स्वागतसंपादित करें

हिन्दी विकिपीडिया पर आप काफी लगन से काम कर रहे हैं, जिसके लिये आप बधाई के पात्र हैं हमें आशा है कि आप हिन्दी विकिपीडीया पर राजस्थान से सम्बंधित कई लेख बनायेंगे एवं इस विकिपीडिया के सक्रिय सदस्य बने रहेंगे--Mayur (talk•Email) १०:१६, २२ मई २०११ (UTC)


विशेष नवागंतुक पुरस्कारसंपादित करें

  विशेष नवागंतुक पुरस्कार
हिन्दी विकिपीडिया पर कई लेखों का योगदान देने के लिए वैभव जैन की ओर से भेंट। ♛♚★Vaibhav Jain★♚♛ Talk Email 08:42, 17 जुलाई 2011 (UTC)

आभार: -हे. शे.


हेमन्त जी, आपके उत्तम गुणवत्ता के योगदानों के कारण हमनें आपको हिन्दी विकि के स्वत:परीक्षित सदस्य समुदाय में शामिल कर लिया है, मैं आशा करता हूँ कि हिन्दी विकि को आप एक नया आयाम प्रदान करेंगे एवं आपका योगदान निरंतर बना रहेगा--Mayur (talk•Email) 06:07, 10 जुलाई 2011 (UTC)


सरस्वती नदी में उचित संशोधन करने के लिये आपको साधुवाद, भारतीय इतिहास से आपका लगाव देखकर मुझे अत्यंत हर्ष हुआ। विकिपीडिया पर आपके योगदान प्रशंसनीय है कृपया अपना योगदान जारी रखें--Mayur (talk•Email) १६:४६, २६ जून २०११ (UTC)


हिन्दी विकिपीडिया पर व्याकरण और वर्तनी की अशुद्धियाँ रोंगटे खड़े कर देने की हद तक असह्य और संख्या में अनगिनत हैं. बहुत चिंतित हूँ! हे नियन्तागण!-कुछ करिये! --Hemant Shesh १५:११, ३० मई २०११ (UTC)


इसका मुख्य कारण यहाँ पर सक्रिय सदस्यों की भारी कमी है, ५५ करोड़ हिन्दी भाषियों वाले इस देश में मात्र १०-१२ लोग ही इस परियोजना में हिस्सा लेने आते है। हमें खुशी है कि आप भी हम से ही एक है आप पृष्ठों में हुई अशुद्धियों को स्वयं भी हटा सकते है किसी अशुद्धि को हटाने में तनिक भी संकोच न करें, धन्यवाद--Mayur (talk•Email) १८:३२, ३० मई २०११ (UTC)

ऊंटसंपादित करें

लगता है आप राजस्थान से हैं, तो क्या आप जानते हैं कि ऊंट के बच्चे को हिन्दी में क्या कहते हैं? यदि हां तो कृपया बतायें।Dinesh smita (वार्ता) 10:55, 27 जुलाई 2011 (UTC)


जी हाँ, राजस्थान से ही हूँ. ऊँट के बच्चे को मारवाड़ी में कहते हैं 'टोडिया'! जहाँ तक मेरी जानकारी है हिन्दी में ऊँट के बच्चे के लिए अलग कोई शब्द नहीं है, क्या पता संस्कृत में हो !- हे. शे.


राजस्थान में रूचिशील लेखक ध्यान दें:संपादित करें

राजस्थान के निम्नांकित विषयों पर आलेख विकिपीडिया में जुड़ें तो अच्छा हो:संपादित करें

राजस्थान एक दृष्टि में महत्त्वपूर्ण सूचनाएँ, जनगणना से सम्बन्धी महत्त्वपूर्ण तथ्य,राजस्थान के प्रमुख आर्थिक सूचकांक, राजस्थान के राजकीय प्रतीक, राजस्थान में भू उपयोग, राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में सम्मिलित क्षेत्र, राजस्थान में प्रथम, भारत में स्थान, राजस्थान में कहाँ पर क्या?, किसे क्या कहते हैं?, राज्य के महापुरुषों के उपनाम, राजस्थान के राज्यपाल और राज्यपालों का कार्यकाल, मुख्यमंत्रियों का कार्यकाल, नवीनतम सूचनाएँ, राजस्थान के सर्वोच्च पदाधिकारी, केन्द्र सरकार में राजस्थान के मंत्री, राजस्थान की नयी मंत्रिपरिषद, राज्यसभा में राजस्थान का प्रतिनिधित्व, पन्द्रहवीं लोक सभा में राजस्थान का प्रतिनिधित्व, तेरहवीं विधान सभा के सदस्य। साक्षरता से सम्बन्धित महत्त्वपूर्ण तथ्य, विगत एक दशक में राज्य में पशुधन की स्थिति, पशुगणना से सम्बन्धित महत्वपूर्ण तथ्य, निधन (वर्ष २००७,२००८,२००९,२००१०,२०११.

