना में स्थित स्वायत्त संस्थान शिक्षा और अनुसंधान

भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान पटना , बिहार का एकमात्र भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान है जो उन आठ भारतीय प्रौद्योगिक संस्थानों में से एक है, जिसे केंद्र सरकार ने वर्ष 2008- 2009 के मध्य स्थापित किया था[2]। भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान का परिसर पटना शहर से 25 किलोमीटर दूर स्थित बिहटा में स्थित है।भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान पटना का परिसर राजधानी पटना से 25 किलोमीटर दूर बिहटा नामक स्थान पर लगभग 500 एकड़ भूमि पर निर्मित किया गया है।

आईआईटी पटना
चित्र:Indian Institute of Technology, Patna.svg

आदर्श वाक्य:Vidyárthí Labhathéy Vidyám Sanskrit
स्थापित2008
प्रकार:Public engineering school
अध्यक्ष:Ajai Chowdhry
निदेशक:Pushpak Bhattacharyya
शिक्षक:100+
स्नातक:800
स्नातकोत्तर:131
अवस्थिति:बिहटा, पटना, बिहार, भारत
परिसर:501 एकड़ (2.0 कि॰मी2)[1]
Acronym:IITP
जालपृष्ठ:www.iitp.ac.in
आईआईटी पटना

पाठ्यक्रमसंपादित करें

 
IIT Patna Bihta Campus

इस संस्थान में इलेक्ट्रिकल, मैकेनिकल और कंप्यूटर साइंस की पढ़ाई होती है। भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, गुवाहाटी के आठ प्रोफेसर यहाँ पढ़ाते हैं। नए स्थापित आठ संस्थानो में पटना पहला संस्थान है जिसने डॉक्टरेट का पाठ्यक्रम भी प्रारम्भ किया है। यहाँ कम्प्यूटर विज्ञान, इलेक्ट्रिक इंजीनियरिंग, मैकेनिकल इंजीनियरिंग, भौतिक विज्ञान, रसायन शास्त्र ,कला एवं सामाजिक विज्ञान में डॉक्टरेट पाठ्यक्रम संचालित होते है।

छात्र व विभागसंपादित करें

भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान पटना में 120 सीट है जिसमे 109 छात्रों का नामांकन किया गया है। आई.आई.टी. पटना के निदेशक प्रो. अनिल के. भौमिक है।

प्रौद्योगिकी संस्थान (संशोधन) विधेयक 2010संपादित करें

आईआईटी पटना के भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी) का दर्जा देने के लिए सरकार ने लोकसभा में प्रौद्योगिकी संस्थान (संशोधन) विधेयक 2010 प्रस्तुत किया था। सरकार द्वारा गठित विशेषज्ञ एक समिति ने बनारस हिन्दू विश्वविद्यालय सहित अन्य संस्थानों को खोलने की सिफारिश की थी। ये संस्थान पटना बिहार, मंडी (हिमाचल प्रदेश), रोपड़ (पंजाब), जोधपुर (राजस्थान), गांधीनगर (गुजरात), हैदराबाद (आंध्रप्रदेश),इंदौर (मध्यप्रदेश) और भुवनेश्वर (उड़ीसा) में खोले गए हैं।

इन्हें भी देखेंसंपादित करें

सन्दर्भसंपादित करें

  1. सन्दर्भ त्रुटि: <ref> का गलत प्रयोग; IIT501 नाम के संदर्भ में जानकारी नहीं है।
  2. "संग्रहीत प्रति". मूल से 21 अप्रैल 2017 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 20 अप्रैल 2017.

बाहरी कड़ियाँसंपादित करें