मुख्य मेनू खोलें

साइना नेहवाल

राष्ट्रीय बैडमिंटन महिला खिलाड़ी

'साइना नेहवाल (जन्म:१७ मार्च १९९०) भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ी हैं। वर्तमान में वह दुनिया की 8वीं वरीयता प्राप्त महिला बैडमिंटन खिलाडी हैं । [3][2] साथ ही एक महीने में तीसरी बार प्रथम वरीयता पाने वाली भी वो अकेली महिला खिलाडी हैं। लंदन ओलंपिक २०१२ मे साइना ने इतिहास रचते हुए बैडमिंटन की महिला एकल स्पर्धा में कांस्य पदक हासिल किया। बैडमिंटन मे ऐसा करने वाली वे भारत की पहली खिलाड़ी हैं। २००८ में बीजिंग में आयोजित हुए ओलंपिक खेलों मे भी वे क्वार्टर फाइनल तक पहुँची थी। वह बीडबल्युएफ विश्व कनिष्ठ प्रतियोगिता जीतने वाली पहली भारतीय हैं। वर्तमान में वह शीर्ष महिला भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ी हैं और भारतीय बैडमिंटन लीग में अवध वैरियर्स की तरफ से खेलती हैं।

साइना नेहवाल
Saina Nehwal in 2011.jpg
व्यक्तिगत जानकारी
जन्म नाम साइना नेहवाल
जन्म 17 मार्च 1990 (1990-03-17) (आयु 29)
हिसार, हरियाणा [1]
निवास हैदराबाद, तेलंगाना
ऊँचाई 1.65 मी॰ (5 फीट 5 इंच)
वजन 60 किलो (130 एलबी)
राष्ट्र Flag of India.svg भारत
हाथ का इस्तेमाल दायाँ हाथ
महिला एकल
उच्चतम वरीयता [2][3] (२३ मई २०१५)
वर्तमान वरीयता [3] (१६ अगस्त २०१५)
खिताब 22(सुपर सीरीज और ग्रैंड प्रिक्स)
(बीडबल्युएफ प्रालेख) बीडबल्युएफ प्रालेख
Updated on 17 सितम्बर 2015 (2015 -09-17) के अनुसार .

साइना भारत सरकार द्वारा पद्म श्री और सर्वोच्च खेल पुरस्कार राजीव गाँधी खेल रत्न पुरस्कार से सम्मानित हो चुकीं हैं। उनका विवाह बैडमिंटन खिलाड़ी पी॰ कश्यप से हुआ है।

परिचयसंपादित करें

साइना का जन्म १७ मार्च १९९० को हिसार, हरियाणा के एक जाट परिवार मे हुआ था। इनके पिता का नाम डॉ॰ हरवीर सिंह नेहवाल और माता का नाम उषा नेहवाल है। साइना साईं के नाम से बना है।[4] सायना ने शुरुआती प्रशि‍क्षण हैदराबाद के लाल बहादुर स्‍टेडि‍यम, हैदराबाद में कोच नानी प्रसाद से प्राप्त कि‍या। माता-पि‍ता दोनो के बैडमिंटन खि‍लाड़ी होने के कारण सायना का बैडमिंटन की ओर रुझान शुरु से ही था। पि‍ता हरवीर सिंह ने बेटी की रुचि को देखते हुए उसे पूरा सहयोग और प्रोत्‍साहन दि‍या।

सायना अब तक कई बड़ी उपलब्धियाँ अपने नाम कर चुकी हैं। वे विश्व कनिष्ठ बैडमिंटन विजेता रह चुकी हैं। ओलिम्पिक खेलों में महिला एकल बैडमिंटन का काँस्य पदक जीतने वाली वे देश की पहली महिला खिलाड़ी हैं। उन्‍होंने 2006 में एशि‍याई सैटलाइट प्रतियोगिता भी जीती है।

उन्होंने 2009 में इंडोनेशिया ओपन जीतते हुए सुपर सीरीज़ बैडमिंटन प्रतियोगिता का खिताब अपने नाम किया, यह उपलब्धि उनसे पहले किसी अन्य भारतीय महिला को हासिल नहीं हुई थी। दिल्ली में आयोजित राष्ट्रमंडल खेल में उन्होंने स्वर्ण पदक हासिल किया।

