बारहवें एशियाई खेल २ अक्टूबर से १६ अक्टूबर, १९९४ के बीच हिरोशिमा, जापान में आयोजित किए गए थे। इन खेलों का प्रसंग, एशियाई देशों के मध्य शान्ति और सद्भावना को प्रोत्साहित करना था। इस पर मेज़बान द्वारा पूरा बल दिया गया क्योंकि खेलस्थल १९४५ में हुए विश्व के पहले परमाणु हमले का स्थल भी था।

बारहवें एशियाई खेल
12th asiad.png
मेजबान शहर हिरोशिमा, जापान
प्रतिभागी देश ४२ (अनुमानित)
खिलाड़ी ६,८२८
स्पर्धाएँ ३४ क्रीड़ाएँ
उद्घाटन समारोह २ अक्टूबर
समापन समारोह १६ अक्टूबर
आधिकारिक उद्घाटन सम्राट अकिहितो
खिलाड़ी शपथ -
मशाल जलाने वाला -
मुख्य आयोजक हिरोशिमा विशाल आर्च

इन खेलों में ४२ देशों से कुल ६,८२८ खिलाड़ियों और अधिकारियों ने भाग लिया और कुल ३४ खेल-प्रतियोगिताएँ थी। प्रथमोप्रवेश खेल थे बेसबॉल, कराटे और आधुनिक पेण्टाथलोन।

शुभंकरसंपादित करें

बारहवें एशियाई खेलों का आधिकारिक शुभंकर सफ़ेद कबूतरों का जोड़ा था। पोप्पो और चुच्चू, क्रमशः पुरुष और महिला थे, जो शान्ति और सद्भाव का प्रतीक थे - जो इन खेलों का मुख्य विषय था।

प्रतिभागी देशसंपादित करें

इन एशियाई खेलों में एशिया की ४२ राष्ट्रीय ओलम्पिक समितियों ने भाग लिया था। (आईओसी कूटानुसार):

पदक तालिकासंपादित करें

स्रोत : कुल पदक स्थिति - हिरोशिमा १९९४

 क्रमांक  देश स्वर्ण रजत कांस्य कुल
  चीनी जनवादी गणराज्य १२५ ८३ ५८ २६६
  जापान ६४ ७५ ७९ २१८
  दक्षिण कोरिया ६३ ५६ ६४ १८३
  कज़ाख़िस्तान २५ २६ २६ ७७
  उज़्बेकिस्तान १० ११ १९ ४०
  ईरान २६
  चीनी ताइपे १२ २४ ४३
  भारत १५ २२
  मलेशिया १३ १९
१०   क़तर १५ २०
११   इंडोनेशिया १२ ११ २६
१२   थाईलैण्ड १३ २५
१३   सीरिया
१४   फ़िलीपीन्स १३
१५   कुवैत
१६   सउदी अरब
१७   तुर्कमेनिस्तान
१८   मंगोलिया
१९   सिंगापुर
२०   वियतनाम
२१   हॉन्ग कॉन्ग १२
२२   पाकिस्तान १०
२३   किर्गिज़स्तान
२४   जार्डन
२५   संयुक्त अरब अमीरात
२६   मकाउ
२७   श्रीलंका
२८   बांग्लादेश
२९   ब्रुनेई
३०   म्यान्मार
३१   नेपाल
३२   ताजिकिस्तान
कुल ३३५ ३३५ ४११ १०८१