मुख्य मेनू खोलें

भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान कानपुर

(आई आई टी कानपुर से अनुप्रेषित)

भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान कानपुर (अंग्रेज़ी: Indian Institute of Technology Kanpur), जो कि आईआईटी कानपुर अथवा आईआईटीके के नाम से भी जाना जाता है, भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थानों में से एक है। इसकी स्थापना सन् १९५९ में उत्तर प्रदेश के कानपुर शहर में हुई। आईआईटी कानपुर मुख्य रूप से विज्ञान एवं अभियान्त्रिकी में शोध तथा स्नातक शिक्षा पर केंद्रित एक प्रमुख भारतीय तकनीकी संस्थान बनकर उभरा है।[1]

भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान कानपुर
आईआईटी कानपुर
ध्येयतमसो मा ज्योतिर्गमय
प्रकारशैक्षणिक एवं शोध संस्थान
स्थापित१९५९
सभापतिएम आनन्दकृष्णन्
निदेशकअभय करिंधकर
प्रशासनिक कर्मचारी
१२०० (तकरीबन)
स्नातक२५०० (तकरीबन)
परास्नातक२२०० (तकरीबन)
स्थानकानपुर, उत्तर प्रदेश, भारत
परिसर1,055 एकड़ (4.27 कि॰मी2)
जालस्थलwww.iitk.ac.in

अनुक्रम

इतिहाससंपादित करें

संस्थान की स्थापना १९५९ में कानपुर-भारत-अमेरिका कार्यकर्म के तत्वाधान में अमेरिका के ९ विश्वविद्यालयों के सहयोग से हुई[2]। सन १९६३ में संस्थान का स्थानांतरण वर्तमान स्थान पर हुआ। संगणक विज्ञान में शिक्षा प्रदान करने वाला यह पूरे भारत वर्ष में सर्वप्रथम संस्थान था।

शिक्षणसंपादित करें

स्नातकसंपादित करें

परास्नातकसंपादित करें

विभागसंपादित करें

 
आईआईटी कानपुर का संगणक विज्ञान एवं अभियान्त्रिकी विभाग।

भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान कानपुर में निम्नलिखित शैक्षणिक विभाग है -

अभियान्त्रिकीसंपादित करें

=== मानविकी ===kk

  • मानविकी एवं समाज विज्ञान

विज्ञानसंपादित करें

प्रयोगशालाएँ एवं अन्य सुविधाएँसंपादित करें

छात्रसंपादित करें

उल्लेखनीय पूर्व-छात्रसंपादित करें

पुरस्कार एवं सम्मानसंपादित करें

सन्दर्भसंपादित करें

  1. सुब्बाराव, ई. सी. (२००८). आई फॉर एक्सलेन्स. हार्पर कॉलिन्स.
  2. http://www.iitk.ac.in/infocell/iitk/newhtml/history.htm

बाहरी कड़ियाँसंपादित करें