प्रमुख घटनाओं का कैलैण्डरवर्ष 2007, वर्ष 2008, वर्ष 2009, वर्ष २०१०, वर्ष २०११.

महत्त्वपूर्ण घटनाक्रम (वर्षवार)

राजस्थान में सरकार, नवीन नियुक्तियाँ, मनोनयन एवं निर्वाचन, पुरस्कार एवं सम्मान, महाराणा मेवाड़ फाउण्डेशन वार्षिक पुरस्कार, मारवाड़ रत्न पुरस्कार, राजस्थान साहित्य अकादमी पुरस्कार, राजस्थान सिंधी अकादमी पुरुस्कार,राजस्थान ब्रजभाषा अकादमी पुरुस्कार , राजस्थान उर्दू अकादमी पुरस्कार, राजस्थान ललित कला अकादमी पुरस्कार, राजस्थान संस्कृत अकादमी पुरस्कार, राजस्थान संगीत नाटक अकादमी पुरस्कार, प्रशासनिक गतिविधियाँ, पुलिस गतिविधियाँ, न्यायिक गतिविधियाँ, सैन्य गतिविधियाँ, वित्तीय गतिविधियाँ, पर्यटन गतिविधियाँ, विकास गतिविधियाँ, ऊर्जा विकास गतिविधियाँ, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य गतिविधियाँ, शैक्षणिक गतिविधियाँ, जन आंदोलन–विरोध प्रदर्शन, प्राकृतिक आपदा, दुर्घटनाएं, अपराध, विविध गतिविधियाँ।

भूगोल, जलवायु एवं मानव-संसाधन राजस्थान का भौगोलिक परिचय, राजस्थान प्रदेश की जलवायु, राजस्थान में जल संसाधन (नदियाँ, बांध एवं झीलें), राजस्थान की सिंचाई परियोजनाएँ, राजस्थान में स्रोतवार सिंचाई , राजस्थान में जनसंख्या, राजस्थान में जातियों का वितरण, राजस्थान में पिछड़ी तथा अन्य पिछड़ी जातियों की सूची, राज्य में आरक्षण व्यवस्था का इतिहास, राज्य में गुर्जर आंदोलन, राज्य में आरक्षण की वर्तमान व्यवस्था।

अर्थव्यवस्था राजस्थान की अर्थव्यवस्था, राजस्थान : अतीत बनाम वर्तमान, सामंती संस्कृति की विद्यमानता, राजस्थान : सामाजिक पिछड़ापन, राजस्थान : आज भी पिछड़ा राज्य, राजस्थान : क्या बीमारू राज्य ?, राजस्थान में मानवसंसाधन विकास, राजस्थान के कुछ जनांकिकीय संकेतक, इक्कीसवीं सदी का राजस्थान, राज्य के वित्तीय प्रबंधन में सुधार, तेजी से बदलता राजस्थान, राजस्थान में भूमि सुधार कानून, राज्य में धारा 90बी का विवाद, राजस्थान में खनिज संपदा, प्रधान खनिजों की सांख्यिकी सूचना, अप्रधान खनिजों की सांख्यिकी सूचना, राजस्थान में औद्योगिक विकास, राजस्थान सरकार के सार्वजनिक औद्योगिक उपक्रम, राजस्थान में केन्द्र सरकार के सार्वजनिक उपक्रम, प्रदेश में औद्योगिक विकास हेतु कार्यरत संस्थाएं , राजस्थान में रत्नाभूषण उद्योग, राज्य के प्रसिद्ध औद्योगिक उत्पाद, राजस्थान में ऊर्जा विकास, राजस्थान में सड़कों का विकास, राजस्थान में सहकारिता आंदोलन, राजस्थान में पशुधन, कुक्कुट पालन, मत्स्य पालन, पशु मेलों का आयोजन, राजस्थान में कृषि, राजस्थान में मुख्य फसलों का औसत उत्पादन, कार्यशील जोत, औषधि सम्पदा, विभिन्न योजनायें एवं कार्यक्रम, राज्य में समाज कल्याण कार्यक्रम, ग्रामीण विकास से जुड़ी हुई संस्थाएँ, राजस्थान में वन सम्पदा, राजस्थान में सूखा एवं अकाल, राजस्थान में शैक्षिक विकास, राजस्थान में साक्षरता, राजस्थान में शिक्षा, राजस्थान में उच्च शिक्षा, तकनीकी शिक्षा, व्यावसायिक शिक्षा, दूरस्थ शिक्षा, सतत एवं प्रौढ़ शिक्षा, कला, संस्कृति एवं साहित्यिक संस्थान तथा अकादमियाँ, पुरस्कार एवं अलंकरण, राजस्थान सरकार के महत्वपूर्ण प्रकाशन, कुछ प्रमुख निजी प्रकाशक, राजस्थान के उद्योगपति ।

राज्य की प्रशानिक व्यवस्था राजस्थान में पंचायती राज, राजस्थान में नगरीय स्वशासन, सूचना का अधिकार, राजस्थान में स्थापित विविध आयोग, राजस्थान में पुलिस फायरिंग का इतिहास, राज्य प्रशासन, जिला प्रशासन, स्वायत्तशासी संस्थाएं.

