मुख्य मेनू खोलें

इंग्लैण्ड रियासत में राजतंत्र की शुरुवात अल्फ्रेड महान और समाप्ति महारानी ऐन, ग्रेट ब्रिटेन की महारानी से हुई जब वो १७०७ में इंग्लैंड की राजशाही के स्कॉटलैंड की राजशाही से विलय के बाद बने ग्रेट ब्रिटेन राजशाही की महारानी बनीं। महारानी ऐन के बाद के शासकों के लिये देखें ब्रिटेन के शासक

नॉर्मन विजय के बाद अंग्रेज व ग्रेट ब्रिटेन के शासकों का वंश वृक्ष

हालांकि कुछ इतिहासकारा कुछ अन्य राजाओं को भी इंग्लैंड का पहला राजा मानने का तर्क देते हैं जो आंग्ल-सैक्सनों के राज्यों पर नियंत्रण रखने का माद्दा व चाहत रखते थे। उदाहरण के तौर पर, ओफ्फा, मर्सिया का राजा और वेसेक्स का राजा एग्बर्ट को कभी-२ प्रसिध लेखकों द्वारा इंग्लैंड के राजा के रूप में निरूपित किया जाता है। लेकिन हर इतिहासकार इससे सहमत भी नहीं हैं। आठवीं शताब्दी के पूर्वार्ध में ओफ़्फा ने दक्षिणी इंग्लैंड पर आधिपत्य हासिल कर अलिया था लेकिन ये राज ७९६ ई॰ में उसकी मृत्यु के पहले ही खत्म हो गया।८२९ ई॰ में एग्बर्ट ने मर्सिया पर अधिकार कर लिया लेकिन जल्द ही इसे गँवा भी दिया। नवीं शताब्दी के अंत तक वेसेक्स सबसे प्रभावशाली आंग्ल-सैक्सन साम्राज्य था। इसका राजा अल्फ्रेड महान पश्चिमी मर्सिया का एक शक्तिशाली सामंत था। वह अपने लिये आंग्ल और सैक्सनों का राजा की उपाधि का प्रयोग करता था लेकिन उसने कभी भी पूर्वी और उत्तरी इंग्लैंड पर शासन नहीं किया। उसके बेटे एडवर्ड द एल्डर ने पूर्वी डेनलॉ पर विजय हासिल की लेकिन एडवर्ड का बेटे ऍथेल्स्तन ९२७ ई में नॉर्थम्ब्रिया पर विजय हासिल करके पूरे इंग्लैंड पर शासन करने वाला पहला राजा बना। आधुनिक इतिहासकारों ऍथेल्स्तन को ही इंग्लैंड का पहला राजा मानते हैं।[1][2]

वेल्स की रियासत का इंग्लैंड के साम्राज्य में रुडलैन का स्टैचुएट के अंतर्गत १२८४ में विलय कर दिया गया और १३०१ में राजा एडवर्ड प्रथम ने अपने ज्येष्ठ पुत्र, भविष्य के राजा एडवर्ड द्वितीय को वेल्स का राजकुमार के तौर पर प्रतिष्ठित किया। तभी से एडवर्ड तृतीय के अलावा अंग्रेज अधीराटों के सभी बड़े बेटों ने यह पद हासिल किया है। १६०३ ई में एलिज़ाबेथ प्रथम की निसंतान मृत्यु के बाद इंग्लैंड और स्कॉटलैंड के सिंहासनों का स्कॉटलैंड का जेम्स ६ के शासन में एक निजी एकीकरण कर दिया गया। शाही ऐलान के साथ जेम्स ने स्वयं को ग्रेट ब्रिटेन का राजा घोषित कर दिया लेकिन ग्रेट ब्रिटेन जैसे किसी भी साम्राज्य का कानूनी तौर पर निर्माण १७०७ तक नहीं हुआ था। महारानी ऐन के शासन काल में १७०७ में हुए विलय के अधिनियमों के बाद इंग्लैंड कानूनी तौर पर स्कॉटलैंड के साथ जुड़ गया और इस तरह ग्रेट ब्रिटेन राजशाही का गठन हुआ। १८०१ में विलय के अधिनियम के तहत आयरलैंड राजशाही जो हेनरी द्वि॰ के समय से अंग्रेजी शासन के अधीन था ग्रेट ब्रिटेन और आयरलैंड का यूनाइटेड किंगडम में शामिल हो गया और १९२२ में आयरिश मुक्त राज्य के बनने तक इसका हिस्सा रहा। चूंकि उत्तरी आयरलैंड यूके के साथ रहा इसलिये इसके बाद से इस साम्राज्य को यूनाइटेड किंगडम ऑफ ग्रेट ब्रिटेन एंड नॉर्दर्न आयरलैंड के नाम से जानते हैं।

वेसेक्स राजघरानासंपादित करें

नाम चित्र जन्म शादी मृत्यु
अलफ्रेड महान
(Ælfrēd; Ælfrǣd)
871[3]–899[4]
  849
ऍथेलवुल्फ और ऑस्बुर्ह का पुत्र
ईल्ह्स्विथ
868
पाँच बच्चे
26 अक्टूबर 899
उम्र लगभग 50
एडवर्ड द एल्डर
Eadweard cyning
26 अक्टूबर 899–924
  c. 874–877
अलफ्रेड और ईल्हस्विथ का पुत्र
(1) एक्ग्विन
दो बच्चे
(2) ऍलफ्लैड
आठ बच्चे
(3) केंट की ऍडगिफु
चार बच्चे
17 जुलाई 924
उम्र लगभग 46–50

विवादित दावेदार

कुछ सबूत ९२४ ई॰ में अपने पिता और भाई ऍथेल्स्तन के शासन के बीच चार हफ्तों तक वेसेक्स के ऍल्फवीयर्ड (Ælfweard of Wessex के राजा होने की तरफ इशारा करते हैं। हालाँकि उसका राज्याभिषेक नहीं हुआ था। [5] वैसे सभी इतिहासकार इसे नहीं मानते हैं। यह भी विवादित है कि ऍल्फ्वियर्ड को पूरे इंग्लैंड का राजा घोषित किया गया था या सिर्फ वेसेक्स का: सबूतों के अनुसार जब अल्फ्रेड की मृत्यु हो गई तब ऍल्फवीयर्ड को वेसेक्स में और ऍथेल्स्तन को मर्सिया में राजा घोषित किया गया था।[6]

नाम चित्र जन्म शादी मृत्यु
ऍल्फवियर्ड
जुलाई–अगस्त
924[7]
c. 901[8]
एडवर्ड द एल्डर और ऍलफ्लैड का पुत्र[8]
अविवाहित?
नि:संतान
3 अगस्त 924[6]
उम्र लगभग 23
कब्र विनचेस्टर में[9]

नाम चित्र जन्म शादी मृत्यु
ऍथेल्स्तन
(Æþelstan)
924–939[10]
ऐंग्लो-सैक्सन्स का राजा 924–927
अंग्रेजों का राजा 927–939
  895
एडवर्ड द एल्डर और एक्ग्विन का पुत्र
अविवाहित[10] 27 अक्टूबर 939
उम्र लगभग 44[10]
एडमंड प्रथम
(Eadmund)
28 अक्टूबर
939–946[11]
  c. 921
एडवर्ड द एल्डर और केंट की ईडगिफु का पुत्र[11]
(1) शैफ्टेशबरी की आएल्फ्गिफु
दो बच्चे
(2) डैमरहैम की आएथलफ्लैड
निसंतान[12]
26 मई 946
पुकलचर्च
उम्र लगभग 25
(उपद्रव में हत्या)[11]
एडरेड
(एडरेड)
27 मई
946–955[13]
  c. 923
एडवर्ड द एल्डर और केंट की ऐडगिफु
अविवाहित 23 नवम्बर 955
फ्रोमे
उम्र लगभग 32[14]
एडविग
(एडविग)
24 नवम्बर
955–959[15]
  c. 940
एडमंड प्रथम और शैफ्टेशबरी की आएल्फ्गिफु का पुत्र[16]
ऍल्फ्गिफु[15] 1 अक्टूबर 959
उम्र लगभग 19[15]
शांतिदूत एडगर
(Eadgar)
2 अक्टूबर
959–975[17]
  c. 943
वेसेक्स
एडमंड प्रथम और शैफ्टेशबरी की आएल्फ्गिफु का पुत्र
(1)ऍथेलफ्लैड Æthelflæd
c. 960
१ बेटा
(2) ऍल्फथ्रिथ Ælfthryth
c. 964
२ बेटे
8 जुलाई 975
विन्चेस्टर
उम्र लगभग 32[18]
शहीद एडवर्ड
(Eadweard)
9 जुलाई
975–978[19]
  c. 962
शांतिदूत एडगर और ऍथेलफ्लैड का बेटा
अविवाहित 18 मार्च 978
कोर्फे का किला
उम्र लगभग 16
(हत्या)[19]
ऍथेलरेड द अनरेडी
(Æþelræd Unræd)
19 मार्च
978–1013 (पहला शासन)[20]
  c. 968
शांतिदूत एडगर और ऍल्फथ्रिथ
(1) यॉर्क की ऍल्फगिफु
991
नौ बच्चे
(2) नॉर्मैंडी की एम्मा
1002
तीन बच्चे[21]
23 अप्रैल 1016
लंदन
उम्र लगभग 48[20]

