मल्लिकार्जुन खड़गे

मल्लिकार्जुन खड़गे भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस से संबंधित भारतीय राजनीतिज्ञ हैं। वे वर्तमान में भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष हैं[1]। वे राज्य सभा में विपक्ष के नेता थे। वे भारत सरकार की पंद्रहवीं लोकसभा के मंत्रीमंडल में श्रम एवं रोज़गार मंत्री रह चुके हैं। वे २००९ में हुए आमचुनाव में कर्नाटक के गुलबर्गा चुनाव क्षेत्र से १५ वीं लोकसभा के लिए सदस्य निर्वाचित हुए थे।[2]वे भारत के पूर्व लोक सभा में भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के नेता थे।[3]

मल्लिकार्जुन खड़गे
मल्लिकार्जुन खड़गे

राष्ट्रीय अध्यक्ष, भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस
पदस्थ
कार्यालय ग्रहण 
26 अक्तूबर 2022
पूर्वा धिकारी सोनिया गांधी

विपक्ष के नेता, राज्य सभा
पद बहाल
16 फरवरी 2021 – 1 अक्तूबर 2022
पूर्वा धिकारी गुलाम नबी आज़ाद

पदस्थ
कार्यालय ग्रहण 
4 जून 2014
पूर्वा धिकारी सुशील कुमार शिंदे
उत्तरा धिकारी अधीर रंजन चौधरी

पदस्थ
कार्यालय ग्रहण 
17 जून 2013
प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह
पूर्वा धिकारी सी पी जोशी
उत्तरा धिकारी डी॰ वी॰ सदानंद गौड़ा

केन्द्रीय श्रम एवं रोजगार मंत्री, भारत सरकार
पद बहाल
29 मई 2009 – 16 जून 2013
प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह
पूर्वा धिकारी ऑस्कर फर्नांडिस
उत्तरा धिकारी शीशराम ओला

पद बहाल
2009–2019
पूर्वा धिकारी इकबाल अहमद सरदगी
उत्तरा धिकारी उमेश जी॰ जाधव

जन्म 21 जुलाई 1942 (1942-07-21) (आयु 80)
वारवाटी, हैदराबाद प्रांत, ब्रिटिश भारत
राजनीतिक दल भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस
अन्य राजनीतिक
संबद्धताऐं
संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (2004–वर्तमान)
जीवन संगी राधाबाई खड़गे
बच्चे 5
शैक्षिक सम्बद्धता राजकीय महाविद्यालय, गुलबर्गा (BA)
सेठ शंकरलाल लाहोटी विधि महाविद्यालय (LL.B)

प्रारंभिक जीवन और पृष्ठभूमिसंपादित करें

मल्लिकार्जुन खड़गे का जन्म वरावट्टी, भालकी तालुक, बीदर जिला, कर्नाटक में एक दलित जाति परिवार में हुआ था।[4] 1948 में, खड़गे ने अपनी मां और बहन को खो दिया क्योंकि उनको हैदराबाद के निज़ाम के रजाकारों या निजी मिलिशिया द्वारा आग लगा दी, जबकि वह खुद 7 साल की उम्र में बाल-बाल बचे थे।[5][6][7] उन्होंने गुलबर्गा के नूतन विद्यालय से अपनी स्कूली शिक्षा पूरी की और गुलबर्गा के सरकारी कॉलेज से कला स्नातक की डिग्री प्राप्त की और गुलबर्गा के सेठ शंकरलाल लाहोटी लॉ कॉलेज से कानून की डिग्री प्राप्त की। [3] उन्होंने न्यायमूर्ति शिवराज पाटिल के कार्यालय में एक जूनियर के रूप में अपना कानूनी अभ्यास शुरू किया और अपने कानूनी करियर की शुरुआत में श्रमिक संघों के लिए मुकदमे लड़े।

इन्हें भी देखेंसंपादित करें

सन्दर्भसंपादित करें

  1. "मल्लिकार्जुन खड़गे बने कांग्रेस अध्यक्ष, पहले संबोधन में कार्यकर्ताओं-सीनियर नेताओं को दिया ये संदेश". आज तक (hindi में). 2022-10-26. अभिगमन तिथि 2022-10-28.सीएस1 रखरखाव: नामालूम भाषा (link)
  2. "संग्रहीत प्रति". मूल से 20 मई 2009 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 25 मई 2009.
  3. "Kharge takes charge as new Railway Minister". Businessline. मूल से 3 नवंबर 2013 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि जुलाई ७, २०१३.
  4. Prabhu, Nagesh (30 September 2022). "Mallikarjun Kharge's possible elevation could be asset to Congress ahead of 2023 Karnataka Assembly polls". The Hindu.
  5. "Escaping Blaze at 7 to Congress Chief at 80 Mallikarjun Kharges Firefighting Continues Son Recounts Journey​ For News18". |title= में 108 स्थान पर zero width space character (मदद)
  6. "Mallikarjun Kharge officially takes charge as 1st non-Gandhi Congress president after 24 years".
  7. "7 साल के थे मल्लिकार्जुन खरगे जब अपनी मां-बहन को आंखों के सामने जिंदा जलते देखा, पढ़ें कांग्रेस के नए अध्‍यक्ष की अनसुनी दास्तां".
राजनीतिक कार्यालय
पूर्वाधिकारी
पवन बंसल
रेलवे मंत्री उत्तराधिकारी
डी॰ वी॰ सदानंद गौड़ा