राजस्थान का इतिहास प्रागैतिहासिक पृष्ठभूमि, राजस्थान में इतिहास के प्रमुख स्रोत, शिलालेख, ताम्रपत्र, सिक्के, लिखित इतिहास। राजस्थान का प्राचीन इतिहास, राजस्थान में राजपूत वंशों का उदय, वैदिक युग से राजपूत युग तक वर्ण व्यवस्था, वैदिक युग से राजपूत युग तक स्त्रियों की स्थिति, मुगलकाल में राजपूताने की स्थिति, राजपूताने में मराठों का हस्तक्षेप, राजपूताने में पिण्डारियों का आतंक, राजपूताना पर ईस्ट इंडिया कम्पनी का शिकंजा, राजपूताना पर ब्रिटिश क्राउन का शासन, बीसवीं सदी में देशी रियासतों की स्थिति, राजस्थान में स्वतंत्रता आंदोलन, (क) राजस्थान में किसान आंदोलन, (ख) जनजातीय आंदोलन, (ग) क्रांतिकारी गतिविधियाँ, (घ) प्रजामण्डल आंदोलन, प्रजामण्डल आंदोलन के प्रमुख नेता, राजस्थान के स्वतंत्रता संग्राम में महिलाओं का योगदान, भारतीय संघ में विलय, राजस्थान का निर्माण, एकीकरण पश्चात् की समस्याएँ, प्रशासनिक समस्याएँ, राजनैतिक समस्याएँ, नेतृत्व की समस्याएँ, वित्तीय समस्याएँ, राजस्थान की चुनी हुई सरकारें, प्रथम विधान सभा (1952–1957), द्वितीय विधान सभा (1957–1962), तृतीय विधान सभा (1962–67), चतुर्थ विधान सभा (1967–72), पंचम विधान सभा (1972–1977), षष्ठ विधान सभा (1977–80), सप्तम् विधान सभा (1980–1985), आठवीं विधान सभा (1985–1990), नवम् विधान सभा (1990–92), दशम् विधान सभा (1993–1998), ग्यारहवीं विधान सभा (1998–2003), बारहवीं विधान सभा (2003 से 2008), तेरहवीं विधान सभा (2008 से 20013), राजस्थान के इतिहास प्रसिद्ध व्यक्ति, राजस्थान की इतिहास प्रसिद्ध महिलायें, आधुनिक काल के प्रसिद्ध व्यक्ति, राजस्थान के प्रसिद्ध इतिहासकार,राजस्थान के लोग, पद्श्री, पद्मभूषण, पद्मविभूषण आदि अलंकरण प्राप्त व्यक्ति ।

भाषा एवं साहित्य राजस्थानी भाषा एवं उसकी बोलियाँ, राजस्थानी साहित्य, राजस्थानी भाषा के प्रमुख ग्रंथ, राजस्थान के प्रेमाख्यान, राजस्थानी कहावतें, राजस्थान के प्रमुख मध्यकालीन साहित्यकार, आधुनिक काल के लेखक, राजस्थान के प्रसिद्ध कवि और उनकी कवितायेँ, प्रसिद्ध कहानीकार एवं उनकी कहानियाँ, राजस्थान के प्रसिद्ध उपन्यासकार एवं उनके उपन्यास, प्रसिद्ध नाटककार एवं उनके नाटक, राजस्थान के प्रसिद्ध पत्रकार, राजस्थान से प्रकाशित समाचार पत्र-पत्रिकाएँ।

संस्कृति/ लोक संस्कृति राजस्थान के प्रमुख सांस्कृतिक क्षेत्र, राजस्थान में धर्म एवं दर्शन, लोक देवता एवं लोक देवियाँ, राजस्थानी संस्कृति में संख्याओं का महत्त्व, राजस्थान की विशिष्ट लोककलायें, राजस्थान की कुछ विशिष्ट जातियाँ, राजस्थान का लोक संगीत, राजस्थान की प्रमुख गायक जातियाँ, राजस्थान के प्रमुख लोक वाद्य, राजस्थान के लोक नृत्य, राजस्थान के लोक नाट्य, राजस्थान के प्रमुख त्यौहार, राजस्थान के प्रसिद्ध मेले, राजस्थान में पारंपरिक और आधुनिक चित्रकला, राजस्थान की विभिन्न अकादमियां, राजस्थान की हस्तकलायें, राजस्थान की वेशभूषा, राजस्थान के प्रसिद्ध आहार व व्यंजन, राजस्थानी सिनेमा, राजस्थान की लोकोक्तियाँ और मुहावरे, राजस्थान में रंगमच, राजस्थान में शास्त्रीय संगीत परंपरा ।