वर्ष 2015 में नई दिल्ली को योनेक्स सनराइज इंडिया ओपन सुपर सीरीज बैडमिंटन प्रतियोगिता के सेमीफाइनल में विश्व चैम्पियन जापान की युई हाशिमोतो को 44 मिनट में 21-15,21-11 से हराने के साथ ही दुनिया की शीर्ष वरीय खिलाड़ी बनी और फाइनल मैच में थाईलैंड की रत्चानोक इंतानोन को हराकर 29 मार्च 2015 को योनेक्स सनराइज इंडिया ओपन सुपर सीरीज बैडमिंटन टूर्नामेंट की महिला एकल ख़िताब की विजेता बनीं।

अप्रैल २०१५ में आधिकारिक रूप से उनकी विश्व रैंकिंग १ घोषित की गई। इस मुकाम तक पहुँचने वाली वे प्रथम भारतीय महिला बैडमिंटन खिलाड़ी हैं।[3][2]

पेशेवर जीवनसंपादित करें

२००६-२००९संपादित करें

2006 में, सायना अंडर 19 राष्ट्रीय चैंपियन बनी और दो बार प्रतिष्ठित एशियन सैटेलाइट बैडमिंटन टूर्नामेंट (इंडिया चैप्टर) जीतकर इतिहास बनाया। वह ऐसा करने वाली पहली खिलाड़ी बनी। 2006 में वह एक 4 सितारा टूर्नामेंट, फिलीपींस ओपन जीतने वाली दूसरे भारतीय महिला बनीं और तभी से वह वैश्विक परिदृश्य पर छा गयीं। [5] 86 वें वरीयता वाली सायना ने टूर्नामेंट में प्रवेश कर, खिताब के लिए मलेशिया की जूलिया वोंग पेई जियान को हराने से पहले दुनिया की नंबर चार जू हुआवे और कई शीर्ष वरीयता प्राप्त खिलाड़ियों को अचेत करती चली गयी। उसी वर्ष सायना शीर्ष वरीय चीनी खिलाडी वांग यिहान के खिलाफ एक कठिन लड़ाई लड़ी लेकिन हार गए और 2006 बीडब्ल्युएफ विश्व कनिष्ठ बैडमिंटन प्रतियोगिता की उपविजेता बनीं। वह नौवीं वरीयता प्राप्त जापानी सायाका सातो को 21-9 21-18 हरा कर 2008 विश्व कनिष्ठ बैडमिंटन प्रतियोगिता जीतने वाली पहली भारतीय बनीं।

एक बेहद ही रोमांचक तीन गेम के मुकाबले में चतुर्थ वरीय विश्व की पाँचवीं श्रेष्ठ खिलाडी हाँग काँग की वाँग चेन को हराकर ओलम्पिक खेल के क़्वार्टर फाइनल में पहुचने वाली वो प्रथम भारतीय महिला बैडमिंटन खिलाडी बन गयीं। क़्वार्टर फाइनल में वह १६वीं वरीयता प्राप्त मारिया क्रिस्टीन युलिआंती से एक बेहद कड़े मुकाबले में हार गयीं। सितम्बर २००८ में उन्होंने मलेशिया की लीदिया चिया ली या को 21–8 21–19 से हराकर योनेक्स चाईनीज़ ताईपे ओपेन का खिताब जीता।।[3] साइना को २००८ में मोस्ट प्रॉमिसिंग प्लेयर का खिताब दिया गया।[6] इसके बाद दिसम्बर २००८ में वह विश्व सुपर सीरीज़ के सेमीफाइनल तक पहुँच गयीं।[7]

२१ जून २००९ को इंडोनेशिया ओपन जीतकर वह विश्व की सबसे प्रतिष्ठित बी डब्ल्यु एफ सुपर सीरीज जीतने वाली पहली महिला भारतीय खिलाडी बन गयीं।[8] उन्होंने फाइनल में चीन की वाँग लिन को १२-२१, २१-१८, २१-९ से हराया।

