सोनपुर सारण, बिहार का एक शहर है। वर्ष 1991 में सोनपुर को अनुमंडल का दर्जा मिला।[1] वर्ष 2002 में सोनपुर नगर पंचायत गठित हुआ।[2] सोनपुर में डाकबंगला मैदान है।[3] सोनपुर अनुमंडल के अधीन पाँच प्रखंडों- दिघवारा, सोनपुर, परसा, मकेर और दरियापुर- के हजारों गाँवों में रहने वाले लाखों लोगों को आने वाले समय में निर्बाध बिजली का लाभ मिलेगा। पंडित दीन दयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना के तहत डेरनी, रमसापुर व अकिलपुर में विद्युत सब स्टेशन बनाये जायेंगे।[4] शीतलपुर सब विद्युत ग्रिड से दिघवारा, दरियापुर, परसा, अकिलपुर, शीतलपुर, नयागांव व डोरीगंज विद्युत सब स्टेशनों को तक बिजली की सप्लाइ होती है।[5]

  • अभी कहाँ काम कर रहा है विद्युत सब स्टेशन : दिघवारा,शीतलपुर, नयागाँव, सोनपुर,परसा,दरियापुर[6]
  • जहाँ निर्माणाधीन है विद्युत सबस्टेशन : मकेर
  • जिन जगहों पर बनेंगे विद्युत सब स्टेशन : डेरनी,रमसापुर, सोनपुर व अकिलपुर
सोनपुर
—  शहर  —
समय मंडल: आईएसटी (यूटीसी+५:३०)
देश  भारत
राज्य बिहार
विधायक रामानुज प्रसाद राय (राजद )
सांसद राजीव प्रताप रूडी (भाजपा)
जनसंख्या ३३,३८९ (२००१ के अनुसार )
आधिकारिक जालस्थल: saran.bih.nic.in

निर्देशांक: 25°42′N 85°11′E / 25.7°N 85.18°E / 25.7; 85.18

सोनपुर के दियारा क्षेत्राें का अब तक समुचित विकास नहीं हो सका है। बाढ़ की विभीषिका लोगों को झेलनी पड़ती है। अकिलपुर दियारे में बुनियादी सुविधाओं की घोर कमी है।[7]

एम्स दीघा एलिवेटेड रोड (12.4 किमी लंबा ), गंगा पाथ वे (21.1 किमी) और जेपी सेतु (4.5 किमी)- गांधी सेतु से मिलकर यह एक ऐसा थ्रू वे(threeway) बनाएगा, जिससे सोनपुर की तरफ से आसानी से पश्चिमी पटना, फुलवारीशरीफ और एम्स पटना पहुंच जायेगा।[8] इसके बन जाने से दीदारगंज, पटना सिटी, गुलजारबाग, व गायघाट जैसे सुदुर पूर्वी क्षेत्र के व्यक्ति को दीघा, दानापुर, खगौल, फुलवारीशरीफ, एम्स व जानीपुर जैसे सुदुर पश्चिमी क्षेत्रों में जाने-आने के लिए गांधी मैदान या पटना जंक्शन आने-जाने और शहर की मुख्य ट्रैफिक व्यवस्था पर दबाव बढ़ाने की जरूरत नहीं पड़ेगी।

जनगणनासंपादित करें

सोनपुर शहर(नगर पंचायत) में धर्म
धर्म Percent
हिन्दू
  
94%
मुस्लिम
  
5%
अन्य
  
1%

2011 की जनगणना के अनुसार, सोनपुर नगर पंचायत की जनसंख्या 37,776 है। सोनपुर प्रखंड की आबादी 232,340 थी। पुरुषों की आबादी का 53% और महिलाओं की संख्या 47% है। सोनपुर में औसत साक्षरता दर 60% है, जो राष्ट्रीय औसत 59.5% से अधिक है: पुरुष साक्षरता 70% है और महिला साक्षरता 48% है। सोनपुर में, 16% जनसंख्या 6 वर्ष से कम उम्र के हैं। सोनपुर का क्षेत्रफल 159.65 वर्ग किमी है।

