साँचा:Infobox drug class विटामिन ईसे आशय यौगिकों के एक समूह से है जिनमें टोकोफेरॉल और टोकोट्रॉयनॉल दोनों विद्यमान हों[1] यह खून में रेड बल्ड सेल या लाल रक्त कोशिका (Red Blood Cell) को बनाने के काम आता है। यह विटामिन शरीर में अनेक अंगों को सामान्य रूप में बनाये रखने में मदद करता है जैसे कि मांस-पेशियां व अन्य कोशिकाएँ। यह शरीर को ऑक्सीजन के एक नुकसानदायक रूप से बचाता है, जिसे ऑक्सीजन रेडिकल्स (oxygen radicals) कहते हैं। इस गुण को एंटीओक्सिडेंट (anti-oxidants) कहा जाता है। विटामिन ई, सेल के अस्तित्व बनाय रखने के लिये, उनके बाहरी कवच या सेल मेमब्रेन को बनाए रखता है। विटामिन ई, शरीर के फैटी एसिड को भी संतुलन में रखता है।

समय से पहले पैदा हुए नवजात शिशु में, विटामिन ई की कमी से खून की कमी हो जाती है। इससे उनमें रक्ताल्पता (एनेमिया) हो सकता है। बच्चों और वयस्क लोगों में, विटामिन ई की कमी से मस्तिक की तंत्रिकाओं की समस्या हो सकती है। अत्यधिक विटामिन ई लेने से रक्त कणिकाओं पर प्रभाव पड़ सकता है, जिससे की खून बहना या बीमारी होना सम्भव है।

विटामिन ई के स्रोतसंपादित करें

 
कॉड मछली के यकृत के तेल से बने कैप्सूल
वनस्पतिजन्य स्रोत[2] मात्रा
(mg / 100 g)
Wheat germ oil 150
Hazelnut oil 47
Canola/rapeseed oil 44
सूरजमुखी तेल 41.1
Almond oil 39.2
Safflower oil 34.1
Grapeseed oil 28.8
सूरजमुखी बीज kernels 26.1
Almonds 25.6
Almond butter 24.2
Wheat germ 19
पादप स्रोत[2] मात्रा
(mg / 100 g)
Canola oil 17.5
Palm oil 15.9
मूँगफली तेल 15.7
Margarine, tub 15.4
Hazelnuts 15.3
Corn oil 14.8
Olive oil 14.3
सोयाबीन तेल 12.1
Pine nuts 9.3
Peanut butter 9.0
Peanuts 8.3
पादप स्रोत[2] मात्रा
(mg / 100 g)
मक्के का भूजा 5.0
Pistachio nuts 2.8
Avocados 2.6
Spinach, raw 2.0
Asparagus 1.5
Broccoli 1.4
Cashew nuts 0.9
ब्रेड 0.2-0.3
चाव्ल, brown 0.2
आलू, पास्ता <0.1
जन्तु-जन्य स्रोत[2] मात्रा
(mg / 100 g)
मछली 1.0-2.8
Oysters 1.7
मक्खन 1.6
चीज़ 0.6-0.7
अण्डा 1.1
मुर्गे का मांस 0.3
गोमांस 0.1
सूअर का मांस 0.1
दूध (पूर्ण) 0.1
दूघ (मखन निकाला हुआ) 0.01
विटामिन श्रेष्ठ स्रोत भूमिका आर. डी. ए.
विटामिन ए दूध, मक्खन, गहरे हरे रंग की सब्जियां। शरीर पीले और हरे रंग के फल व सब्जियों में मौजूद पिग्मैंट कैरोटीन को भी विटामिन ‘ए’ में बदल देता है। यह आंख के रेटिना, सरीखी शरीर की झिल्लियों, फ़ेफ़डों के अस्तर और पाचक-तंत्र प्रणाली के लिए आवश्यक है। 1 मि, ग्राम.
थायामिन बी साबुत अनाज, आटा और दालें, मेवा, मटर फ़लियां यह कार्बोहाइड्रेट के ज्वलन को सुनिशचित करता है। 1.0-1.4 मि. ग्राम1.0-1.4 मि. ग्राम
राइबोफ़्लैविन बी दूध, पनीर यह ऊर्जा रिलीज और रख–रखाव के लिए सभी कोशिकाओं के लिए आवश्यक है। 1.2- 1.7
नियासीन साबुत अनाज, आटा और एनरिच्ड अन्न यह ऊर्जा रिलीज और रख रखाव, के लिए सभी कोशिकाओं के लिए आवश्कता होती है। 13-19 मि. ग्रा
पिरीडांक्सिन बी साबुत अनाज, दूध रक्त कोशिकाओं और तंत्रिकाओं को समुचित रुप से काम करने के लिए इसकी जरुरत होती है। लगभग 2 मि. ग्रा
पेण्टोथेनिक अम्ल गिरीदार फ़ल और साबुत अनाज ऊर्जा पैदा करने के लिए सभी कोशिकाओं को इसकी जरुरत पडती है। 4-7 मि. ग्रा
बायोटीन गिरीदार फ़ल और ताजा सब्जियां त्वचा और परिसंचरण-तंत्र के लिए आवश्यक है। 100-200 मि. ग्रा
विटामिन बी दूग्धशाला उत्पाद लाल रक्त कोशिकाओं, अस्थि मज्जा-उत्पादन के साथ-साथ तंत्रिका-तंत्र के लिए आवश्यक है। 3 मि.ग्रा
फ़ोलिक अम्ल ताजी सब्जियां लाल कोशिकाओं के उत्पादन के लिए आवश्यक है। 400 मि. ग्रा
विटामिन ‘सी’ सभी रसदार फ़ल. टमाटर कच्ची बंदगोभी, आलू, स्ट्रॉबेरी हडिडयों, दांत, और ऊतकों के रख-रखाव के लिए आवश्यक है। 60 मि, ग्रा
विटामिन ‘डी’ दुग्धशाला उत्पाद। बदन में धूप सेकने से कुछ एक विटामिन त्वचा में भी पैदा हो सकते है। रक्त में कैल्सियम का स्तर बनाए रखने और हडिडयों के संवर्द्ध के लिए आवश्यक है। 5-10 मि. ग्रा
विटामिन ‘ई’ वनस्पति तेल और अनेक दूसरे खाघ पदार्थ वसीय तत्त्वों से निपटने वाले ऊतकों तथा कोशिका झिल्ली की रचना के लिए जरुरी है। 8-10 मि. ग्रा

सन्दर्भसंपादित करें

  1. Brigelius-Flohé R, Traber MG; Traber (1999). "Vitamin E: function and metabolism". FASEB J. 13 (10): 1145–1155. PMID 10385606.
  2. "USDA Food Composition Databases". United States Department of Agriculture, Agricultural Research Service. Release 28. 2015. मूल से 3 मार्च 2018 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 18 अगस्त 2018.