सफ़ेद गाल वाला तीतर (White-cheeked Partridge) (Arborophila atrogularis) तीतर कुल का एक पक्षी है जो पूर्वोत्तर भारत, चीन, म्यानमार तथा बांग्लादेश में पाया जाता है।[1]

सफ़ेद गाल वाला तीतर
Arborophila atrogularis
Arboricola atrogularis hm.jpg
वैज्ञानिक वर्गीकरण
जगत: जंतु
संघ: रज्जुकी
वर्ग: पक्षी
गण: गॉलिफ़ॉर्मिस
कुल: फ़ॅसिनिडी
उपकुल: पर्डिसिनी
वंश: आर्बोरोफ़िला
जाति: ए. ऐट्रोग्यूलैरिस
द्विपद नाम
आर्बोरोफ़िला ऐट्रोग्यूलैरिस
(ब्लाइथ, १८५०)
चित्र:सफ़ेद गाल वाले तीतर का आवास क्षेत्र.jpg
आवास का क्षेत्र

अन्य नामसंपादित करें

भारत और बांग्लादेश में यह कई अलग नामों से जाना जाता है, जैसे:-

विवरणसंपादित करें

यह मध्यम आकार का पक्षी होता है। नर और मादा दोनों एक जैसे दिखते हैं, हालांकि मादा नर से थोड़ी छोटी होती है। इसकी लंबाई लगभग २५ से २८ से. मी. होती है और वज़न लगभग २०० से २८५ ग्राम होता है।[2]

आवाससंपादित करें

यह पूर्वोत्तर भारत और शायद बांग्लादेश की छोटी-छोटी पहाड़ियों के वनों में रहना पसन्द करता है और कभी-कभी बाँस के जंगलों में भी पाया जाता है। ज़्यादातर यह जंगलों में पानी के स्रोतों या नालों के पास ही रहना पसन्द करता है और वहीं भोजन की तलाश करता है।[2]

आहारसंपादित करें

इसके आहार में छोटे कीट, बीज, छोटे फल और पौधों की कोमल जड़ें भी शामिल हैं। कीड़े ढूंढ़ते समय यह अपने पैरों से ज़मीन पर पड़ी सूखी पत्तियों को निरन्तर हटाते रहता है।[2]

इन्हें भी देखेंसंपादित करें

सन्दर्भसंपादित करें

  1. BirdLife International (2012). "Arborophila atrogularis". IUCN Red List of Threatened Species. Version 2012.2. International Union for Conservation of Nature. अभिगमन तिथि ०१ सितम्बर २०१३. |accessdate= में तिथि प्राचल का मान जाँचें (मदद)
  2. Hume, A.O.; Marshall, C.H.T. (१८८०). Game Birds of India, Burmah and Ceylon. II. Calcutta: A.O. Hume and C.H.T. Marshall.