पर्यटन राजस्थान में पर्यटन, राज्य में प्रमुख पर्यटन स्थल, राजस्थान में वन्य-जीवन, राजस्थान का स्थापत्य एवं शिल्प, राजस्थान के प्रसिद्ध मंदिर, राजस्थान के प्रसिद्ध जैन मंदिर, राजस्थान के प्रसिद्ध गुरुद्वारे, राजस्थान की प्रसिद्ध दरगाहें , मकबरे एवं मजिदें, राजस्थान के प्रसिद्ध दुर्ग, प्रमुख दुर्गों के प्राचीन नाम एवं आरंभिक निर्माण का समय, प्राचीन दुर्गों में हुए जौहर एवं साके, प्रसिद्ध और अप्रसिद्ध नगर और कसबे । --Hemant Shesh 13:05, 8 अगस्त 2011 (UTC)

विषय और भी हो सकते हैं- अनगिनत, बस लिखने वाला चाहिए!संपादित करें

जानकारी के लिए लगे हाथ मित्रों को बता दूं कि मैंने 'राजस्थान की आधुनिक कला' पर और 'राजस्थान के आधुनिक मूर्तिशिल्पों' पर दो लंबे आलेख लिख कर विकिपीडिया को दिए हैं- उन्हें ज़रूर देखिये! - हेमंत शेष'


सदस्य पृष्ठसंपादित करें

हेमंत जी मेरे सदस्य पृष्ठ को और उपरुक्त बनाने के लिए शुक्रिया। ♛♚★Vaibhav Jain★♚♛ Talk Email 13:04, 31 जुलाई 2011 (UTC)


आभारम्!Hemant Shesh (वार्ता) 13:38, 22 जून 2014 (UTC)


घना पक्षी अभयारण्यसंपादित करें

हेमन्त जी नमस्कार। हालाँकि मैं निश्चित रूप से नहीं कह सकता, लेकिन इस अभयारण्य का नाम मैंने जहाँ भी (पाठ्यपुस्तकों में भी) पढ़ा है घाना ही पढ़ा है, और यह भारत की सरकारी वेबसाइट http://bharat.gov.in/citizen/tourism_rajasthan.php भी इसे घाना बता रही है। हो सकता है कि आप सही हों; क्या आप किसी सरकारी वेबसाइट का सन्दर्भ दे सकते हैं, कि इसका सही नाम घना है। अथवा वेबसाइट सुलभ न हो तो कृपया किसी आधिकारिक पुस्तक का ही सन्दर्भ दे देवें तथा लेख में भी इसे स्पष्ट कर दिया जाये कि नाम में द्विरूपता है, और मानक कौनसा है, तो अच्छा रहेगा। धन्यवाद। -Hemant wikikoshवार्ता 06:28, 2 अगस्त 2011 (UTC)


घाना नहीं, घना! सरकार का क्या!संपादित करें

भाई, असली नाम घाना नहीं, घना है, केवलादेव घना, जो भरतपुर के इतिहास की किताबों से लगा कर कई, स्रोतों में आता रहा है. "जाटों का नवीन इतिहास' उपेन्द्रनाथ शर्मा की भरतपुर के इतिहास पर एकाग्र एक बेहद गहरी पुस्तक है (जो ठाकुर गंगा सिंह के साथ मिल कर उन्होंने लिखी थी). कुंवर नटवर सिंह की किताब : "महाराजा सूरजमल एंड हिज टाइम्स)" (प्रकाशक: शायद 'कोलिन्स') हिन्दी अनुवाद: राधाकृष्ण प्रकाशन, नई दिल्ली) में भी घना है. ब्रज का आम आदमी इसे 'घना' ही कहता आया है. अंग्रेज़ी से हिन्दी अनुवाद के चलते शायद घाना कहने की भूल भारत सरकार समेत कइयों ने की हो! यह लेखक लगभग तीन बरस भरतपुर में अतिरिक्त जिलाधीश था, सन ८८ के आसपास, तब से भी इसे घना ही देखता, सुनता, पढता आया, और क्या कहूँ. भारत 'सर्कार' तो आप के द्वारा बताई वेबसाइट मे 'केवलादेव' को भी केओलादेव' कहती है, सरकार का क्या! सप्रेम, -हे.शे.