२०१०संपादित करें

साइना ने सफलतापूर्वक 2010 उबर कप फाइनल के क्वार्टर फाइनल चरण के लिए भारतीय महिला टीम का नेतृत्व किया। साइना विजेता टिने रासमुसेन से हारने से पहले 2010 आल इंग्लैंड सुपर सीरीज के सेमीफाइनल में पहुंचने वाली पहली भारतीय महिला बनीं। शीर्ष वरीयता प्राप्त साइना योनेक्स सनराइज बैडमिंटन एशिया चैंपियनशिप 2010 में चीन की गैरवरीय खिलाड़ी ली झुइरुई से हारने से पहले सेमीफाइनल तक पहुंच गईं। साइना के कोच गोपीचंद ने उन्हें घरेलू दर्शकों के भारी समर्थन का खुद पर बहुत अधिक दबाव ना लेने की सलाह दी। साइना ने मलेशिया की वोंग मिउ चू को 2010 इंडिया ओपन ग्रां प्री गोल्ड में हराकर टूर्नामेंट में अपनी शीर्ष वरीयता को न्यायोचित ठहरा दिया। इस बीडब्ल्युएफ ग्रां प्री गोल्ड टूर्नामेंट को जीतकर उन्होंने $ 8280 के पुरस्कार राशि जीत ली। नेहवाल सिंगापुर ओपन सुपर सीरीज 2010 में फिर से नंबर 1 वरीयता प्राप्त कर चीन की विश्व चैंपियन लू लान को हराकर फाइनल में प्रवेश किया। साइना ने सिंगापुर ओपन के फाइनल में चीनी ताइपे की क्वालीफायर ताई जू यिंग को 21-18, 21-15 से हराकर अपने कैरियर का दूसरा सुपर सीरीज खिताब जीता। साइना ने इस बीडब्ल्युएफ सुपर सीरीज टूर्नामेंट को जीतकर 15,000 डॉलर की पुरस्कार राशि जीत ली और अपने कैरियर की शीर्ष वरीयता पर पहुँच गयी।[9] साइना ने जापान की सयाका सातो को एक कठिन खेल में 21-19 / 13-21 / 21-11 से हराकर अपने इंडोनेशिया ओपन सुपर सीरीज खिताब का बचाव किया। यह उनका तीसरा सुपर सीरीज़ खिताब और इंडियन ओपन, सिंगापुर सुपर सीरीज के बाद लगातार तीसरा खिताब था।[10] उन्हे फिर से इस बीडब्ल्युएफ सुपर सीरीज टूर्नामेंट को जीतने के लिए $ 18,750 की शीर्ष पुरस्कार राशि मिली। 15 जुलाई 2010 को 64,791.26 अंक के साथ साइना नेहवाल केवल चीन की वांग यिहान से पीछे नंबर 2 पर अपने कैरियर के उच्चतम वरीयता पर पहुंच गईं। दूसरी वरीयता प्राप्त साइना टूर्नामेंट में पसंदीदा खिलाडी थी लेकिन सीधे सेटों में 8-21, 14-21 से चौथी वरीयता प्राप्त चीन की वांग शीझियान से हारकर पेरिस में हो रहे 2010 बीडब्ल्युएफ विश्व प्रतियोगिता से बाहर हो गईं। हालांकि उन्होंने इस टूर्नामेंट में हैदराबाद में खेले गये अपने पिछले सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन की बराबरी की लेकिन इस हार के बाद विश्व वरीयता में नंबर 3 पर पहुँच गईं।

२०११संपादित करें

२०१२-२०१३संपादित करें

२२ वर्ष की उम्र में अपने स्विस ओपन खिताब की सफलता पूर्वक रक्षा करते हुए साइना ने फाइनल में चीन की विश्व में दूसरी वरीयता प्राप्त खिलाडी वांग शिझियान को २१-१९, २१-१६ से हराया।[11] १० जून २०१२ को उन्होंने थाइलैंड की रत्चानोक इंथेनॉन को १९-२१, २१-१५, २१-१० से हराकर थाइलैंड ओपेन ग्रैंड प्रिक्स गोल्ड खिताब अपने नाम किया। इसी वर्ष वह मलेशिया ओपन के सेमीफाइनल और कोरिया ओपन के क़्वार्टर फाइनल में पहुँची थी। अपने तीसरे इंडोनेशिया ओपन सुपर सीरीज़ खिताब को जीतते हुए उन्होंने जून में विश्व की नंबर ३ खिलाडी ली झुइरुई को फाइनल में 13–21, 22–20 21–19 से हराया।[12] इस वर्ष की उनकी सबसे बडी सफलता ४ अगस्त २०१२ को २०१२ लंदन ओलम्पिक के महिला एकल के काँस्य पदक के रूप में सामने आई जब चीन की उनकी प्रतिद्वंदी वांग झिन ने चोट लगने की वजह से बीच मैच में अपना नाम वापस ले लिया।[13] इसके बाद अक्टूबर में जर्मनी की जुलियान को फाइनल में हराकर उन्होंने डेनमार्क ओपेन खिताब भी जीता।[14]