डेनमार्क राजघरानासंपादित करें

ऍथलरेड द अनरेडी के शासन के बाद इंग्लैंड डैनिश राजाओं के शासन में आ गया।

नाम चित्र जन्म शादी मृत्यु
स्वेयेन फोर्कबीयर्ड
(Svend Tveskæg)
25 दिसम्बर[22]
1013–1014[23]
  c. 960
डेनमार्क
हेराल्ड ब्लुटूथ और गाइरिड ओलैफ्स्दोतिर का पुत्र
(1) वेंडेन की गनहील्ड
c. 990
सात बच्चे
(2) सिगरिड द हॉटी
c. 1000
1 बेटी
3 फरवरी 1014
गेन्सबोरो
उम्र लगभग 54

वेसेक्स राजघराना (पहली बार पुन:स्थापित)संपादित करें

स्वेय्न फोर्कबीयर्ड की मृत्यु के बाद ऍथलरेड द अनरेडी एकांतवास से वापस आ गया और उसे एक बार फिर 3 फरवरी 1014 को राजा घोषित कर दिया गया। आंग्ल-सैक्सनों के शासन को एक बार उखाड़ फेंकने की डैनिश राजाओं की तमाम कोशिशों के बावजूद लंदन के नागरिकों के द्वारा चुने जाने पर उसके बेटे ने उसका उत्तराधिकार संभाला।[24]

नाम चित्र कुल-चिह्न जन्म विवाह मृत्यु दावा
ऍथलरेड द अनरेडी
(Æþelræd Unræd)
3 फरवरी
1014–1016 (दूसरा शासन)[20]
  c. 968
शांतिदूत एडगर और ऐल्फ्थ्रिथ का पुत्र
(1) ऐलगिफु
991
नौ बच्चे
(2) नौर्मैंडी की एम्मा
1002
तीन बच्चे[21]
23 अप्रैल 1016
लंदन
उम्र लगभग 48[20]
शांतिदूत एडगर का पुत्र
Eadmund Ironside
(Eadmund)
24 अप्रैल –
30 नवम्बर 1016[24]
  c. 990
ऍथलरेड द अनरेडी और यॉर्क की ऐल्फ्गिफु[24] का पुत्र
Edith of East Anglia
दो बच्चे[25]
30 नवम्बर 1016
ग्लैस्टनबरी
उम्र 26[24][25]
ऍथलरेड द अनरेडी का पुत्र

डेनमार्क राजघराना (पुन:स्थापित)संपादित करें

असुन्दन के निर्णायक युद्ध के बाद 18 अक्टूबर 1016 को एडमंड आइरनसाइड ने कैनुट से एक संधि पर हस्ताक्षर किये जिसमें वेसेक्स को छोड़कर पूरा इंग्लैंड कैनुट के द्वारा शासित होना था।[26] एडमंड की 30 नवम्बर को मृत्यु के बाद कैनुट ने पूरे साम्राज्य पर शासन किया।

नाम चित्र जन्म शादी मृत्यु
क्नट
(Knútr)
18 अक्टूबर 1016 –
12 नवम्बर 1035[27]
  c. 995
स्वेय्न फोर्कबीयर्ड और पोलैंड का गनहिल्डा का पुत्र[27]
(1) नॉर्थैम्पटनशायर की ऐल्फ्गिफु
दो बच्चे
(2) नॉर्मैंडी की एम्मा
1017[27]
दो बच्चे
12 नवम्बर 1035
शैफ्टेसबरी
उम्र लगभग 40[27]
हैरॉल्ड हेयरफुट
(Harald)
13 नवम्बर 1035 –
17 मार्च 1040[28]
  c. 1016/7
क्नट और नॉर्थैम्पटन की ऐल्फ्गिफु का पुत्र [28]
ऍल्फ्गिफु?
1 बेटा?[29]
17 मार्च 1040
ऑक्सफोर्ड
उम्र लगभग 23 or 24[28]
हार्थैक्नट
(Hardeknud)
17 मार्च 1040 –
8 जून 1042[30]
  1018
क्नट और नॉर्मैंडी की एम्मा का पुत्र[31]
अविवाहित 8 जून 1042
लैम्बेथ
उम्र लगभग 24

वेसेक्स राजघराना (पुन:स्थापित, दूसरी बार)संपादित करें

After Harthacanute, there was a brief Saxon Restoration between 1042 and 1066.

Name Portrait Birth Marriages Children Death
पापमोचक गुरू एडवर्ड
(Eadweard)
9 जून
1042 – 1066
  c. 1002
ईस्लिप, ऑक्स्फोर्डशायर
ऍथलरेड द अनरेडी और नौर्मैंडी की एम्मा का पुत्र
वेसेक्स की एडिथ
23 जनवरी 1045
कोई नहीं 5 जनवरी 1066
पैलेस ऑफ़ वेस्टमिन्स्टर
उम्र 64
हॅरल्ड द्वितीय
(Harold Godƿinson)
6 जनवरी – 14 अक्टूबर 1066
  c. 1022
गॉडविन, वेसेक्स का अर्ल और गाईथा थोर्केलस्दोतिर का पुत्र
एड्विथ स्वान्नेशा गॉडवाइन, एडमंड, मैग्नस, गनहिल्ड, गाईथा 14 अक्टूबर 1066
Hastings
उम्र 44
(Died in battle)
ईल्डगिथ
c. 1064
हैरॉल्ड, उल्फ
एड्गर द एथलिंग
(Eadgar Æþeling)
15 अक्टूबर – 17 दिसम्बर 1066
Proclaimed, but never crowned[32]
100px c. 1053
हंगरी
Edward the Exile और Agatha का पुत्र
अविवाहित कोई नहीं c. 1126
उम्र लगभग 73[32]

नॉर्मैंडी राजघरानासंपादित करें

सन् १०६६ में रोल्लो के वंशज, नॉर्मैंडी के ड्यूक और नॉर्मैंडी राजघराने के संस्थापक, फ्रांस के राजा के अधीन जागीदार और पापमोचक गुरू एडवर्ड के संबंधी विलियम प्रथम ने इंग्लैंड पर धावा बोला और जीत लिया और निवर्तमान राजधानी विन्चेस्टर से हटाकर लंदन में कर दी। राजा हैरॉल्ड द्वितीय की मृत्यु के बाद हुए एक निर्णायक हैस्टिंग युद्ध ने 14 अक्टूबर को आंग्ल-सैक्सन विट्नैगेमोट ने हैरॉल्ड के स्थान पर एड्गर द एथलिंग को राजा चुना लेकिन एडगर कभी भी शासन की रक्षा नहीं कर पाया और उसका राज्याभिषेक भी नहीं हुआ। १०६६ में क्रिसमस के दिन वेस्टमिंस्टर ऐबी में विलियम का इंग्लैंड के राजा विलियम प्रथम के रूप में राज्याभिषेक किया गया। विलियम को आज के युग में विलियम द कॉनकरर यानि "विजयी विलियम" या विलियम प्रथम या विलियम द बास्टर्ड यानि "विलियम हरामी" के नाम से भी जाना जाता है।

नाम चित्र कुल-चिह्न जन्म विवाह मृत्यु
विलियम प्रथम
William the Bastard
William the Conqueror
(Guillaume le Bâtard)
(Guillaume le Conquérant)

25 दिसम्बर
1066–1087
  c. 1028
फलाइज़े का किला
रॉबर्ट प्रथम, नॉर्मैंडी का ड्यूक और हेर्लेवा का पुत्र
फ्लैंडर्स की मटिल्डा
नोत्रे डेम किला का प्रार्थनाघर, नॉर्मैंडी
1053
दस बच्चे
9 सितम्बर 1087
रूवेन
उम्र 59 (घुड़सवारी के दौरान चोट लगने से) काएन के सेंट एटिने मठ (ऐबी ऑक्स होम्स) में कब्र
संभवत: पापमोचक गुरू एडवर्ड द्वारा 1052 में राजा घोषित हुआ था।
(वस्तुत: नॉर्मन विजय के परिणामस्वरूप)
विलियम २
William Rufus
(Guillaume le Roux)

26 सितम्बर
1087–1100
  c. 1058
नॉर्मैंडी
विलियम विजयी और फ्लैंडर्स की मटिल्डा का पुत्र
अविवाहित 2 अगस्त 1100
न्यू फॉरेस्ट
उम्र 42 जब तीर से मारा गया
विलियम प्रथम का पुत्र
(नियुक्ति)
हेनरी प्रथम
Henry Beauclerc
(Henri Beauclerc)

5 अगस्त
1100–1135
  सितम्बर 1068
सेल्बी
विलियम विजयी और फ्लैंडर्स की मटिल्डा का पुत्र
(1) स्कॉटलैंड की एडिथ
वेस्टमिंस्टर ऐबी
11 नवम्बर 1100
चार बच्चे
(2) लुवैन की एडेलिज़ा
विंडसर किला
29 जनवरी 1121
निसंतान
1 दिसम्बर 1135
ल्योंस-ला-फ़ोर्ट का किला (संत-डेनिस-एन-ल्योन्स)
उम्र 67 संभवत: विषाक्त भोजन से। रीडिंग ऐबी में कब्र
विलियम प्रथम का पुत्र
(सिंहासन पर अधिग्रहण)