राजस्थानी कला के साठ दशकसंपादित करें

हेमन्त जी, मुझे लगता है कि आपका लेख अब भी बहुत बड़ा है और इसका नाम भी ठीक नहीं लग रहा है। मेरा सुझाव है कि मुख्य लेख का नाम 'राजस्थान की कला' या 'राजस्थान की कला का इतिहास' हो। इसके अलावा इसमें से 'राजस्थान की आधुनिक कला के छः दशक' वाला जो शीर्षक है उसे वहाँ आठ-दस वाक्यों में संक्षिप्त करके एक अलग लेख बनाया जाय और उसका नाम 'राजस्थान की कला (१९६० से २०१०)' । आपका क्या कहना है? -- अनुनाद सिंहवार्ता 05:31, 9 अगस्त 2011 (UTC)


अनुनाद सिंह जी, कृपया थोडा सा संयम रखें और मुझे अवसर दें कि में खुद अपने लिखे को संशोधित कर लूं. आपकी भावना से अवगत हुआ. आभार कि आप मेरे एक ही लेख में 'अतिरिक्त रूचि ' प्रदर्शित कर रहे हैं, पर मेरा मानना है कि मौलिक लेखक का संपादन-अधिकार किसी दूसरे की बजाय, खुद लेखक के पास रहे तो अनावश्यक हस्तक्षेप के कारण उत्पन्न अनर्थ से बचा जा सकेगा. कहिये क्या ख्याल है आपका? अन्यथा मत ले लीजियेगा. -हेमंत शेष


'राजस्थान की कला' शीर्षक भ्रामक होगा क्यों कि इस से राजस्थान की लघु चित्रशैली के चित्रों से तात्पर्य भी लगाया जा सकता है ,हमारी बात फिलहाल आधुनिक चित्रकला की है, जो बिलकुल अलग क्षेत्र है !


कला की मेरी जानकारी लगभग शून्य है। इसलिये मैं 'सम्पादन' न कर सकता हूँ न करना चाहता हूँ। हाँ, मुझे इस लेख में बेतरतीबी जरूर दिख रही है। उदाहरण के लिये इसका नाम 'राजस्थान में आधुनिक कला के छः दशक' में किसी को भी भ्रम हो सकता है कि किन दशकों की बात हो रही है। आपका सुझाया नाम बहुत सटीक है - 'राजस्थान की आधुनिक कला का इतिहास" । -- अनुनाद सिंहवार्ता 06:03, 9 अगस्त 2011 (UTC)

'राजस्थान की आधुनिक कला का इतिहास" लेख का शीर्षक बदल दें.-हेमंत शेष


आपसे मिलने का सौभाग्यसंपादित करें

नमस्ते हेमन्त जी, मैं पिछले वर्ष चण्डीगढ़ गया था और वहाँ मनोज जी से मिलकर मुझे बहुत खुशी हुई। अब यदि मैं आपसे जयपुर में मिलुँगा तो मुझे और भी अधिक खुशी होगी। मैं आपसे इस नाते भी मिलना चाहता हूँ क्योंकि आप हिन्दी विकिपीडिया पर अपने योगदान देते हो और इसलिए भी मिलना चाहता हूँ क्योंकि आप उन लेखकों में से हो जो हिन्दी भाषा में भी लिखते हैं। चूँकि मैं समय-समय पर हिन्दी में लिखी पुस्तकें क्रय करता रहता हूँ और आपके द्वारा रचित पुस्तकें क्रय करने से पहले आपसे मिलुँगा तो मेरी खुशी का कोई ठिकाना नहीं रहेगा। यदि आप अपना पता मुझे बता दें तो मैं अवश्य ही और जल्दी ही आपसे मिलने आउँगा। मैं किसी भी कार्य-दिवश पर सायं ०५:०० बजे से पहले और छुटी के दिन किसी भी समय आपके घर आने का प्रयास करुंगा। यदि आप मुझे यह मौका देना चाहें तो कृपया अपना पता बताने का कष्ट करें। आप मुझे अपना पता मेरी ईमेल आईडी sanjeevphys [at] gmail.com पर भी भेज सकते हो अथवा विशेष:ईमेल_करें/संजीव_कुमार पर लिखकर भी भेज सकते हो। यदि आप अभी इतना समय नहीं निकाल सकते तो भी मुझे कोई ऐतराज नहीं है क्योंकि भविष्य की सम्भावनायें तो खुली हैं ही।☆★संजीव कुमार (✉✉) 11:39, 6 जुलाई 2014 (UTC)

हिंदी दिवस पर विकि सम्मेलनसंपादित करें

शायद इस विचार के लिए देर हो चुकी है, लेकिन क्या आप हिंदी दिवस मनाने के लिए चंडीगढ़ आना चाहेंगे? १४ सितंबर रविवार को है। मेरा सुझाव है कि शनिवार व रविवार को हम लोग एक छोटी सी सभा कर सकते हैं। पिछले कुछ समय में हिंदी विकि पर काफी उथल पुथल रही है जिससे बहुत सदस्यों का मनोबल इस समय मुझे क्षीण होता लग रहा है। ऐसे में हिंदी विकि सम्मेलन का आयोजन एक नई उर्जा का संचार कर सकता है। मैं आप सबको चंडीगढ़ आने का निमंत्रण देता हूँ।--मनोज खुराना 12:09, 11 सितंबर 2014 (UTC)