२०१४संपादित करें

२६ जनवरी २०१४ को विश्व प्रतियोगिता की काँस्य पदक विजेता पी वी सिंधु को हराकर साइना इंडिया ओपन ग्रैंड प्रिक्स गोल्ड की विजेता बनी।[15] मार्च २०१४ में विश्व की चौथी वरीयता प्राप्त साइना चीन की वांग शिझियान से क़्वार्टर फाइनल में हारकर २०१० की आल इंगलैंड सुपर सीरीज प्रीमियर से बाहर हो गई।[16] २०१४ की ऑस्ट्रेलियन ओपेन सुपर सीरीज़ के सेमीफाइनल में शिझियान को हराकर उन्होंने आल इंगलैंड में हुई हार का बदला ले लिया। फाइनल में स्पेन की कैरोलिना मरीन को २१-१८, २१-११ से हराकर साइना ने ऑस्ट्रेलियन ओपेन सुपर सीरीज़ का खिताब अपने नाम कर लिया। इस जीत से वह विश्व में सातवें पायदान पर पहुँच गईं।[17] इसी तरह से चाइना ओपन सुपर सीरीज़ प्रीमियर में जापान की अकाने यामागुची को २१-१२, २२-२० से हराकर यह खिताब जीतने वाली वह पहली भारतीय महिला खिलाड़ी बनीं।

२०१५संपादित करें

स्पेन की कैरोलीना मरीन को फाइनल में 19-21, 25-23, 21-16 से हराकर पिछली विजेता साइना ने 2015 का इंडिया ओपन ग्रैंड प्रिक्स गोल्ड खिताब जीत लिया। इसके ठीक पहले आल इंगलैंड बैडमिंटन प्रतियोगिता के फाइनल में पहुँचने वाली पहली भारतीय महिला बनते हुए साइना कैरोलिना से ही फाइनल में 21-16, 14-21, 7-21 से हार गयी थीं।[18] २९ मार्च २०१५ को थाइलैंड की रत्चानोक को इंडियन ओपन सुपर सीरीज़ के फाइनल में हराकर वह विश्व की शीर्ष वरीय महिला बैडमिंटन खिलाड़ी बन गईं।[19]

२०१८संपादित करें

सायना नेहवाल ने 21वें राष्ट्रमंडल खेलों में अंतिम दिन रविवार को महिला एकल वर्ग का स्वर्ण पदक अपने नाम किया। सायना ने फाइनल में हमवतन पी.वी सिंधु को मात दी। ऐसे में इस स्पर्धा का रजत पदक भी भारत को ही मिला है। सायना ने भारत की झोली में 26वां स्वर्ण पदक[20] जीता! सायना ऐसे में राष्ट्रमंडल खेलों में दो स्वर्ण पदक जीतने वाली पहली भारतीय महिला बैडमिंटन खिलाड़ी बन गई हैं।

पेशेवर उपलब्धियाँसंपादित करें

एकल खेलीं जीती Hari अंतर
कुल 442 315 127 +188
वर्तमान वर्ष 18 सितम्बर 2015 (2015 -09-18) के अनुसार  36 29 7 +22

युगल खेलीं जीती हारी अंतर
कुल 33 9 24 −15
वर्तमान वर्ष 18 सितम्बर 2015 (2015 -09-18) के अनुसार  0 0 0 0

प्रतियोगिता 2008
2012
ग्रीष्मकालीन ओलम्पिक क्वार्टर फ़ाइनल 3  कांस्य
प्रतियोगिता 2006
2010
राष्ट्रमंडल खेल 3  कांस्य 1  स्वर्ण
प्रतियोगिता 2004
2008
राष्ट्रमंडल युवा खेल 2  रजत 1  स्वर्ण

एकल प्रतियोगिताएँ
प्रकार कुल खिताब
सुपर सीरीज प्रीमियर 5
सुपर सीरीज 4
ग्रैंड प्रिक्स & गोल्ड 7
कुल 16


पुरस्कार राशिसंपादित करें

18 सितम्बर 2015 (2015 -09-18) के अनुसार [21]