ब्लोइस राजघरानासंपादित करें

नाम चित्र कुल-चिह्न जन्म विवाह मृत्यु दावा
स्टीफन
ब्लोइस का स्टीफन
(Estienne de Blois)

22 दिसम्बर
1135–1154[33]
  c. 1096
ब्लोईस
स्टीफन, ब्लोईस का काउंट, और नॉर्मैंडी की अडेला का पुत्र
बोलोग्न की मटिल्डा
वेस्टमिंस्टर
1125
पाँच बच्चे
25 अक्टूबर 1154
डोवर किला
उम्र लगभग 58
विलियम प्रथम का पोता
(नियुक्ति)

विवादित दावेदार

साम्राज्ञी मटिल्डा को उनके भाई व्हाइट शिप की मृत्यु के बाद अपने पिता हेनरी प्रथम द्वारा अपना उत्तराधिकारी घोषित किया गया। हालांकि हेनरी की मृत्यु के बाद सिहांसन पर मटिल्डा के चचेरे भाई, ब्लोइस के स्टीफन ने कब्ज़ा कर लिया। परिणामस्वरूप देश में अराजकता फैल गई और ११४१ में कुछ महीनों के लिये मटिल्डा ही देश की वास्तविक और पहली महिला शासक रहीं लेकिन चूंकि कभी भी उनका राज्याभिषेक नहीं हो पाया इसलिये उन्हें इंग्लैंड के सम्राटों में नहीं गिना जाता है।[34]

नाम चित्र कुल-चिह्न जन्म विवाह मृत्यु दावा
मटिल्डा
Empress Matilda
(Mathilde l'emperesse)

7 अप्रैल 1141–
1 नवम्बर 1141
शासन विवादित
  7 फरवरी 1102
सुट्टन कोर्टनी
हेनरी १ और स्कॉटलैंड की एडिथ की बेटी[35]
(1) हेनरी पंचम
मैंज़
6 जनवरी 1114
निसंतान
(2) ज्यॉफ्री पंचम
ले मैन्स कैथेड्रल
22 मई 1128
तीन बच्चे
10 सितम्बर 1167
रूएन में नोत्रे डेम डु प्री
उम्र 65
हेनरी प्रथम की बेटी
(सत्ता पर कब्जा)

बोलोग्न का काउंट युस्टेस चतुर्थ (c. 1130 – 17 अगस्त 1153) को पिता स्टीफन द्वारा ६ अप्रैल ११५२ को इंग्लैंड का सह-राजा नियुक्त किया गया। स्टीफन इंग्लैंड पर युस्टेस का उत्तराधिकार सुनिश्चित करना चाहता था। हालांकि पोप और गिरिजाघर इससे एकमत नहीं थे और युस्टेस का राज्याभिषेक नहीं हुआ। युस्टेस अपने पिता के शासनकाल के दौरान ही २२ वर्ष की उम्र में ही मर गया और कभी भी इंग्लैंड का राजा नहीं बन पाया।[36]

ऐंजो राजघरानासंपादित करें

वैलिंगफोर्ड की संधि से स्टीफन ने नवम्बर 1153 में मटिल्डा के साथ एक करार किय जिसमें उसने मटिल्डा के पुत्र हेनरी २, इंग्लैंड का राजा। को अपने अगस्त में दिवंगत हुए अपने पुत्र के स्थान पर सिंहासन का उत्तराधिकारी स्वीकार कर लिया।

ऐंगेवियनों ने ऐंगेवियन साम्राज्य पर बारहवीं और तेरहवीं शताब्दी में राज किया था। यह साम्राज्य पाइरेनीज़ से आयरलैंड तक फैला हुआ था। इंग्लैंड के राजा जॉन के हाथों अपनी अधिकतर महाद्वीपीय जमीनी ताकत गंवाने से पहले तक ऐंगेवियाई इंग्लैंड को अपना प्राथमिक आवास नहीं मानते थे। ऐंगेवियाई राजवंश ज्यादा दिनों तक तो नहीं चला लेकिन हालांकि इनके पुरुष वंशजों में प्लैन्टैगेनेट का राजघराना, लंकास्टर और यॉर्क राजघराने शामिल थे।

एंग्वियाईयों ने इंग्लैंड के उस शाही कुल-चिह्न की आधारशिला रखी जिनमें इनके या इनके वंशजों द्वारा विजित या दावेदारी किये हुए साम्राज्यों (आयरलैंड के अलावा) के चिह्न शामिल होते थे। एडवर्ड तृतीय के अपनाए जाने के बाद से डेउ एट मोन ड्रोएट अंग्रेज शासकों का ध्येय वाक्य होता था,[37] लेकिन इसे पहली बार रिचर्ड प्रथम ११९८ ई. में सिंहनाद के रूप में गिसोर्स के युद्ध में तब इस्तेमाल किया गया था जब उसने फिलिप २ की सेनाओं को हरा दिया। इसके बाद से उसने इसे अपना ध्येय वाक्य बना लिया।[37][38]

नाम चित्र कुल-चिह्न जन्म विवाह मृत्यु दावा
हेनरी २
Henry Curtmantle
(Henri Court-manteau)

19 दिसम्बर
1154–1189
    5 मार्च 1133
ले मैन्स
ऐंजू का ज्यॉफ्री पंचम और मटिल्डा, (हेनरी प्रथम की बेटी) का पुत्र
ऐक्विटेन की एलेनोर
बोर्डियुक्स कैथेड्रल
18 मई 1152
आठ बच्चे
6 जुलाई 1189
चिनॉन
उम्र 56, फोन्टेवरॉड ऐबी में कब्र
हेनरी प्रथम का नाती
(वैलिंगफोर्ड की संधि)
युवा हेनरी
(Henri le Jeune Roy)
(अपने पिता के साथ सह-शासक)
14 जून
1170–1183
    28 फरवरी 1155

हेनरी २ और ऐक्विटेन की एलेनोर का पुत्र

फ्रांस की मार्गरेट
विनचेस्टर कैथेड्रल
27 अगस्त 1172
एक बच्चा
11 जून 1183
मार्टेल, लिमोगेस
उम्र 28. रूवेन कैथेड्रल (नोत्रे-डेम) में कब्र
हेनरी द्वितीय का पुत्र
(कनिष्ठ राजा के रूप में राज्याभिषेक)
रिचर्ड प्रथम
Richard the Lionheart
(Richard Cœur de Lion)

3 सितम्बर
1189–1199
    8 सितम्बर 1157
बिउमोंट महल
हेनरी २ और ऐक्विटेन की एलेनोर का पुत्र
नवारे की बेरेनगारिया
लिमैसॉल
12 मई 1191
निसंतान
6 अप्रैल 1199
चैलुस का किला
उम्र 41, कंधे पर तीर से लगे एक घाव से। कब्र: दिल रूवेन कैथेड्रल में व शरीर फोन्टेवरॉड मठ में
हेनरी द्वितीय का पुत्र
(ज्येष्ठाधिकार)
राजा जॉन
Lackland
(Jean sans Terre)

27 मई
1199–1216
    24 दिसम्बर 1166
बिउमोंट महल
हेनरी द्वितीय और ऐक्विटेन की एलेनोर का बेटा
(1) ग्लूसेस्टर की इसाबेल
मार्लबोरो किला
29 अगस्त 1189
निसंतान

(2) ऐंगोलेम की इसाबेल
बोर्डियुक्स कैथेड्रल
24 अगस्त 1200
पाँच बच्चे

19 अक्टूबर 1216
नेवार्क ऑन ट्रेंट
उम्र 49, संभवत: विषाक्त भोजन से। वोर्सेस्टर कैथेड्रल में कब्र
रिचर्ड प्रथम का भाई
(नियुक्ति)

विवादित दावेदार

फ्राँस के लुईस अष्टम ने इंग्लैंड पर 1216 से 1217 तक राजा जॉन के खिलाफ़ लड़े गये बैरों के प्रथम युद्ध के बाद कुछ समय तक शासन किया। लंदन की ओर जाते हुए उसका विद्रोही अंग्रेज बैरों और नागरिकों द्वारा स्वागत किया गया और सेंट पॉल कैथेड्रल में राजा घोषित किया गया। हालांकि उसका राज्याभिषेक नहीं हुआ था। कई कुलीन लोग जिनमें स्कॉटलैंड के राजा एलेक्ज़ेंडर द्वितीय भी थे ने सिंहासन पर काबिज होने के इस समारोह में उसे आदर देने के लिये उपस्थित थे। हालांकि १२७७ ई॰ में लैम्बेथ की संधि पर हस्ताक्षर करने के बाद उसने यह मान लिया की वो कभी भी इंग्लैंड का जायज़ राजा नहीं था।