ढूंढारी अथवा ढूंढाड़ीसंपादित करें

नमस्ते हेमन्त जी, जहाँ तक मैं जानता हूँ अथवा सुना है उसके अनुसार ढूंढारी नामक पृष्ठ का शीर्षक ढूंढाड़ी होना चाहिए।☆★संजीव कुमार (✉✉) 09:51, 14 सितंबर 2014 (UTC)

==ढूंढारी शब्द का निर्माण==

(अगर etimology देखें तो)ढूंढारी शब्द का निर्माण 'ढूंढार' प्रदेश से हुआ है- न कि ढूंढाड़ से क्योंकि वह कोई प्रदेश नहीं था - अतः ढूंढाड़ी न कह कर इसे सब जगह ढूंढारी कहा गया|Hemant Shesh 06:07, 15 सितंबर 2014 (UTC)

ईसा पूर्व वर्ष लेखों को हटाने पर चर्चासंपादित करें

नमस्कार,

तीन हज़ार एक ईसा पूर्व से लेकर नौ हज़ार ईसा पूर्व पर बने हिन्दी विकिपीडिया लेखों को हटाने हेतु चर्चा विकिपीडिया:पृष्ठ हटाने हेतु चर्चा/लेख/८००० ईसा पूर्व पर प्रारम्भ की गयी है। आपसे सविनय निवेदन है की कृपया इस चर्चा में भाग लें ताकि चर्चा को सर्वसम्मति से पूर्ण कर इन लेखों को हटाने/रखने पर निर्णय लिया जा सके। धन्यवाद।--सिद्धार्थ घई (वार्ता) 07:39, 6 मार्च 2015 (UTC)


रिजवान ज़हीर उस्मानसंपादित करें

नमस्ते हेमंत जी,

आपने इस पृष्ठ को खाली कर दिया था और सामग्री अपने प्रयोगपृष्ठ पर ले गये थे। यदि सुधार पूर्ण हो गये हों तो कृपया उन्हें स्थापित करें अन्यथा लेख को इसके पुराने अवतरण पर ही स्थापित कर दें। इसे लंबे समय तक ख़ाली रखने का कोई औचित्य नहीं। सादर धन्यवाद ! --त्यम् मिश्र बातचीत 04:16, 7 जुलाई 2016 (UTC)


नमस्ते सत्यम मिश्र जी : मैंने वह लेख संस्मरणात्मक शैली में लिखा है जो शायद ही आप लोगों को भाए| आप देख लें ! चाहें तो हटा दें ....कोई उज्र न होगा! Hemant Shesh 04:34, 2 अगस्त 2016 (UTC)


स्वागत एवं टिप्पणी अनुरोधसंपादित करें

नमस्ते हेमंत जी। लंबे काल के बाद आज आपकी हिन्दी विकिपीडिया में पुनःवापसी को देखकर अत्यंत हर्ष हुआ। आपका पुनरागमन हिन्दी विकिपीडिया के लिए सौभाग्य की बात है। एक और अनुरोध भी है कि यदि सम्भव हो तो कृपया विकिपीडिया:पृष्ठ हटाने हेतु चर्चा/लेख/ब्रजभाषा चलचित्रपट पे आपकी टिप्पणी दें। धन्यवाद।--आर्यावर्त (वार्ता) 05:28, 7 जनवरी 2018 (UTC)


क्षमा करेंसंपादित करें

@Hemant Shesh: जी मुझे क्षमा करें , अनाम के संपादन हटाते हुए swviewers से गलती से आपके पृष्ठ सरोठा कों हटाने के शीघ्र हटाने के लिए नमित कर दिया , इसके लिए मैं क्षमा मांगता हूँ.KᴀʀᴀᴍLɪᴠᴇ Lᴏɴɢ Iɴᴅɪᴀc0ntribs 13:29, 19 फ़रवरी 2021 (UTC)

2021 Wikimedia Foundation Board elections: Eligibility requirements for votersसंपादित करें

Greetings,

The eligibility requirements for voters to participate in the 2021 Board of Trustees elections have been published. You can check the requirements on this page.

You can also verify your eligibility using the AccountEligiblity tool.

MediaWiki message delivery (वार्ता) 16:30, 30 जून 2021 (UTC)

Note: You are receiving this message as part of outreach efforts to create awareness among the voters.