आयोजन कुल राशि
एकल $ 570610.00
युगल $ 1068.75

एकल में उपलब्धियाँसंपादित करें

  • अनु. = अनुपस्थित
  • क़्वा. फा. = क्वार्टर फाइनल
  • सेफा = सेमी फाइनल
प्रतियोगिता 2007 2008 2009 2010 2011 2012 2013 2014 2015   जीत/कुल   जीत-हार जीत % श्रेष्ठ
बीडबल्युएफ सुपर सीरीज
  कोरिया ओपन सुपर सीरीज प्रीमियर अनु. अनु. चरण 2 अनु. चरण 2 क़्वा. फा. क़्वा. फा. अनु. 0/4 4-3 क्वार्टर फाइनल (2012, 2013)
  मलेशिया ओपन सुपर सीरीज प्रीमियर अनु. अनु. चरण 1 क़्वा. फा. अनु. सेफा सेफा चरण 2 सेफा 0/6 सेफा(2012, 2013)
  ऑल इंगलैंड सुपर सीरीज प्रीमियर चरण 2 चरण 1 चरण 1 सेफा क़्वा. फा. क़्वा. फा. सेफा क़्वा. फा. उपविजेता 0/8 उपविजेता(2015)
  इंडिया सुपर सीरीज लागू नहीं लागू नहीं लागू नहीं लागू नहीं चरण 1 चरण 2 चरण 2 क़्वा. फा. विजेता 1/5 विजेता(2015)
  इंडोनेशिया सुपर सीरीज प्रीमियर अनु. चरण 2 विजेता विजेता उपविजेता विजेता सेफा क़्वा. फा. क़्वा. फा. 3/8 विजेता(2009,2010,2012)
  सिंगापुर सुपर सीरीज अनु. सेफा क़्वा. फा. विजेता चरण 2 अनु. क़्वा. फा. चरण 1 अनु. 1/6 विजेता(2010)
  चाइना मास्टर्स सुपर सीरीज अनु. सेफा अनु. अनु. क़्वा. फा. अनु. अनु. लागू नहीं 0/2 सेमी फाइनल (2008)
  जापान ओपन सुपर सीरीज अनु. चरण 1 चरण 1 अनु. सेफा अनु. अनु. अनु. 0/3 सेमी फाइनल (2011)
  ऑस्ट्रेलियन ओपन लागू नहीं लागू नहीं लागू नहीं लागू नहीं लागू नहीं लागू नहीं लागू नहीं विजेता क़्वा. फा. 1/2 विजेता(2014)
  डेनमार्क ओपन सुपर सीरीज प्रीमियर चरण 1 अनु. क़्वा. फा. अनु. चरण 2 विजेता क़्वा. फा. क़्वा. फा. 1/4 विजेता(2012)
  फ्रेंच सुपर सीरीज अनु. अनु. क़्वा. फा. अनु. चरण 2 उपविजेता चरण 2 क़्वा. फा. 0/3 उपविजेता (2012)
  चाइना ओपन सुपर सीरीज प्रीमियर चरण 1 चरण 1 चरण 2 अनु. चरण 1 अनु. चरण 2 विजेता 1/4 विजेता (2014)
  हाँगकाँग ओपन सुपर सीरीज चरण 1 क़्वा. फा. चरण 1 विजेता क़्वा. फा. चरण 2 चरण 2 1/5 विजेता (2010)
बीडब्ल्युएफ सुपर सीरीज मास्टर्स फाइनल्स लागू नहीं सेफा अनु. उपविजेता सेफा सेफा उपविजेता (2011)
बीडब्ल्युएफ विश्व प्रतियोगिता लागू नहीं क़्वा. फा. क़्वा. फा. क़्वा. फा. लागू नहीं क़्वा. फा. क़्वा. फा. क्वार्टर फाइनल (2009,2010,2011,2013,2014)
बीडब्ल्युएफ ग्रैंड प्रिक्स गोल्ड और ग्रैंड प्रिक्स
  स्विस ओपन ग्रैंड प्रिक्स गोल्ड चरण 1 चरण 2 क़्वा. फा. अनु. विजेता विजेता सेफा क़्वा. फा. 2/6 विजेता (2011,2012)
  थाईलैंड ओपन चरण 1 क़्वा. फा. अनु. क़्वा. फा. विजेता क़्वा. फा. लागू नहीं विजेता (2012)
  मलेशिया ओपन ग्रैंड प्रिक्स गोल्ड लागू नहीं लागू नहीं क़्वा. फा. उपविजेता उपविजेता (2011)
  इंडिया ओपन ग्रैंड प्रिक्स गोल्ड लागू नहीं चरण 2 विजेता विजेता लागू नहीं लागू नहीं लागू नहीं विजेता विजेता विजेता (2009,2010,2014,2015)
वर्षांत में वरीयता 8 4 4 3 8

