कुवैत (अरबी: دولة الكويت‎, दवालात अल-कुवैती) पश्चिम एशिया में स्थित एक संप्रभु अरब अमीरात है, जिसकी सीमा उत्तर में सउदी अरब और उत्तर और पश्चिम में इराक से मिलती है। उत्तर से लेकर दक्षिण तक की अधिकतम दूरी 200 किमी (120 मील) और पूर्व से लेकर पश्चिम तक की दूरी 170 किमी (110 मील) है। कुवैत एक अरबी शब्द है, जिसका अर्थ है 'पानी के करीब एक महल'। करीबन 30 लाख की जनसंख्या वाले इस संवैधानिक राजशाही वाले देश में संसदीय व्यवस्था वाली सरकार है। कुवैत नगर देश की आर्थिक और राजनीतिक राजधानी है। कुवैत में अनेक द्वीप भी शामिल हैं, जिसमें इराक की सीमा से लगा बुमियान सबसे बड़ा है।

دولة الكويت
दवालात अल-कुवैत1

कुवैत राज्य
ध्वज Coat of arms
राष्ट्रगान: अल-नासीद अल-वतानी
राजधानी
और सबसे बडा़ नगर
कुवैत नगर
29°22′N 47°58′E / 29.367°N 47.967°E / 29.367; 47.967
राजभाषा(एँ) अरबी
निवासी कुवैती
सरकार संवैधानिक वंशवादी अमीरात
 -  अमीर साबाह अल-अहमद अल-जाबेर अल-साबाह
 -  प्रधानमंत्री नसीन मोहम्मद अल-अहमद अल-साबाह
गठन
 -  पहली बसाहट 1613 
 -  बानी उत्बाह जातीय आधार 1705 
 -  एंग्लो-ओटोमन सम्मेलन 1913 1913 
 -  स्वतंत्रता 19 जून 1961 
क्षेत्रफल
 -  कुल 18,098 km2 (157 वां)
 -  जल (%) नगण्य
जनसंख्या
 -  2009 जनगणना 2,889,042 (137 वां)
 -  जनगणना 2,889,042 (20.1% कुवैती, 25.6% भारतीय, 30.0% बांग्लादेशी, 12.2% एशियन, 12.1% अरब)
सकल घरेलू उत्पाद (पीपीपी) 2009 प्राक्कलन
 -  कुल $137.450 बिलियन
 -  प्रति व्यक्ति $38,875 (11th)
सकल घरेलू उत्पाद (सांकेतिक) 2009 प्राक्कलन
 -  कुल $114.878 बिलियन
 -  प्रति व्यक्ति $32,491 (17 वां)
मानव विकास सूचकांक (2013)Red Arrow Down.svg 0.814[1]
बहुत उच्च · 46वाँ
मुद्रा कुवैती दीनार (KWD)
समय मण्डल AST (यू॰टी॰सी॰+3)
 -  ग्रीष्मकालीन (दि॰ब॰स॰) (आकलन नहीं) (यू॰टी॰सी॰+3)
दूरभाष कूट 965
इंटरनेट टीएलडी .kw

1990 में कुवैत पर इराक ने आक्रमण कर कब्जा जमा लिया था। सात महीने का इराकी कब्जा संयुक्त राज्य अमेरिका नीत सेना द्वारा सीधे आक्रमण के बाद खत्म हुआ था। लौटती हुई इराकी सेना ने करीबन 750 तेल के कुंओं को खाक में मिला दिया, जो एक बड़ी आर्थिक और पयार्वरण त्रासदी के रूप में परिणीत हुई। युद्ध में कुवैत की आधारभूत संरचना बुरी तरह से क्षतिग्रस्त हुई, जिसे पुनः सुधारना पड़ा।

तेल भंडारण के मामले में कुवैत दुनिया का पांचवां सबसे समृद्ध देश और प्रति व्यक्ति आय के हिसाब से दुनिया का ग्यारहवां सबसे धनी देश है। कुवैत में तेल क्षेत्र की खोज और दोहन की प्रक्रिया 1930 से प्रारंभ हुई। 1961 में यूनाइटेड किंगडम से स्वतंत्र होने के बाद इस क्षेत्र में अभूतपूर्व वृद्धि दर्ज की गई है। आज देश का करीबन 95 प्रतिशत निर्यात और 80 प्रतिशत सरकारी राजस्व तेल 䤔र तेल से बने उत्पाद से होती है।

यह भी देखिएसंपादित करें


मध्य-पूर्व के देश
बहरीन | साइप्रस | मिस्र | गाज़ा पट्टी | ईरान | ईराक | इसराइल | जार्डन | कुवैत | लेबनान | ओमान | कतर | सऊदी अरब | सीरिया | तुर्की | संयुक्त अरब अमीरात | यमन
  1. "2014 Human Development Report Summary" (PDF). संयुक्त राष्ट्र Development Programme. 2014. पपृ॰ 21–25. अभिगमन तिथि 27 जुलाई 2014.