विकिपीडिया:पृष्ठ हटाने हेतु चर्चा/लेख/सहकार भारती

सहकार भारतीसंपादित करें

सहकार भारती (संपादन|वार्ता|इतिहास|कड़ियाँ|ध्यान रखें|लॉग)
सहकार भारती -विकिपीडिया -wikipedia के लिये गूगल परिणाम: खोज • समाचार • पुस्तक • विद्वान •


नामांकन के लिये कारण:

उल्लेखनीयता नहीं। --SM7--बातचीत-- 15:27, 21 मई 2022 (UTC)

(साफ़ प्रचार के तहत नामांकित और हटाया गया लेख जिसे दुबारा निर्मित किया गया)
इसे नहीं हटाना चाहिये क्योंकि यह एक ऐसी संस्था के बारे में है जो निश्चित ही एक उल्लेखनीय संस्था है। यह पचासों वर्षों से अस्तित्व में है और पंजीकृत है। पूरा भारत इसका कार्यक्षेत्र है और इसका संगठन बहुत बड़ा है। इसका कार्य भी बहुत महत्वपूर्ण है - सहकारी संस्थानों और सहकारकों को बढ़ावा देना, और इस प्रकार भारत की आर्थिक उन्नति करना। यह संस्था कितनी उल्लेखनीय है, यह समाचारों में इसके नाम की खोज से भी पता चल जायेगा।
दूसरी बात यह है कि यह लेख कम से कम सात-आठ वर्ष पहले लिखा गया था। उसके बाद किसी ने इसे 'साफ प्रचार' घोषित करते हुए इसे शीघ्र हटाने का नामांकन किया था। उस समय मैने इसका विरोध किया था। श्री अजित कुमार तिवारी ने इसे न हटाने के तर्क को स्वीकार करते हुए कुछ यों टिप्पणि की थी - 'अनावश्यक शीह' । शायद छः माह से कम समय में किसी अन्य सदस्य ने फिर से इस पर 'साफ प्रचार' का आरोप लगाते हुए शीघ्र हटाने का अनुरोध कर दिया और विद्वान प्रबन्धक ने आंख मूदकर इसे हटा दिया। जिस समय इसे हटाया गया उसी समय मैं इसे न हटाने का अपना तर्क लिख रहा था जो कुछ सेकेण्ड देरी से पूरा हुआ (इस पर शायद ही किसी को विश्वास हो।)। मेरे कहने का सार यह है कि यह एक उल्लेखनीय संस्था के बारे में है, साफ प्रचार भी नहीं है, अतः इसे न हटाया जाय। --- अनुनाद सिंह (वार्ता) 13:57, 24 मई 2022 (UTC)
लेख में सन्दर्भ के साथ सुधार किया गया है। एक बार फिर से विचार करना चाहिए।☆★चाहर धर्मेंद्र--राम राम जी-- 17:35, 24 मई 2022 (UTC)
बजाय इसे स्वघोषित रूप से निश्चित ही उल्लेखनीय मानने के और पचास साल पुरानी होने की अथवा लेख के लंबे समय से बने होने की दुहाई देने के इसे उल्लेखनीयत साबित करने के लिए दस बीस ऐसे सन्दर्भ दे देना बेहतर होता जहाँ विषय का सविस्तार विवरण-वर्णन जिनसे विकिपीडिया कि उल्लेखनीयता नीति इसे उल्लेखनीय साबित मान सकती। आँख मूँद कर हटा दिया और कुछ सेकेण्ड से चूक गए जैसी रससिक्त वाणी उद्गीरित करने की बजाय महान संपादक को नीति पढ़ एक बार पढ़ लेना अच्छा होता।
@चाहर धर्मेंद्र: जी आपके सुधार पूर्ण हो गए हैं? क्या लेख के विषय का सविस्तार वर्णन करने वाले स्रोत उपलप्ध हैं जिससे इस विषयकी उल्लेखनीयता सिद्ध हो रही, जिससे कि इस विषय पर अलग से लेख रखना उचित हो। मुझे तो इसे किसी अन्य संबंधित लेख में अनुभाग के रूप में एक पैराग्राफ लिखने भर की उल्लेखनीयता प्रतीत हो रही।--SM7--बातचीत-- 16:14, 17 जून 2022 (UTC)
नमस्कार SM7 जी, मेरा काम पूरा हुआ। मेरी ही तरह कोई भी सदस्य जानकारी सन्दर्भ के साथ लिख सकता है। सहकार भारती
आर.एस.एस के संगठन नाम से नया लेख बना सकते है। उस में अनुभाग के रूप में एक पैराग्राफ लिख सकते है।आर.एस.एस के संगठन☆★चाहर धर्मेंद्र--राम राम जी-- 17:48, 17 जून 2022 (UTC)
@चाहर धर्मेंद्र: जी, इस हेतु संघ परिवार लेख पहले से मौजूद है, वहां भी एक पैराग्राफ के बाद ऐसे संगठनों की सूची ही उपलब्ध है। संगत अंग्रेजी लेख में भी ऐसा ही किया गया है, इसे सूचीबद्ध करके रखा गया है। एक बार अवलोकन करें। --SM7--बातचीत-- 18:16, 17 जून 2022 (UTC)
नमस्कार SM7 जी, संघ परिवार लेख पर अंग्रेजी लेख के संगठनों की सूची अनुसार सुधार किया गया है। एक बार आप भी अवलोकन करें। ☆★चाहर धर्मेंद्र--राम राम जी-- 15:23, 26 जून 2022 (UTC)
@चाहर धर्मेंद्र: जी, मेरे कहने का मतलब यह था कि संघ परिवार पर बने लेख में सहकार भारती वाले इस लेख की सामग्री नहीं रखना उचित प्रतीत हो रहा ताकि इस शीर्षक को वहाँ अनुप्रेषित किया जा सके। अगर वहाँ अन्य संगठनों के बारे में पैराग्राफ लिखे होते तो इसके बारे में भी एक पैरा जोड़ कर ऐसा किया जा सकता था। आपने उस लेख में सुधार किया इसके लिए आपका आभार। --SM7--बातचीत-- 16:27, 26 जून 2022 (UTC)
SM7 जी! बिल्कुल, यदि सहकार भारती लेख की सामग्री संघ परिवार में डालते है तो फिर हमें अन्य संगठनों के साथ भी ऐसा करना होगा। जो जरूरी है, उस संगठन का लेख अलग ही रखे तो बेहतर होगा। ☆★चाहर धर्मेंद्र--राम राम जी-- 16:37, 26 जून 2022 (UTC)