श्रेष्ठ खिलाडियों के खिलाफ प्रदर्शनसंपादित करें

सुपर सीरीज के फाइनल में पहुँचने वाले खिलाडी, विश्व स्तरीय प्रतियोगिता के सेमीफाइनल में पहुँचने वाले खिलाडी और ओलम्पिक के क्वार्टर फाइनल में पहुँचने वाले खिलाडियों के विरुद्ध प्रदर्शन[22](8 मार्च 2015 तक)

खिलाफ रिकॉर्ड खिलाफ रिकॉर्ड खिलाफ रिकॉर्ड खिलाफ रिकॉर्ड
  कैरोलिना मारिन 3–2   वैंग यिहान 3–9   वैंग झिन 3–4   जिआंग यानजिओ 0–5
  ली शुईरुई 2–9   वैंग लिन 2–4   लु लान 4–1   झी झिंगफैंग 0–2
  झाँग निंग 0–1   टिन रासमुसन 5–4   जुलिआन शेंक 8–4   चेंग शाओ ची 3–1
  ताई जू इंग 5–4   बे युन जू 7-4   सुंग जी ह्युन 5-1   एरिको हिरोजे 4–4
  सयाका सातो 4–1   मिनात्सु मितानी 5-3   पेट्या नेडेलकेवा 6–2   पी हॉंगयान 1–5
  यिप पुइ इन 6–2   झोउ मी 1–3   वांग चेन 1–3   वौंग म्यु चू 3–2
  पोर्न्टिप बुरानाप्रेजरत्सुक 7–1   रत्चानोक इंथेनॉन 6–3   मारिया क्रिस्टिन युलिआँति 0–1   वाँग शिझियान 6-7
  लियान टैन 1–0   एल्ला डेहल 5–0   लारिसा ग्रिगा 1–0   पी वी सिंधु 1–0

2008 ग्रीष्मकालीन ओलम्पिकसंपादित करें

चरण प्रतिद्वंदी परिणाम कुल खेल अंक
पहला चरण एल्ला डेहल जीती 2–0 21–9, 21–8
दूसरा चरण लारिसा ग्रिगा जीती 2–0 21–18, 21–10
तीसरा चरण वांग चेन जीती 2–1 21–19, 11–21, 21–11
क्वार्टर फाइनल मारिया क्रिस्टीन युलिआंती हार गयी 1–2 28–26, 14–21, 15–21

2012 ग्रीष्मकालीन ओलम्पिकसंपादित करें

चरण प्रतिद्वंदी परिणाम कुल खेल अंक
समूह (ग्रुप स्टेज)   स्विट्ज़रलैंड जैक्वेट ( ओलम्पिक में।) जीती 2–0 21–9, 21–4
समूह (ग्रुप स्टेज)   बेलारूस लियान टैन ( ओलम्पिक में।) जीती 2–0 21–4, 21–14
प्री क्वार्टरफाइनल   नीदरलैंड याओ जी ( ओलम्पिक में।) जीती 2–0 21–14, 21–16
क्वार्टरफाइनल   डेनमार्क टाइन बाउन ( ओलम्पिक में।) जीती 2–0 21–15, 22–20
सेमी फाइनल   चीनी जनवादी गणराज्य वाँग यिहान ( ओलम्पिक में।) हारी 0–2 13–21, 13–21
काँस्य पदक के लिये   चीनी जनवादी गणराज्य वाँग झिन ( ओलम्पिक में।) जीती 0–1 18–21, 0–1 मैच छोडा।

अन्य सफलताएँसंपादित करें

प्रतियोगिता वर्ष परिणाम
  चेकोस्लोवाकिया कनिष्ठ प्रतियोगिता 2003 1  स्वर्ण
  एशियाई सैटेलाइट बैडमिंटन प्रतियोगिता 2005 1  स्वर्ण
  फिलीपीन्स ओपन 2006 1  स्वर्ण
  एशियाई सैटेलाइट बैडमिंटन प्रतियोगिता 2006 1  स्वर्ण
  भारतीय राष्ट्रीय बैडमिंटन प्रतियोगिता 2007 1  स्वर्ण
  भारत के राष्ट्रीय खेल 2007 1  स्वर्ण
  2008 चीनी ताइपे ओपन ग्रैंड प्रिक्स गोल्ड 2008 1  स्वर्ण
  भारतीय राष्ट्रीय बैडमिंटन प्रतियोगिता 2008 1  स्वर्ण
 2010 बैडमिंटन एशिया चैम्पियनशिप 2010 3  कांस्य