नाम चित्र कुल-चिह्न जन्म विवाह मृत्यु दावा
लुईस
The Lion
1216–
22 सितम्बर 1217
उपाधि विवादित
    5 सितम्बर 1187
पेरिस
फिलिप २ और हाइनॉल्ट की इसाबेल का पुत्र
ब्लैंके ऑफ कैस्टिले
पोर्टमोंट
23 मई 1200
तेरह बच्चे
8 नवम्बर 1226
मोन्टपेन्सियर
उम्र 39
युद्ध में विजेता

प्लैन्टागेनेट का राजघरानासंपादित करें

प्लैन्टागेनेट का राजघराने की शुरुवात इंग्लैंड के हेनरी द्वितीय के शासनकाल से हुई थी। हालांकि कुछ इतिहासकार प्लैन्टागेनेटों को हेनरी तृतीय के समय से मानते हैं जब इन शासकों के व्यवहार में और अंग्रेजियत आ गई थी। लकांस्टर और यॉर्क के राजघराने इसी की शाखाएँ हैं।

नाम चित्र कुल-चिह्न जन्म विवाह मृत्यु दावा
हेनरी ३
Henry of Winchester
28 अक्टूबर
1216–1272
    1 अक्टूबर 1207
विनचेस्टर का किला
का पुत्र राजा जॉन और एंग्युलेम की ईसाबेल
प्रोवेन्स का एलेनोर
कैन्टरबरी कैथेड्रल
14 जनवरी 1236
पाँच बच्चे
16 नवम्बर 1272
वेस्टमिंस्टर का महल
उम्र 65
राजा जॉन का पुत्र
(ज्येष्ठाधिकार)
एडवर्ड १
लॉंगशैन्क्स
20 नवम्बर
1272–1307
    17 जून 1239
वेस्टमिंस्टर का महल
हेनरी ३ और प्रोवेंस की एलेनॉर का पुत्र
(1) कैस्टिले की एलानोर
संता मारिया ला रीयल डे ह्युलेगस का मठ
18 अक्टूबर 1254
16 बच्चे

(2) फ्राँस की मार्गरेट
10 सितम्बर 1299
तीन बच्चे

7 जुलाई 1307
सैन्ड्स का बुर्ग
उम्र 68
हेनरी ३ का पुत्र
(ज्येष्ठाधिकार)
एडवर्ड २
कैर्नैर्फोर्न का एडवर्ड
7 जुलाई 1307 –
25 जनवरी 1327
    25 अप्रैल 1284
कैर्नरिफोन का किला
एडवर्ड १ और कैस्टिले की एलानॉर का पुत्र
फ्राँस की ईसाबेल
बोलोग्न कैथेड्रल
25 जनवरी 1308
पाँच बच्चे
21 सितम्बर 1327
बर्कले का किला
उम्र 43 (हत्या)[39]
एडवर्ड १ का पुत्र
(ज्येष्ठाधिकार)
एडवर्ड ३
25 जनवरी
1327–1377
    13 नवम्बर 1312
विंडसर किला
एडवर्ड २ और फ्राँस की ईसाबेल का पुत्र
हैनॉल्ट की फिलिपिया
यॉर्क मिन्स्टर
24 जनवरी 1328
14 बच्चे
21 जून 1377
शीन महल
उम्र 64
एडवर्ड द्वितीय का पुत्र
(ज्येष्ठाधिकार)
रिचर्ड द्वितीय
21 जून 1377 –
29 सितम्बर 1399
    6 जनवरी 1367
बोर्डियुक्स
का पुत्र एडवर्ड, काला राजकुमार और केम्ट की जोन
(1) बोहेमिया की ऐन
14 जनवरी 1382
निसंतान

(2) वैलोईस की ईसाबेल
कैलाइस
4 नवम्बर 1396
निसंतान

14 फरवरी 1400
पोंटेफ्रैक्ट किला
उम्र 33 (संभवत: भूख से)
एडवर्ड तृतीय का पोता
(ज्येष्ठाधिकार)

लंकास्टर राजघरानासंपादित करें

यह राजघराना एडवर्ड तृतीय के बचे हुए पुत्र गांट का जॉन, लंकास्टर का पहला ड्यूक से शुरु होता है। हेनरी चतुर्थ ने रिचर्ड द्वितीय से सत्ता छीन ली और उत्तराधिकार की पंक्ति में अगले एडमंड मोर्तीमर (उम्र ७) जो एडवर्ड तृतीय के दूसरे पुत्र एंटवर्प के लियोनेल का वंशज था को हटा दिया।

नाम चित्र कुल-चिह्न जन्म विवाह मृत्यु दावेदारी
हेनरी चतुर्थ
बोलिंगब्रोक
30 सितम्बर
1399–1413
    3 अप्रैल 1366/7
बोलिंगब्रोक किला
गांट का जॉन और लंकास्टर का ब्लैंके का पुत्र
(1) मैरी डे बोहुन
अरुन्डेल का किला
27 जुलाई 1380
सात बच्चे

(2) नवारे की जोआन
विनचेस्टर कैथेड्रल
7 फरवरी 1403
निसंतान

20 मार्च 1413
वेस्टमिंस्टर ऐबी
उम्र 45 या 46[40]
एडवर्ड तृतीय का पोता और पुरुष उत्तराधिकारी।
हेनरी पंचम
The Star of England
20 मार्च
1413–1422
    16 सितम्बर 1386 or 1387[41]
मोनमाउथ किला
हेनरी चतुर्थ और मैरी डे बोहुन का पुत्र
वैलोईस की कैथरीन
ट्रोयेस कैथेड्रल
2 जून 1420
एक पुत्र
31 अगस्त 1422
चैटेउ डी विन्सेनस
उम्र 34–35
हेनरी चतुर्थ का पुत्र
(ज्येष्ठाधिकार)
हेनरी ६
31 अगस्त 1422 – 4 मार्च 1461
    6 दिसम्बर 1421
विंडसर किला
हेनरी पंचम और वैलोईस की कैथरीन का पुत्र
ऐंजोउ की मार्गरेट
टिचफील्ड ऐबी
22 अप्रैल 1445
एक पुत्र
21 मई 1471
लंदन टॉवर
उम्र 49
हेनरी पंचम का पुत्र
(ज्येष्ठाधिकार)

यॉर्क राजघरानासंपादित करें

यॉर्क राजघराने ने अपना नाम एडवर्ड तृतीय के जीवित बचे हुए पुत्र लैंग्ले का एडमंड, यॉर्क का पहला ड्यूक से लिया था, लेकिन उसे सिंहासन पर उत्तराधिकार एडवर्ड तृतीय के दूसरे जीवित बचे हुए पुत्र लॉयनेल से मिला।

गुलाबों के युद्ध (1455–1485) से सिंहासन लंकास्टर और यॉर्क राजघरानों के बीचा आता जाता रहा।

नाम चित्र कुल-चिह्न जन्म विवाह मृत्यु दावेदारी
एडवर्ड चतुर्थ
4 मार्च 1461 – 2 अक्टूबर 1470
    28 अप्रैल 1442
रोयेन
रिचर्ड प्लैंटैगेनेट, यॉर्क का तीसरा ड्यूक, और सिसीली नेविले
एलिज़ाबेथ वुडविले
ग्रैफ्टन रेगिस
1 मई 1464
दस बच्चे
9 अप्रैल 1483
वेस्टमिंस्टर का महल
उम्र 40
एडवर्ड तृतीय का पड़पोता
(सिंहासन छीनकर/cognatic primogeniture)

लंकास्टर राजघराना (पुन:स्थापित)संपादित करें

नाम चित्र कुल-चिह्न जन्म विवाह मृत्यु दावेदारी
हेनरी ६
30 अक्टूबर 1470 – 11 अप्रैल 1471
    6 दिसंबर 1421
विंडसर किला
हेनरी पंचम और वैलोइस की कैथरीन का बेटा
ऐंजो की मार्गरेटटिचफील्ड ऐबी
22 अप्रैल 1445
एक बेटा
21 मई 1471
लंदन टॉवर
उम्र 49

(यॉर्क भाईयों द्वारा हत्या).