सोनपुर पशु मेलासंपादित करें

सोनपुर में विश्व का सबसे बड़ा - सोनपुर पशु मेला लगता है।[9][10] यहाँ खासकर पशु ही नहीं अन्य सामानों की भी खरीद-बिक्री की जाती है।[11] यह मेला नवम्बर में पटना के उसपार लगता है। यहाँ पर गाय, भैंस, बैल, बकरी, हाथी, घोड़ा इत्यादि बड़े पैमाने पर मिलते हैं। दूर-दूर से खरीद एवं बिक्री के लिए यहाँ पर लोग आते हैं। इस मेले की खूबी यह है कि चाहे छोटा सामान हो या बड़ा, सब कुछ आसानी से मिल जाता है। यहाँ पर व्यापार करने के लिए दूसरे देश से भी लोग आते हैं। विदेशी सामान भी यहाँ आसानी से प्राप्त किया जा सकता है। सन् 1803 में रॉबर्ट क्लाइव ने सोनपुर में घोड़े के बड़ा अस्तबल भी बनवाया था।[12] 2001 में, सोनपुर मेला में लाया गया हाथियों की संख्या 92 थी, जबकि 2016 में 13 हाथियों ने इसे मेले में बनाया,[13] केवल प्रदर्शन के लिए, बिक्री के लिए नहीं।[14] 2017 में, मेले में 3 टस्कर था।[15][16]

सोनपुर मेला में भू-राजस्व विभाग का स्टॉल से बिहार के सभी राजस्व ग्रामों का डिजिटल मानचित्र 150 रूपये मात्र सरकारी शुल्क के द्वारा कोई भी नागरिक तीन मिनट के अन्दर प्राप्त कर सकते हैं।[17] यह कार्य राष्ट्रीय सूचना विज्ञान केन्द्र पटना के तकनीकी सहयोग के द्वारा किया गया है। समय के बदलते प्रभाव के असर से हरिहर क्षेत्र सोनपुर मेला, पशु बाजारों से हटकर अब आटो एक्स्पो मेले का रूप लेता जा रहा है। पिछले कई वर्षों से इस मेले में कई कंपनियों के शोरूम तथा बिक्री केंद्र यहां खुल रहे हैं।[18] मेले में रेल ग्राम प्रदर्शनी लगी।[19] रेलग्राम में टॉय ट्रेन चलाई जा रही।[20] सोनपुर मेले के प्रति विदेशी पर्यटकों में भी खास आकर्षण देखा जाता है।[21] जर्मनी, अमेरिका, फ्रांस एवं अन्य विदेशी पर्यटकों को आकर्षित करने के लिए स्विस कॉटेजों का निर्माण किया जाता है।[22][23] पर्यटकों को पटना एयरपोर्ट से सोनपुर मेला आने व जाने के लिए प्रीपेड टैक्सी भी उपलब्ध कराई जायेगी।[24][25] हरिहर क्षेत्र 2017 सोनपुर मेला 32 दिनों का होगा।[26] सोनपुर मेले का उदघाटन इस बार 2 नवंबर को तथा समापन 3 दिसंबर को किया जाएगा।[27] मेला में नौका दौड़, दंगल, वाटर सर्फिंग, वाटर के¨नग सहित विभिन्न प्रकार के खेल व प्रतियोगिता का भी आयोजन किया जाएगा।