श्रीकृष्णः शरणम् मम पृष्ठ का हटाने हेतु चर्चा के लिये नामांकनसंपादित करें

नमस्कार, श्रीकृष्णः शरणम् मम को विकिपीडिया पर पृष्ठ हटाने की नीति के अंतर्गत हटाने हेतु चर्चा के लिये नामांकित किया गया है। इस बारे में चर्चा विकिपीडिया:पृष्ठ हटाने हेतु चर्चा/लेख/श्रीकृष्णः शरणम् मम पर हो रही है। इस चर्चा में भाग लेने के लिये आपका स्वागत है।

नामांकनकर्ता ने नामांकन करते समय निम्न कारण प्रदान किया है:

मूल शोध। शीह नामांकन को हहेच में बदला गया

कृपया इस नामांकन का उत्तर चर्चा पृष्ठ पर ही दें।

चर्चा के दौरान आप पृष्ठ में सुधार कर सकते हैं ताकि वह विकिपीडिया की नीतियों पर खरा उतरे। परंतु जब तक चर्चा जारी है, कृपया पृष्ठ से नामांकन साँचा ना हटाएँ। --SM7--बातचीत-- 19:54, 11 फ़रवरी 2022 (UTC)

क्षमा कीजियेसंपादित करें

नमस्ते! हेमन्त शेष जी , मैंने गलती से आपके सदस्यपृष्ठ से अनजाने में सामग्री हटा दी थी, जिसे मैंने पूर्वत कर दिया है, मैं आपसे क्षमा यचना करता हूँ. धन्यवाद Aviram NoSurprisesPlease 10:02, 16 मार्च 2022 (UTC)

चौपाल से चर्चाओं को पूर्ववत ना करेंसंपादित करें

कृप्या चौपाल या किसी भी वार्ता पृष्ठ से चर्चा ना हटाएँ, उन्हें पूर्ववत ना करें, विघटनकारी संपादनों से बचे। चंद्र शेखर/Shekhar 15:52, 17 मार्च 2022 (UTC)

अजीत कुमार रिवारी जी का कहना था उसे चौपाल पर नहीं उनके पेज पर लिखना था इसलिये Hemant Shesh (वार्ता) 15:57, 17 मार्च 2022 (UTC)
तब ठीक है। और हाँ, अजीत जी का कहना ठीक है। अगर आपको किसी से 1:1 वार्ता करनी है तो उस सदस्य के पृष्ठ पर ही करनी चाहिए। आपकी उनको लेकर एक शिकायत प्रबंधक सूचनापट्ट पर भी चल रही है। आपको समस्त वार्तालाप और अपनी सभी बातें कहीं भी किसी एक स्थान पर ही करनी चाहिए। इससे प्रबन्धन आसान होता है और बाकी सभी लोग भी पूरा संदर्भ एक बार में समझ पाएँगे। टुकडों में कई स्थानों पर की गई बातों का कोई अर्थ कभी नहीं निकलेगा और ना ही किसी समस्या का समाधान हो पाएगा। वह वार्तालाप भविष्य के लिए पुरालेखित भी नहीं हो पाएगा। चंद्र शेखर/Shekhar 16:27, 17 मार्च 2022 (UTC)
धन्यवाद बंधुवर Hemant Shesh (वार्ता) 04:02, 18 मार्च 2022 (UTC)

@चंद्र शेखर: तो क्या प्रबंधक सूचनापट से उसे हटा देना चाहिए? अंजना सेठ (वार्ता) 04:18, 18 मार्च 2022 (UTC)

कुछ एडमिन संपादकों की दादागिरी का अंत होना ज़रूरी है इसलिए अगर उनके प्रति किसी को भी कोई वाजिब शिकायत है तो उसे सब लोगों की सूचना के लिए ऐसी पोस्ट्स को बाकायदा सुरक्षित रखना चाहिए Hemant Shesh (वार्ता) 04:41, 18 मार्च 2022 (UTC)

समकालीन कला पृष्ठ का हटाने हेतु चर्चा के लिये नामांकनसंपादित करें

नमस्कार, समकालीन कला को विकिपीडिया पर पृष्ठ हटाने की नीति के अंतर्गत हटाने हेतु चर्चा के लिये नामांकित किया गया है। इस बारे में चर्चा विकिपीडिया:पृष्ठ हटाने हेतु चर्चा/लेख/समकालीन कला पर हो रही है। इस चर्चा में भाग लेने के लिये आपका स्वागत है।

नामांकनकर्ता ने नामांकन करते समय निम्न कारण प्रदान किया है:

उल्लेखनीयता नहीं।

कृपया इस नामांकन का उत्तर चर्चा पृष्ठ पर ही दें।

चर्चा के दौरान आप पृष्ठ में सुधार कर सकते हैं ताकि वह विकिपीडिया की नीतियों पर खरा उतरे। परंतु जब तक चर्चा जारी है, कृपया पृष्ठ से नामांकन साँचा ना हटाएँ। --SM7--बातचीत-- 12:34, 21 मार्च 2022 (UTC)

Hata den ab koi aapatti kare aap logon ko farq bhi kaun sa padega. Hemant Shesh (वार्ता) 14:14, 21 मार्च 2022 (UTC)

आचार्य भालचंद्र गोस्वामी 'प्रखर' पृष्ठ को शीघ्र हटाने का नामांकनसंपादित करें

 