हेनरी पंचम का बेटा
(सिंहासन पर कब्जा)

यॉर्क राजघराना (पुन:स्थापित)संपादित करें

नाम चित्र कुल चिह्न जन्म विवाह मृत्यु दावेदारी
एडवर्ड चतुर्थ
(दूसरा शासन)
11 अप्रैल 1471 – 9 अप्रैल 1483
    28 अप्रैल 1442
रोयेन
रिचर्ड प्लैंटैगेनेट, और सिसीली नेविले का बेटा
एलिज़ाबेथ वुडविले
ग्रैफ्टन रेगिस
1 मई 1464
दस बच्चे
9 अप्रैल 1483
वेस्टमिंस्टर का महल
उम्र 40
एडवर्ड ३ के पड़पोते और प्रत्यक्ष सेनाध्यक्ष
(सिंहासन पर कब्जा/cognatic primogeniture)
एडवर्ड पंचम
9 अप्रैल – 25 जून 1483[42]
    2 नवंबर 1470
वेस्टमिंस्टर
एडवर्ड चतुर्थ और एलिज़ाबेथ वुडविले का बेटा[42]
अविवाहित c. 1483
लंदन
उम्र 12
एडवर्ड चतुर्थ का पुत्र
(अनुवांशिक ज्येष्ठाधिकार)
रिचर्ड तृतीय
26 जून
1483–1485[43]
    2 अक्टूबर 1452
फोथरिंघे किला
रिचर्ड प्लैंटैगेनेट और सिसीली नेविले का बेटा
ऐन नेविले
वेस्टमिंस्टर ऐबी
12 जुलाई 1472
एक बेटा
22 अगस्त 1485
बोसवर्थ फील्ड
उम्र 32 (युद्ध में शहीद)। 26 मार्च 2015 को लीसेश्टर कैथेड्रल में पुन:दफनाए गये।
एडवर्ड ३ का पड़पोता
(टिटुलस रेगिअस);
एडवर्ड चतुर्थ का भाई

ट्यूडर राजवंशसंपादित करें

ट्यूडर वंश, माँ के घर की ओर से जॉन बेउफोर्ट के वंशज थे जो कि एडवर्ड तृतीय के तीसरे बचे हुए बेटे गौंट के जॉन की एक नाजायज़ संतान था। उसकी माँ कैथरीन स्विनफोर्ड, गौंट की लंबे समय तक सेविका रही थीं। सामान्यत: अंग्रेज शासकों या उत्तराधिकारियों की नाजायज़ संतानों के वंशजों का अंग्रेजी सिंहासन पर कोई दावा नहीं हो सकता था। लेकिन यह परिस्थिति तब विकट हो गई जब गौंट और कैथरीन ने जॉन बेउफोर्ट के जन्म के पच्चीस साल बाद १३९६ ई॰ में शादी कर ली। इस विवाह के मद्देनज़र शीर्ष गिरिजाघर ने बेउफोर्ट को जायज़ घोषित कर दिया। उस समय गौंट के जॉन के जायज़ बेटे और उत्तराधिकारी राजा हेनरी चतुर्थ ने भी बेउफोर्ट को जायज़ स्वीकार कर लिया, लेकिन उसे या उसके वंशजों को सिंहासन पर उत्तराधिकार से वंचित घोषित किया। इस के बावजूद, बेउफोर्ट और उसके वंशज गौंट के अन्य वंशजों यानि शाही लंकास्टरों के करीबी रहे।

जॉन बेउफोर्ट की पोती लेडी मार्गरेट बेउफोर्ट का विवाह एडमंड ट्यूडर से हुआ। ट्यूडर वेल्स दरबारी ओवैन ट्यूडर और लंकास्ट्रियाई राजा हेनरी पंचम की विधवा वैलोईस की कैथरीन का बेटा था। एडमंड ट्यूडर या तो नाज़ायज थे या तो फिर किसी गुप्त विवाह के परिणामस्वरूप उतपन्न हुए थे। उनका भाग्य उनके जायज सौतेले भाई इंग्लैंड के राजा हेनरी षष्टम के उनके प्रति व्यवहार पर निर्भर था। जब लंकास्टर राजघराना सत्ता से बाहर हो गया तो ट्यूडरों ने सिंहासन संभाल लिया। पंद्रहवीं सदी के अंत तक लंकास्टर समर्थकों के लिये ट्यूडर अंतिम उम्मीद थे। गुलाबों के युद्ध का १४८५ ई॰ अंत करते हुए बोस्वोर्थ फील्ड के युद्ध में रिचर्ड तृतीय को हराने के बाद एडमंड ट्यूडर का बेटा हेनरी सप्तम इंग्लैंड का राजा बना। नए राजा, हेनरी ने एडवर्ड चतुर्थ की बेटी यॉर्क की एलिज़ाबेथ से विवाह कर के लंकास्टरों और यॉर्कों के वंशवृक्ष को मिला दिया और ट्यूडर राजवंश की नींव पड़ी।

हेनरी अष्टम के रोमन कैथोलिक गिरिजाघर से अलगाव के बाद इंग्लैंड का सम्राट आयरलैंड और इंग्लैंड के गिरिजाघर का सुप्रीम हेड हो गया। एलिज़ाबेथ प्रथम के समय से इस पद को इंग्लैंड के गिरिजाघर का सुप्रीम गवर्नर कहा जाने लगा।

नाम चित्र कुल-चिह्न जन्म विवाह मृत्यु दावा
हेनरी सप्तम
22 अगस्त
1485–1509
    28 जनवरी 1457
पेमब्रोक का महल

एडमंड ट्यूडर और लेडी मार्गरेट ब्युफोर्ट का बेटा

यॉर्क की एलिज़ाबेथ
वेस्टमिंस्टर ऐबी
18 जनवरी 1486
आठ बच्चे
21 अप्रैल 1509
रिचमंड महल
उम्र 52
एडवर्ड तृतीय का वंशज
(युद्ध जीतकर)
हेनरी अष्टम
21 अप्रैल
1509–1547
    28 जून 1491
ग्रीनविच महल
हेनरी सप्तम और यॉर्क की एलिज़ाबेथ का पुत्र
एरागॉन की कैथरीन
ग्रीनविच
11 जून 1509
एक बेटी
28 जनवरी 1547
व्हाइटहॉल महल
उम्र 55
हेनरी सप्तम का पुत्र
(ज्येष्ठाधिकार)
ऐनी बोलिन
वेस्टमिंस्टर का महल
25 जनवरी 1533[44]
एक बेटी
जेन सीमोर
व्हाइटहॉल महल
30 मई 1536
एक बेटा
क्लीव्स की ऐन
ग्रीनविच महल
6 जनवरी 1540
कैथरीन हॉवर्ड
हैम्पटन कोर्ट महल
28 जुलाई 1540
कथरीन पार
हैम्पटन कोर्ट महल
12 जुलाई 1543
एडवर्ड ६
28 जनवरी
1547–1553
    12 अक्टूबर 1537
हैम्पटन कोर्ट महल
हेनरी ८ और जेन सीमोर के पुत्र
अविवाहित 6 जुलाई 1553
ग्रीनविच महल
उम्र 15
हेनरी ८ का पुत्र
(ज्येष्ठाधिकार)

विवादित दावेदार

संसद द्वारा पारित तीसरा उत्तराधिकार कानून अमान्य करते हुए एडवर्ड VI ने लेडी जेन ग्रे को अपना प्रकल्पित उत्तराधिकारी घोषित कर दिया था। उसने संसद द्वारा पारित तीसरा उत्तराधिकार कानून अमान्य कर दिया। एडवर्ड की मृत्यु के चार दिन बाद 6 जुलाई 1553 को जेन को रानी घोषित कर दिया गया लेकिन इस घोषणा के नौ दिन बाद ही, 19 जुलाई को परामर्श समिति ने अपनी वफादारी बदलते हुए एडवर्ड की सौतेली बहन कैथोलिक विचारधारा वाली मैरी को रानी घोषित कर दिया। जेन को १६ वर्ष की उम्र में ही सन् १५५४ में मृत्युदंड दे दिया गया। कई इतिहासकार उसे इंग्लैंड की जायज़ रानी या शासक नहीं मानते हैं।

नाम चित्र कुल-चिह्न जन्म विवाह मृत्यु दावा
जेन
10–19 जुलाई 1553
दावा विवादित
    अक्टूबर 1537
ब्रैडगेट पार्क
हेनरी ग्रे, सफॉक के पहले ड्यूक और लेडी फ्रांसिस ब्रैन्डन की बेटी
लॉर्ड गिल्डफोर्ड डुडली
द स्ट्रैंड
21 मई 1553
निसंतान[45]
12 फरवरी 1554
लंदन टॉवर
उम्र 16 (सिर क़लम)
हेनरी सप्तम की पड़पोती
(एडवर्ड का वसीयतनामा)

नाम चित्र कुल-चिह्न जन्म विवाह मृत्यु दावा
मैरी १
19 जुलाई
1553–1558
    18 फरवरी 1516
ग्रीनविच महल
हेनरी अष्टम और एरागॉन की कैथरीन की बेटी
फ़िलिप २
विनचेस्टर कैथेड्रल
25 जुलाई 1554
नि:संतान
17 नवम्बर 1558
सेंट जेम्स का महल
उम्र 42
हेनरी अष्टम की बेटी
(तीसरा उत्तराधिकार कानून)
फ़िलिप[46]
25 जुलाई 1554 –
17 नवम्बर 1558
(ज्यूर अक्सोरिस)
    21 May 1527
वैलाडोलिड, स्पेन
चार्ल्स पंचम, पवित्र रोमन सम्राट, और पुर्तगाल की इसाबेल के पुत्र
(2) मैरी १, इंग्लैंड की रानी
विनचेस्टर कैथेड्रल
25 जुलाई 1554
नि:संतान
तीन अन्य शादियाँ
और सात बच्चे
13 सितम्बर 1598
एल एस्कोरियल, स्पेन
उम्र 71
मैरी प्रथम के पति
(रानी मैरी के स्पेन के फिलिप के साथ विवाह का कानून)

