पौराणिक सन्दर्भ में वाहन उन पशु-पक्षियों को कहते हैं जो देवताओं एवं अन्य पौराणिक पात्रों को वहन करते (ढोते) हैं। उदाहरण के लिए शिव का वाहन नन्दी है और दुर्गा का वाहन सिंह है।

अपने वाहन ऐरावत पर सवार इन्द्र

देवता और उनके वाहनसंपादित करें

वाहन संबंधित देवता छवि
चूहा गणेश  
घोड़ा कल्कि, रेवंता, चंद्र , इंद्र , सूर्य , खंडोबा  
गरुड़ विष्णु, कृष्ण, राम, वैष्णवी  
नंदी शिव, महेश्वरी, ईशान  
राम अग्नि , मंगला  
मोर कार्तिकेय , कौमारी  
कुत्ता भैरव  
हंस ब्रह्मा ब्राह्मणी, सरस्वती, गायत्री, विश्वकर्मा  
मगरमच्छ गंगा (चित्रित), वरुण, अखिलंदेश्वरी, खोडियार  
बाघ चंद्रघंटा, कुष्मांडा, दुर्गा, राहु, अय्यपन  
शेर स्कंदमाता, कात्यायनी, पार्वती, बुद्ध, चंडी का, मरियम्मन, कामाख्या, नरसिम्ही, कौशिकी, जगधात्री, दुर्गा  
हाथी इंद्र , लक्ष्मी, शची, बृहस्पति, कुलस्वामी ढांडाई माता  
तोता मीनाक्षी, काम, रति  
एंटीलोप चंद्र , वायु  
जल भैंस यम, वराही  
बिल्ली शष्ठी  
गधा कालरात्रि, शीतल, काली (दानव), अलक्ष्मी  
उल्लू लक्ष्मी  
गिद्ध केतु , शनि  
कौआ शनि, धूमावती  
कछुआ यमुना  
मुर्गा बहुचारा माता  
गाय दत्तात्रेय, शैलपुत्री, महागौरी, भूमि  
सांप मनसा  
लाश चामुंडा, स्मशन काली, भूतनाथ  
नेवला कुबेर  
आदमी निर्रति, निरता , कुबेर, भद्रा देवी  

इन्हें भी देखेंसंपादित करें