नमस्कार, आपके द्वारा बनाए पृष्ठ आचार्य भालचंद्र गोस्वामी 'प्रखर' को विकिपीडिया पर पृष्ठ हटाने की नीति के मापदंड ल2 के अंतर्गत शीघ्र हटाने के लिये नामांकित किया गया है।

ल2 • साफ़ प्रचार

इसमें वे सभी पृष्ठ आते हैं जिनमें केवल प्रचार है, चाहे वह किसी व्यक्ति-विशेष का हो, किसी समूह का, किसी प्रोडक्ट का, अथवा किसी कंपनी का। इसमें प्रचार वाले केवल वही लेख आते हैं जिन्हें ज्ञानकोष के अनुरूप बनाने के लिये शुरू से दोबारा लिखना पड़ेगा।

यदि आप इस विषय पर लेख बनाना चाहते हैं तो पहले कृपया जाँच लें कि विषय उल्लेखनीय है या नहीं। यदि आपको लगता है कि इस नीति के अनुसार विषय उल्लेखनीय है तो कृपया लेख में उपयुक्त रूप से स्रोत देकर उल्लेखनीयता स्पष्ट करें। इसके अतिरिक्त याद रखें कि विकिपीडिया पर लेख ज्ञानकोष की शैली में लिखे जाने चाहियें।

यदि यह पृष्ठ अभी हटाया नहीं गया है तो आप पृष्ठ में सुधार कर सकते हैं ताकि वह विकिपीडिया की नीतियों पर खरा उतरे। यदि आपको लगता है कि यह पृष्ठ इस मापदंड के अंतर्गत नहीं आता है तो आप पृष्ठ पर जाकर नामांकन टैग पर दिये हुए बटन पर क्लिक कर के इस नामांकन के विरोध का कारण बता सकते हैं। कृपया ध्यान रखें कि शीघ्र हटाने के नामांकन के पश्चात यदि पृष्ठ नीति अनुसार शीघ्र हटाने योग्य पाया जाता है तो उसे कभी भी हटाया जा सकता है।

--SM7--बातचीत-- 05:32, 22 मार्च 2022 (UTC)

प्रचार कहना अनुचित है। कृपया लेख के संदर्भ स्वयं देखें। उल्लेखनीयता स्वयं सिद्ध हो जाएगी। Hemant Shesh (वार्ता) 05:38, 22 मार्च 2022 (UTC)

चाहें तो चित्र कम किए जा सकेंगे Hemant Shesh (वार्ता) 05:39, 22 मार्च 2022 (UTC)

अगर दुबारा लेख की री टचिंग करनी हो तो कहें मैं दुबारा लिख दूंगा Hemant Shesh (वार्ता) 05:40, 22 मार्च 2022 (UTC)

हटाना बिल्कुल संगत नहीं Hemant Shesh (वार्ता) 05:41, 22 मार्च 2022 (UTC)

आचार्य भालचंद्र गोस्वामी 'प्रखर' पृष्ठ का हटाने हेतु चर्चा के लिये नामांकनसंपादित करें

नमस्कार, आचार्य भालचंद्र गोस्वामी 'प्रखर' को विकिपीडिया पर पृष्ठ हटाने की नीति के अंतर्गत हटाने हेतु चर्चा के लिये नामांकित किया गया है। इस बारे में चर्चा विकिपीडिया:पृष्ठ हटाने हेतु चर्चा/लेख/आचार्य भालचंद्र गोस्वामी 'प्रखर' पर हो रही है। इस चर्चा में भाग लेने के लिये आपका स्वागत है।

नामांकनकर्ता ने नामांकन करते समय निम्न कारण प्रदान किया है:

वि:उल्लेखनीयता नहीं, मूलशोध एवं संशलेष्ण द्वारा व्यक्ति को उल्लेखनीय साबित करने का प्रयास एवं प्रशंसक दृष्टिकोण से लिखा लेख। साफ़ प्रचार के तहत शीह नामांकित (आपत्ति को देखते हुए हहेच में परिवर्तित)।

कृपया इस नामांकन का उत्तर चर्चा पृष्ठ पर ही दें।

चर्चा के दौरान आप पृष्ठ में सुधार कर सकते हैं ताकि वह विकिपीडिया की नीतियों पर खरा उतरे। परंतु जब तक चर्चा जारी है, कृपया पृष्ठ से नामांकन साँचा ना हटाएँ। --SM7--बातचीत-- 16:24, 29 मार्च 2022 (UTC)

क्या सुधार चाहिए प्लीज़ स्पष्ट बताइये Hemant Shesh (वार्ता) 07:37, 31 मार्च 2022 (UTC) 07:33, 31 मार्च 2022 (UTC)

यह भी बतलाइये इस में तथ्य ज्यादा हैं जिनके सन्दर्भ दिए जा चुके है या यह किसी भी कोण से प्रशंसात्मक है ? ्््््