नेपल्स का फ़िलिप I (15 जनवरी 1556 से फ्रांस के फ़िलिप द्वितीय) और रानी मैरी प्रथम की विवाह संधि के अनुसार जब तक दोनों विवाहित रहते, फ़िलिप को रानी की सभी उपाधियाँ साझा रूप से मिलनी थीं। संसद के कानूनों सहित सभी शाही दस्तावेज उन दोनों के नाम के साथ लिखे व हस्ताक्षरित होने थे। साथ ही संसद पर दोनों का एकसमान अधिकार होना था। संसद में पारित एक कानून ने उसे राजा की उपाधि दी और उसे साम्राज्य में रानी के साथ-साथ सह-शासन करने की अनुमति दी। [47][48] चूंकि इंग्लैंड के नए राजा अंग्रेजी नहीं पढ सकते थे इसलिये सभी आधिकारिक दस्तावेजों की एक लैटिन या फ्रेंच प्रति बनाने की व्यवस्था की गई।[48][49][50] राजमुद्रा के सिक्कों पर मैरी और फिलिप दोनों के सिर मुद्रित किये गये और दोनों का सह-शासन प्रदर्षित करने के लिये इंग्लैंड के कुल चिह्न पर दाहिनी तरफ फ़िलिप का कुल चिह्न मुद्रित किया गया।[51][52] इंग्लैंड और आयरलैंड में फ़िलिप के शाही अधिकारों को चुनौती देने वाले किसी भी कार्य को उच्चतम देशद्रोह का दर्ज़ा देने वाला कानून पारित कर दिया गया।[53] 1555 में, पोप पॉल चतुर्थ ने एक पैपल बुल (विज्ञप्ति) जारी करके फिलिप और मैरी को इंग्लैंड व आयरलैंड का जायज़ शासक घोषित कर दिया।

नाम चित्र कुल-चिह्न जन्म विवाह मृत्यु दावा
एलिज़ाबेथ प्रथम
17 नवम्बर
1558–1603
    7 सितम्बर 1533
ग्रीनविच महल
हेनरी ८ और एन बोलिन की बेटी
अविवाहित 24 मार्च 1603
रिचमंड महल
उम्र 69
हेनरी अष्टम की पुत्री
(तीसरा उत्तराधिकार कानून)

स्टुअर्ट राजघरानासंपादित करें

१६०३ में एलिज़ाबेथ प्रथम के नि:संतान मृत्यु होने के बाद उनके रिश्ते के भाई व स्कॉटों के राजा जेम्स ६ ने मुकुटों की संधि के उपरान्त इंग्लैंड के जेम्स प्रथम ले रूप में अंग्रेजी सिंहासन की कमान संभाली। जेम्स ट्यूडरों के वंशज थे। हेनरी ८ की बड़ी बहन मार्गरेट ट्यूडर उनकी पर-नानी (नानी की सास) थीं। १६०४ में उन्होंने [King of Great Britain] ग्रेट ब्रिटेन का राजा नामक उपाधि धारण कर ली। हालांकि १७०७ में विलय का कानून पारित होने तक दोनों संसदें अलग -अलग कार्य करती रहीं।[54]

नाम चित्र कुल-चिह्न जन्म विवाह मृत्यु दावा
जेम्स प्रथम
24 मार्च
1603–1625
    19 जून 1566
एडिनबर्ग किला
का पुत्र हेनरी स्टुअर्ट, लॉर्ड डार्न्ले, and स्कॉटों की रानी मैरी
डेनमार्क की ऐन
ओस्लो
23 नवम्बर 1589
७ बच्चे
27 मार्च 1625
थिओबाल्ड्स घराना
उम्र 58
हेनरी सप्तम के पड़पोते
चार्ल्स १
27 मार्च
1625–1649
    19 नवम्बर 1600
डुनफर्मलिन महल
डेनमार्क की ऐन और जेम्स प्रथम के पुत्र
फ्रांस की हेनरीता मारिया
सेंट आगस्टिन्स ऐबी
13 जून 1625
९ बच्चे
30 जनवरी 1649
व्हाइटहॉल महल
उम्र 48 (सिर कटवाया गया)
जेम्स प्रथम के ज्येष्ठ पुत्र -देखें:(ज्येष्ठाधिकार)

कॉमनवेल्थसंपादित करें

चार्ल्स १ की 1649 में हत्या के बाद से 1660 में चार्ल्स २ के पुनर्स्थापन तक इंग्लैंड पर किसी ने शासन नहीं किया। 1653 से निम्नलिखित लोगों ने लॉर्ड प्रोटेक्टर संरक्षक शासक की उपाधि के अंतर्गत राजकाज संभाला। इस काल को द प्रोटेक्टोरेट कहते हैं।

नाम चित्र कुल-चिह्न जन्म विवाह मृत्यु
ओलिवर क्रॉमवेल
Old Ironsides
16 दिसम्बर
1653–1658[55]
    25 अप्रैल 1599
हन्टिंग्डन[55]
रॉबर्ट क्रॉमवेल और एलिज़ाबेथ स्टीवर्ड के पुत्र[56]
एलिज़ाबेथ बोर्चियर
सेंट गाईल्स में[57]
22 August 1620
९ बच्चे[55]
3 सितम्बर 1658
व्हाइटहॉल
उम्र 59[55]
रिचर्ड क्रॉमवेल
Tumbledown Dick
3 सितम्बर 1658
– 7 मई 1659[58]
    4 अक्टूबर 1626
हन्टिंग्डन
ओलिवर क्रॉमवेल और एलिज़ाबेथ बोर्चियर के पुत्र[58]
डोरोथी मेजर
मई 1649
९ बच्चे[58]
12 जुलाई 1712
चेसहंट
उम्र 85[59]

स्टुअर्ट राजघराना (वापसी)संपादित करें

हालांकि शासन 1660 में ही स्थापित हो गया था १६८८ के सुहावनी क्रांति (ग्लोरियस रिवोल्युशन) से पहले तक स्थिरिता नहीं आ पायी जब संसद ने रोमन कैथोलिकों के सत्ता ग्रहण करने पर प्रतिबंध लगा दिया।[कृपया उद्धरण जोड़ें]

नाम चित्र कुल-चिह्न जन्म विवाह मृत्यु दावा
चार्ल्स २
1660–1685[60]
Recognised by Royalists in 1649
    29 मई 1630
सेंट जेम्स का महल
चार्ल्स प्रथम और फ्रांस की हेनेरीटा मारिया का पुत्र
ब्रैगैन्ज़ा की कैथरीन
पोर्ट्समाउथ
21 मई 1662
निसंतान
6 फरवरी 1685
व्हाइटहॉल महल
उम्र 54
चार्ल्स प्रथम का पुत्र(ज्येष्ठाधिकार; English Restoration)
जेम्स २
6 फरवरी 1685 –
23 दिसम्बर 1688 (deposed)
    14 अक्टूबर 1633
सेंट जेम्स का महल
चार्ल्स प्रथम और फ्रांस की हेनेरीटा मारिया का पुत्र
(1) ऐन हाएड
स्ट्रैंड
3 सितम्बर 1660
आठ बच्चे

(2) मोडेना की मैरी
डोवर
21 नवम्बर 1673
सात बच्चे

16 सितम्बर 1701
Château de Saint-Germain-en-Laye
उम्र 67
चार्ल्स प्रथम का पुत्र (ज्येष्ठाधिकार)
मैरी २
13 फरवरी
1689–1694
    30 अप्रैल 1662
सेंट जेम्स का महल
जेम्स द्वितीय और ऐन हायड की बेटी
सेंट जेम्स का महल
4 नवम्बर 1677
निसंतान
28 दिसम्बर 1694
केन्सिंग्टन महल
उम्र 32
चार्ल्स प्रथम की पोती (संसद द्वारा नामित)
विलियम ३
William of Orange
13 फरवरी
1689–1702
100px   4 नवम्बर 1650
The Hague
का पुत्र विलियम २ और मैरी, शाही राजकुमारी[61]
8 मार्च 1702
केन्सिंग्टन महल
उम्र 51, घोड़े से गिरकर गर्दन टूटने से।
ऐन
8 मार्च
1702–1 May 1707[62]
ग्रेट ब्रिटेन और आयरलैंड की महारानी
1 मई 1707–1 अगस्त 1714
    6 फरवरी 1665
सेंट जेम्स का महल
जेम्स द्वितीय और ऐन हायड की बेटी
डेनमार्क का जॉर्ज
सेंट जेम्स का महल
28 जुलाई 1683
पाँच बच्चे
1 अगस्त 1714
केन्सिंग्टन महल
उम्र 49
जेम्स २ की बेटी (ज्येष्ठाधिकार; अधिकार का कानून, १६८९)
1707 के बाद के शासक देखें ब्रिटेन के शासक

विलय का कानूनसंपादित करें

विलय के अधिनियमों १७०६-०७ में इंग्लैंड की संसद और स्कॉटलैंड की संसद द्वारा पारित हुए संसदीय अधिनियम का युगल या मिश्रण थे। इनके तहत 22 जुलाई 1706 से एकीकरण की संधि के प्रभावी होने को मान्यता दी गई थी। इन अहिनीयमों ने अंग्रेजी और स्कॉटियाई राजशाहियों, जो कि पहले अलग-अलग स्वतंत्र राज्य थे को अलग संसदीय व्यवस्था के साथ साथ एक ही शासक के अंतर्गत ग्रेट ब्रिटेन राजशाही के अंतर्गत ला दिया।[63]

