मुख्य मेनू खोलें

भारतेन्दु मण्डल के प्रसिद्ध कवि अंबिकादत्त व्यास का जन्म सन् १८५८ ई. में तथा मृत्यु सन् १९०० ई. में हुई। इन्होंने कवित्त सवैया की प्रचलित शैली में ब्रजभाषा में रचना की। भारतेन्दु हरिश्चन्द्र के समकालीन हिन्दी सेवियों में पंडित अंबिकादत्त व्यास बहुत प्रसिद्ध लेखक और कवि हैं।

प्रकाशित कृतियाँसंपादित करें

  • बिहारी बिहार (१८९८ ई.)
  • पावस पचास,
  • ललिता (नाटिका)१८८४ ई.
  • गोसंकट (१८८७ ई.)
  • आश्चर्य वृतान्त १८९३ ई.
  • गद्य काव्य मीमांसा १८९७ ई.,
  • हो हो होरी