पुरस्कारसंपादित करें

२०१२ लदंन ओलम्पिक में काँस्य पदक के लिए -
  • १ करोण रूपए हरियाणा सरकार की तरफ से।[25]
  • ५० लाख रूपए राजस्थान सरकार की तरफ से।[26]
  • ५० लाख रूपए आँध्र प्रदेश सरकार की तरफ से।[27]
  • १० लाख रूपए भारतीय बैडमिंटन संघ की तरफ से।[28]
  • मंगलायतन विश्वविद्दालय की तरफ से डॉक्टरेट की मानक उपाधी[29]

सन्दर्भसंपादित करें

उद्धृत
  1. "प्रोफाईल: साइना नेहवाल". ओलंपिक गोल्ड क़्वेस्ट. 24 सितंबर 2010. अभिगमन तिथि २०१५-०४-०३.
  2. विमल मोहन (2 अप्रैल 2015). "साइना नेहवाल बन गईं नंबर 1, पहली बार भारतीय महिला बैडमिंटन खिलाड़ी का नाम सबसे ऊपर". एनडीटीवी. अभिगमन तिथि 4 अप्रैल 2015.
  3. "बी.डबल्यु.एफ़ वर्ल्ड रैंकिंग्स - बी.डबल्यु.एफ़". Bwfbadminton.org. अभिगमन तिथि २०१५-०५-११. सन्दर्भ त्रुटि: <ref> अमान्य टैग है; "वरीयता" नाम कई बार विभिन्न सामग्रियों में परिभाषित हो चुका है
  4. विवेक शुक्ला (४ अगस्त २०१२). "आईना: साइना नेहवाल, बैडमिंटन खिलाड़ी 'जज्बे से दूर की निराशा'". दैनिक भास्कर. अभिगमन तिथि ९ जुलाई २०१५.
  5. "Saina creates history, wins Philippines Open" [साइना ने इतिहास बनाया, फिलीपींस ओपन जीती।] (अंग्रेज़ी में). द हिन्दू. २९ मई २००६. अभिगमन तिथि ९ जुलाई २०१५.
  6. "Saina revels in global fame as Most Promising Player of 2008" [मोस्ट प्रॉमिसिंग प्लेयर 2008] (अंग्रेज़ी में). द इंडियन एक्सप्रेस. ९ दिसम्बर २००८. मूल से १३ जनवरी २००९ को पुरालेखित.
  7. "Saina wins praises, not prize money" [साइना ने इनाम जीता, इनाम की राशी नहीं] (अंग्रेज़ी में). द इंडियन एक्सप्रेस. २१ दिसम्बर २००८. अभिगमन तिथि ९ जुलाई २०१५.
  8. "वरीयता नहीं खेल पर ध्यान दूंगी: साइना". बीबीसी हिन्दी. २५ जून २००९. अभिगमन तिथि ९ जुलाई २०१५.
  9. "SamayLive: Saina becomes World No3" [साइना बनीं विश्व नंबर ३] (अंग्रेज़ी में). सहारा समय. २४ जून २०१०. अभिगमन तिथि ९ जुलाई २०१५.
  10. सुब्रमण्यम, वी॰वी॰ (27 जुन 2010). "Saina Nehwal clinches third Super Series title" [साइना ने तीसरा सुपर सीरिज़ खिताब जीता]. द हिन्दू (अंग्रेज़ी में). चेन्नई. |date= में तिथि प्राचल का मान जाँचें (मदद)
  11. "Saina Nehwal defends Swiss Open title" [साइना ने बचाया स्विस ओपन खिताब] (अंग्रेज़ी में). द टाइम्स ऑफ इंडिया. १८ मार्च २०१२.
  12. पीटीआई (१७ जून, २०१२). "Saina Nehwal wins Indonesia Open" [साइना ने जीता इंडोनेशिया ओपन] (अंग्रेज़ी में). एनडीटीवी. अभिगमन तिथि 1 जुलाई 2015. |date= में तिथि प्राचल का मान जाँचें (मदद)
  13. "Saina Nehwal: 2012 has been best year of my career" [साइना नेहवाल: २०१२ मेरे कैरियर का सवश्रेष्ठ वर्ष रहा।] (अंग्रेज़ी में). एनडीटीवी. २९ नवंबर २०१२. अभिगमन तिथि ११ मई २०१५.
  14. "YONEX Denmark Open 2012" [योनेक्स डेनमार्क ओपेन २०१२ के नतीज़े] (अंग्रेज़ी में). २३ अक्टूबर २०१२. अभिगमन तिथि ९ जुलाई २०१५.