१६०३ में हुए मुकुटों के एकीकरण जिसमें राजा जेम्स षष्ठम् ने एलिज़ाबेथ प्रथम के बाद अंग्रेजी व आयरिश शासन अपने नियंत्रण में ले लिया था, के बाद से इंग्लैंड, स्कॉटलैंड व आयरलैंड का १०० से भी ज्यादा वर्षों से एक ही शासक होता था। वैसे तो इसका नाम मुकुटों का एकीकरण था, लेकिन वास्तव में इंग्लैंड व स्कॉटलैंड दोनों के दो मुकुट होते थे जो एक ही शासक राजा पहनता था। १७०७ के बाद जा कर यह एक राज्य और एक मुकुट हुआ। इसके पहले स्कॉटलैंड व इंग्लैंड को एक करने के असफल प्रयास १६०६, १६६७, और १६८९ में संसदीय कानूनों के तहत हो चुके थे लेकिन ये सफल १७०७ में ही हुए जब दोनों ही संसदों ने सैद्धांतिक रूप में इसे अपनी मंजूरी दे दी।

१७०७ के बाद के शासकों के लिये देखें, ब्रिटेन के शासक

अंग्रेज शासकों का शासनकालसंपादित करें

ऐन, ग्रेट ब्रिटेन की महारानीमैरी २, इंग्लैंड की रानीविलियम ३, इंग्लैंड का राजाजेम्स २, इंग्लैंड का राजाचार्ल्स २, इंग्लैंड का राजारिचर्ड क्रॉमवेलओलिवर क्रॉमवेलचार्ल्स १, इंग्लैंड का राजाजेम्स ६ व १एलिज़ाबेथ प्रथमफ़िलिप २, स्पेन का राजामैरी १, इंग्लैंड की रानीलेडी जेन ग्रेएडवर्ड ६, इंग्लैंड का राजाहेनरी ८हेनरी सप्तम, इंग्लैंड का राजारिचर्ड तृतीय, इंग्लैंड का राजाएडवर्ड पंचम, इंग्लैंड का राजाएडवर्ड चतुर्थ, इंग्लैंड का राजाहेनरी ६, इंग्लैंड का राजाएडवर्ड चतुर्थ, इंग्लैंड का राजाहेनरी ६, इंग्लैंड का राजाहेनरी पंचम, इंग्लैंड का राजाहेनरी चतुर्थ, इंग्लैंड का राजारिचर्ड द्वितीय, इंग्लैंड का राजाएडवर्ड ३, इंग्लैंड का राजाएडवर्ड २, इंग्लैंड का राजाएडवर्ड १, इंग्लैंड का राजाहेनरी ३, इंग्लैंड का राजाजॉन, इंग्लैंड का राजारिचर्ड प्रथम, इंग्लैंड का राजाहेनरी, युवा राजाहेनरी २, इंग्लैंड का राजासाम्राज्ञी मटिल्डास्टीफन, इंग्लैंड का राजाहेनरी १, इंग्लैंड का राजाविलियम २, इंग्लैंड का राजाविलियम विजयीएड्गर द एथलिंगहैरोल्ड गॉडविन्सनपापमोचक गुरू एडवर्डहार्थैक्नटहैरॉल्ड हेयरफुटक्नट महानएडमंड आइरनसाइडऍथेलरेड द अनरेडीस्वेन फोर्कबीयर्डऍथेलरेड द अनरेडीशहीद एडवर्डशांतिदूत एडगरएडविगएडरेडएडमंड प्रथमऍथेल्स्तनइंग्लैंड का कॉमनवेल्थस्टुअर्ट राजघरानाट्यूडर राजवंशयॉर्क राजघरानालंकास्टर राजघरानाप्लैन्टैग्नेट राजघरानाइंग्लैंड के ऐंगेविन के राजानॉर्मन्सन्यिटलिंगा राजघरानावेसेक्स राजघराना 

उपाधियाँसंपादित करें

ऍथेल्स्तन से लेकर राजा जॉन तक सभी अंग्रेज शासकों की पुकार शैली Rex Anglorum ("किंग ऑफ़ द इंग्लिश") थी। इसके अलावा कई अन्य नॉर्मन पूर्व राजाओं की अन्य उपाधियाँ व शैलियाँ भी थीं। जैसे की:

  • ऍथेल्स्तन: Rex totius Britanniae ("किंग ऑफ़ द होल ऑफ़ ब्रिटेन")
  • एडमंड द मैग्नीफिसेंट: Rex Britanniæ ("किंग ऑफ़ ब्रिटेन") और Rex Anglorum cæterarumque gentium gobernator et rector ("किंग ऑफ़ द इंग्लिश एंड ऑफ अदर पीपल्स गवर्नर एंड डाएरेक्टर")
  • एडरेड: Regis qui regimina regnorum Angulsaxna, Norþhymbra, Paganorum, Brettonumque ("राइनिंग ओवर द गवर्न्मेंट्स ऑफ़ द ऐंग्लो-सैक्सन्स, नॉर्थम्ब्रियन्स, पागन्स, ऐंड ब्रिटिश")
  • एडविग द फेयर: Rex nutu Dei Angulsæxna et Northanhumbrorum imperator paganorum gubernator Breotonumque propugnator ("किंग बाई द विल ऑफ़ गॉड, एम्परर ऑफ़ द ऐंग्लो-सैक्सन्स ऐंड नॉर्थम्ब्रियन्स, गवर्नर ऑफ़ द पागन्स, कमांडर ऑफ़ द ब्रिटिश")
  • शांतिदूत एडगर: Totius Albionis finitimorumque regum basileus ("ऑटोक्रट ऑफ़ ऑल अल्बियन ऐंड इट्स नेबरिंग रियाल्म्स")
  • कैनुट महान: Rex Anglorum totiusque Brittannice orbis gubernator et rector ("Kकिंग ऑफ़ द इंग्लिश ऐंड ऑफ़ ऑल द ब्रिटिश स्फीयर गवर्नर ऐंड डायरेक्टर") और Brytannie totius Anglorum monarchus ("मोनार्च ऑफ़ ऑल द इंग्लिश ऑफ़ ब्रिटेन")

नॉर्मन युग में Rex Anglorum रेक्स ऐंग्लोरम मानक था और Rex Anglie ("किंग ऑफ़ इंग्लैंड") को कभी-२ प्रयोग किया जाता था। साम्राज्ञी मटिल्डा ने स्वयं को Domina Anglorum ("लेडी ऑफ़ द इंग्लिश") की उपाधि दे रखी थी।

राजा जॉन के बाद से Rex या Regina Anglie के साथ अन्य उपाधियाँ भी जुड़ीं।

१६०४ में जेम्स प्रथम, जो पिछले साल ही अंग्रेजी सिंहासन पर आसीन हुआ था ने किंग ऑफ़ ग्रेट ब्रिटेन यानी ग्रेट ब्रिटेन का राजा की उपाधि धारण की। हांलाकि अंग्रेज व स्कॉटिश संसदों ने महारानी ऐन के अंतर्गत १७०७ के एकीकरण के कानून के अम्ल में आने से पहले तक इस उपाधि को मान्यता नहीं दी। [64]