सन्दर्भसंपादित करें

  1. "संग्रहीत प्रति". मूल से 6 फ़रवरी 2017 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 3 फ़रवरी 2017.
  2. "वर्ष 2002 में गठित सोनपुर नगर पंचायत 16 वर्षों के इतिहास में ऐसा कभी नहीं हुआ जो अब हो रहा है।". मूल से 15 जुलाई 2018 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 3 जून 2018.
  3. "फुटबॉल प्रतियोगिता में सारण प्रमंडल को हरा सोनपुर बना विजेता". मूल से 1 अक्तूबर 2017 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 30 सितंबर 2017.
  4. "पांच प्रखंडों में बनेगा विद्युत सब स्टेशन". मूल से 3 फ़रवरी 2017 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 4 मई 2017.
  5. "नयागांव विद्युत सबस्टेशन चार्ज, सोमवार से शुरू होगी बिजली की आपूर्ति".
  6. "सोनपुर विधानसभा क्षेत्र". मूल से 4 सितंबर 2017 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 3 सितंबर 2017.
  7. "Sonpur Election 2020: सोनपुर में राजद और भाजपा के बीच फिर होगा घमासान, पुराने खिलाडि़यों पर पार्टियों ने जताया भरोसा".
  8. "बिहार : शहर की नयी लाइफ लाइन होगी एम्स-दीघा एलिवेटेड कॉरिडोर". मूल से 6 नवंबर 2017 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 6 नवंबर 2017.
  9. "उत्तर वैदिक काल से शुरू हुआ था सोनपुर मेला". मूल से 26 मार्च 2017 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 26 मार्च 2017.
  10. "मुस्कान बिखेरती सोनपुर की सामुदायिक पुलिस". मूल से 1 अप्रैल 2017 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 1 अप्रैल 2017.
  11. "सोनपुर मेलाः चंद्रगुप्त मौर्य भी यहां से हाथी घोड़ा ख़रीदा करते". मूल से 29 नवंबर 2017 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 26 नवंबर 2017.
  12. "सोनपुर मेला: कभी क्लाइव ने बनवाया था अस्तबल, रेसकोर्स में दौड़ते थे अंग्रेजों के घोड़े". मूल से 2 नवंबर 2017 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 2 नवंबर 2017.
  13. "At the centuries-old Sonepur cattle fair, animals are no longer the main attraction". मूल से 13 नवंबर 2017 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 12 नवंबर 2017.
  14. "Tuskers bid adieu to Sonepur Mela". मूल से 13 नवंबर 2017 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 6 नवंबर 2017.
  15. "बिहार सोनपुर मेला : न हाथियों का मेला, न पक्षियों का बाजार, पर्यटक निराश, लौटे अपने वतन". मूल से 7 नवंबर 2017 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 7 नवंबर 2017.
  16. "बिहार: सोनपुर पशु मेले में अब तक सिर्फ 3 हाथी पहुंचे". मूल से 7 नवंबर 2017 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 6 नवंबर 2017.
  17. "सोनपुर मेला में भी मिलेगा राजस्व ग्रामों का डिजिटल मानचित्र". मूल से 10 नवंबर 2017 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 10 नवंबर 2017.
  18. "ऑटो एक्स्पो मेले का रूप लेता जा रहा सोनपुर मेला". मूल से 7 नवंबर 2017 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 6 नवंबर 2017.
  19. "अगर सोनपुर मेला घूम रहे हैं तो रेल ग्राम प्रदर्शनी जरूर देखें". मूल से 14 नवंबर 2017 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 14 नवंबर 2017.
  20. "सोनपुर मेले में शुरू हुई रेल ग्राम प्रदर्शनी". मूल से 7 नवंबर 2017 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 6 नवंबर 2017.
  21. "विदेशियों को भी भा रहा सोनपुर मेला, देखते ही बोल उठे- वंडरफुल!". मूल से 1 दिसंबर 2017 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 19 नवंबर 2017.
  22. "Foreign tourists line up for Sonepur fair Swiss cottages". मूल से 7 नवंबर 2017 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 1 नवंबर 2017.
  23. "सोनपुर मेला 4 नवंबर से, कॉटेज बुकिंग शुरू". मूल से 2 मार्च 2019 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 12 सितंबर 2017.
  24. "सोनपुर मेले में फाइव स्टार होटल जैसी सुविधाएं वाली स्विस कॉटेज, यूं करे बुक". मूल से 20 अक्तूबर 2017 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 20 अक्तूबर 2017.
  25. "Deputy CM to inaugurate Sonepur fair today". मूल से 23 दिसंबर 2017 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 2 नवंबर 2017.
  26. "इस बार 32 दिनों का होगा हरिहर क्षेत्र मेला". मूल से 25 अगस्त 2017 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 25 अगस्त 2017.
  27. "इस बार 32 दिनों का होगा हरिहर क्षेत्र सोनपुर मेला". मूल से 25 अगस्त 2017 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 25 अगस्त 2017.

बाहरी कड़ियाँसंपादित करें