  15. "Saina Nehwal dedicates her Indian Open Title to Gopichand, Parents" [साइना नेहवाल ने अपना इंडियन ओपेन खिताब अपने अभिभावकों व गोपीचंद के नाम किया।]. आईएएनएस (अंग्रेज़ी में). बिहार प्रभा समाचार. अभिगमन तिथि 1 जुलाई 2015.
  16. विशाल कुंगवानी (8 मार्च 2014). "Saina Nehwal loses in the quarter-finals of the 2014 All England Badminton Championships - Sportskeeda" [2014 आल इंगलैंड बैडमिंटन प्रतियोगिता के क़्वार्टर फाइनल में हारीं साइना नेहवाल] (अंग्रेज़ी में). Sportskeeda.com.
  17. "Saina Nehwal wins Women's Singles Tile of Australian Open 2014" [साइना नेहवाल ने जीता ऑस्ट्रेलियन ओपेन २०१४ का खिताब]. आईएएनएस (अंग्रेज़ी में). बिहार प्रभा. अभिगमन तिथि १ जुलाई २०१५.
  18. "ऑल इंग्लैंड ओपन: फाइनल में हारीं सायना नेहवाल, स्पेन की कैरोलीना मरीन बनी चैंपियन". आज तक. बर्मिंघम: aajtak.in. 8 मार्च 2015. अभिगमन तिथि ११ मई २०१५.
  19. "साइना बनीं दुनिया की नंबर वन खिलाड़ी". बीबीसी. नई दिल्ली: www.bbc.co.uk. 28 मार्च 2015. अभिगमन तिथि ११ मई २०१५.
  20. "CWG: भारत ने कुल 66 पदक जीते". Naya India Team. 15 April 2018.
  21. "Saina Nehwal-Prize Money" [पुरस्कार राशि]. बीडब्ल्युएफ. अभिगमन तिथि २०१५-०९-१८.
  22. "Record against top ranked players" [शीर्ष वरीय खिलाडियों के विरूद्ध प्रदर्शन] (अंग्रेज़ी में). टूर्नामेंट सॉफ्टवेअर भारत. अभिगमन तिथि 1 जुलाई 2015.
  23. खेलनामा न्यूज़ डेस्क (२२ अगस्त २०१३). "List of Rajiv Gandhi Khel Ratna awardees" [राजीव गाँधी खेल रत्न विजेताओं की सूची] (अंग्रेज़ी में). खेलनामा डॉट कॉम. अभिगमन तिथि २९ जून २०१५.
  24. "Padma Awards 2010" [पद्म पुरस्कार २०१० -सूची] (अंग्रेज़ी में). culturopedia.in. 25 जनवरी 2010. नामालूम प्राचल |access_date= की उपेक्षा की गयी (मदद)
  25. पवन नारा -बीबीसी संवाददाता (४ अगस्त २०१२). "हरियाणा ने दिए सबसे ज़्यादा ओलंपिक खिलाड़ी". बीबीसी. अभिगमन तिथि २९ जून २०१५.
  26. पीटीआई २०१२-०८-१३ (13 अगस्त 2012). "Rajasthan announces cash awards for Olympic winners Vijay Kumar, Sushil Kumar, Mary Kom, Saina Nehwal and others" (अंग्रेज़ी में). एकोनॉमिक टाइम्स. अभिगमन तिथि 29 जून 2015.
  27. "साइना को 50 लाख रूपये का नकद पुरस्कार देगी आंध्र सरकार". समय लाईव. ७ अगस्त २०१२. अभिगमन तिथि 1 जुलाई 2015.
  28. "BAI announces Rs 10 lakh award for Saina Nehwal" [बैडमिंटन संघ ने साइना को १० लाख रूपए पुरस्कार की घोषणा की।]. इंडियन एक्सप्रेस (अंग्रेज़ी में). २२ जून २०१२. अभिगमन तिथि २९ जून २०१५.
  29. पीटीआई (२०१२-११-०४). "Now She is Dr. Saina Nehawal" [अब ये हैं डॉक्टर साइना नेहवाल] (अंग्रेज़ी में). अभिगमन तिथि २९ जून २०१५.
सामान्य

बाहरी कड़ियाँसंपादित करें