इन्हें भी देखेंसंपादित करें

टिप्पणियाँसंपादित करें

  1. इ. बी. फ्राएड एटॉल, संपा॰ (1996). Handbook of British Chronology (तीसरा संस्करण). रोयल हिस्टोरिकल सोसायटी. पृ॰ 25. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 0-521-56350-X.
  2. कीनेस, साइमन। (2001)। “Rulers of the English, c.450–1066”। 'द ब्लैकवेल इनसाइक्लोपीडिया ऑफ़ ऐंग्लो-सैक्सन इंग्लैंड'। ब्लैकवेल प्रकाशन।
  3. rulers
  4. प्रैट, डेविड (2007). "The political thought of King Alfred the Great". Cambridge Studies in Medieval Life and Thought: Fourth Series 67. कैम्ब्रिज विश्वविद्यालय प्रेस. पृ॰ 106. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 978-0-521-80350-2.
  5. योर्क, बार्बरा. Bishop Æthelwold: His Career and Influence. वूडब्रिज, 1988. p. 71
  6. साइमन कीनेस (2001). 'Rulers of the English, c 450–1066' माइकल लैपिज एट ऑल सं में [अंग्रेजों के शासक, ल. ४५०-१०६६ ई॰]. पृ॰ 514. नामालूम प्राचल |PUBLISHER= की उपेक्षा की गयी (|publisher= सुझावित है) (मदद)
  7. सीन मिलर, ऍथेल्स्तन, in माइकल लैपिज et al ed., द ब्लैकवेल इनसाइक्लोपीडिया ऑफ़ ऐंग्लो-सैक्सन इंग्लैंड, 2001, p. 16
  8. साइमन कीनेस (2001). 'Edward, King of the Anglo-Saxons', एन. जे. हिगहम व डी. एच. हिल के संस्करणों में, Edward the Elder. राउटेलेज. पृ॰ 50–51.
  9. एलन ठैकर (2001). 'Dynastic Monasteries and Family Cults', एन. जे. हिगहम व डी. एच. हिल के संस्करणों में. Edward the Elder. राउटेलेज. पृ॰ 253.
  10. "Aethelstan @ Archontology.org". archontology.org. अभिगमन तिथि 15 मार्च 2007.
  11. "EADMUND (Edmund) @ Archontology.org". archontology.org. अभिगमन तिथि 17 मार्च 2007.
  12. "English Monarchs – Kings and Queens of England – Edmund the Elder". archontology.org. अभिगमन तिथि 17 मार्च 2007.
  13. "(Edred) @ Archontology.org" [एडरेड]. archontology.org. अभिगमन तिथि 17 मार्च 2007.
  14. BritRoyals – King Edred. Retrieved 17 मार्च 2007.
  15. "(Edwy) @ Archontology.org" [एडविग]. archontology.org. अभिगमन तिथि 17 मार्च 2007.
  16. Catholic Encyclopedia: Edwy. Retrieved 17 मार्च 2007.
  17. "EADGAR (Edgar the Peacemaker) @ Archontology.org". archontology.org. अभिगमन तिथि 17 मार्च 2007.
  18. The Ætheling. Retrieved 17 मार्च 2007.
  19. . archontology.org http://www.archontology.org/nations/england/anglosaxon/edwrd_martyr.php. अभिगमन तिथि 17 मार्च 2007. नामालूम प्राचल |Title= की उपेक्षा की गयी (|title= सुझावित है) (मदद); गायब अथवा खाली |title= (मदद)
  20. "AETHELRED (the Unready) @ Archontology.org". archontology.org. ऍथेलरेड द अनरेडी को 1013 की गर्मियों में डैनिश आक्रमणों के बाद देश निकाला दे दिया गया था, लेकिन स्वेय्न फोर्कबीयर्ड की मृत्यु के बाद वापस बुला लिया गया।url=http://www.archontology.org/nations/england/anglosaxon/aethelred.php गायब अथवा खाली |url= (मदद); |access-date= दिए जाने पर |url= भी दिया होना चाहिए (मदद)
  21. English Monarchs – Kings and Queens of England – Ethelred II, the Redeless. Retrieved 17 मार्च 2007.
  22. "English Monarchs". अभिगमन तिथि 27 अक्टूबर 2007.
  23. "Sweyn (Forkbeard) - Archontology.org". अभिगमन तिथि 27 अक्टूबर 2007.
  24. EADMUND (Edmund the Ironside) @ Archontology.org. Retrieved 17 मार्च 2007.
  25. English Monarchs – Kings and Queens of England – एडमंड प्रथमronside. Retrieved 17 मार्च 2007.
  26. एडमंड प्रथमI (king of England) @ Britannica.com. Retrieved 25 मार्च 2010.
  27. CNUT (Canute) @ Archontology.org. Retrieved 21 मार्च 2007.
  28. Harold was only recognised as regent until 1037, when was recognised as king. "Harold (Harefoot) - Archontology.org". अभिगमन तिथि 27 अक्टूबर 2007.
  29. "Harold I". Oxford Online Dictionary of National Biography. अभिगमन तिथि 20 फरवरी 2012.
  30. "हार्थैक्नट - Archontology.org". अभिगमन तिथि 28 अक्टूबर 2007.
  31. "हार्थैक्नट". Oxford Online Dictionary of National Biography. अभिगमन तिथि 20 फरवरी 2012.
  32. After reigning for approximately 9 weeks, Edgar the Atheling submitted to William the Conqueror, who had gained control of the area to the south and immediate west of London ("Eadgar (the Ætheling) - Archontology.org". अभिगमन तिथि 26 अक्टूबर 2007.).
  33. "STEPHEN (of Blois) - Archontology.org". अभिगमन तिथि 25 अक्टूबर 2007.
  34. Matilda is not listed as a monarch of England in many genealogies within texts, including David Carpenter's A Struggle for Mastery (2003) pg. 533, W.L. Warren's Henry II (1973) pg. 176, and John Gillingham's The Angevin Empire (1984) pg. x.
  35. "MATILDA (the Empress) - Archontology.org". अभिगमन तिथि 27 अक्टूबर 2007.
  36. ऐश्ले, माइक (१९९९). The Mammoth Book of British Kings and Queens [ब्रिटिश राजा रानियों की विशाल पुस्तक]. लंदन: रॉबिन्सन प्रकाशन लि. पृ॰ 516. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 1-84119-096-9.
  37. पाइन, लेस्ली गिलबर्ट (1983). A Dictionary of mottoes [ध्येय वाक्यों का शब्दकोष]. राउटलेज़ प्रकाशन. पृ॰ 53. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 978-0-7100-9339-4.
  38. नोरिस, हर्बर्ट (1999). Medieval Costume and Fashion [मध्यकालीन वेशभूषा व फैशन] (सचित्र व्याख्या, पुनर्मुद्रित संस्करण). कूरियर डोवर प्रकाशन. पृ॰ 312. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 0-486-40486-2.
  39. The date of Edward II's death is disputed by Ian Mortimer in his book "The Perfect King: The Life of Edward III, Father of the English Nation," which argues that he may not have been murdered, but held imprisoned in Europe for several more years: ISBN 0-09-952709-X
  40. "HENRY IV - Archontology.org". अभिगमन तिथि 25 अक्टूबर 2007.
  41. Biography of HENRY V – Archontology.org. Retrieved 28 नवम्बर 2009
  42. Edward V was deposed by Richard III, who usurped the throne on the grounds that Edward was illegitimate. "EDWARD V - Archontology.org". अभिगमन तिथि 25 अक्टूबर 2007.
  43. "RICHARD III - Archontology.org". अभिगमन तिथि 25 अक्टूबर 2007.
  44. एडवर्ड हॉल और राफैल होलिनशेड दोनों ने ही डोवर में 15 नवम्बर 1532 को हेनरी और ऐन के बीच छुपकर किये गये विवाह के बारे में लिखते हैं।
  45. "Lady Jane Grey: Marriage". अभिगमन तिथि 25 अक्टूबर 2007.
  46. फ़िलिप मात्र एक पटराजा नहीं थे बल्कि उनका महत्व व उपाधि रानी के शासन के साथ-साथ एक सह-शासक के रूप में देखी जाती थी। देखें रानी मैरी के स्पेन के फिलिप के साथ विवाह का कानून। हालांकि उनके अधिकार क्षेत्र के बारे में जानकारी विवादित है। कानून के अनुसार फ़िलिप को राजा की उपाधि मिलनी थी और वह "shall aid her Highness ... in the happy administration of her Grace's realms and dominions," शासन में रानी का साथ देते लेकिन अन्य जगहों पर सिर्फ़ मैरी को ही रानी व एकमात्र शासक बताया गया है।
  47. 1 Mar stat. 2 c. 2
  48. Louis Adrian Montrose, The subject of Elizabeth: authority, gender, and representation, University of Chicago Press, 2006
  49. ए. एफ़. पोलार्ड, The History of England – From the Accession of Edward VI. to the Death of Elizabeth (1547–1603), READ BOOKS, 2007
  50. Wim de Groot, The Seventh Window: The King's Window Donated by Philip II and Mary Tudor to Sint Janskerk in Gouda (1557), Uitgeverij Verloren, 2005
  51. Richard Marks, Ann Payne, British Museum, British Library; British heraldry from its origins to c. 1800; British Museum Publications Ltd., 1978
  52. American Numismatic Association, The Numismatist, American Numismatic Association, 1971
  53. Robert Dudley Edwards, Ireland in the age of the Tudors: the destruction of Hiberno-Norman civilisation, टेलर और फ्रांसिस, 1977
  54. Article 3 of the Act of Union 1707
  55. "ओलिवर क्रॉमवेल 1599–1658". अभिगमन तिथि 25 अक्टूबर 2007.
  56. "Oliver Cromwell – Faq 1". अभिगमन तिथि 25 अक्टूबर 2007.
  57. "New Page 1". मूल से 29 September 2007 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 25 अक्टूबर 2007.
  58. "Richard Cromwell, Lord Protector, 1626–1712". अभिगमन तिथि 25 अक्टूबर 2007.
  59. "CROMWELL, Richard - Archontology.org". अभिगमन तिथि 25 अक्टूबर 2007.
  60. Britannia: Monarchs of Britain
  61. "WILLIAM III - Archontology.org". अभिगमन तिथि 25 अक्टूबर 2007.
  62. "Anne (England) - Archontology.org". अभिगमन तिथि 25 अक्टूबर 2007.
  63. Welcome parliament.uk. Retrieved 7 अक्टूबर 2008.
  64. मुकुटों के एकीकरण के बाद से जेम्स किंग ऑफ़ ग्रेट ब्रिटेनकहा जाने वाला पहला राजा था, हांलाकि अंग्रेजी व स्कॉटिश संसदों ने इसे नकार दिया था। क्रॉफ्ट, पृ67; विल्सन, पृ249–252।

बाहरी कड़ियाँसंपादित करें