भारत बहुत सारी भाषाओं का देश है,[1] लेकिन सरकारी कामकाज में व्यवहार में लायी जाने वाली दो भाषायें हैं, हिन्दी और अंग्रेज़ी। भारत में द्विभाषी वक्ताओं की संख्या 31.49 करोड़ है, जो 2011 में जनसंख्या का 26% है।[2]

वृहद भारत के भाषा परिवार
भारत की प्रमुख भाषाएँ तथा उनको बोलने वाले क्षेत्र

हिन्द-आर्य भाषाएँसंपादित करें

संस्कृत, पालि, प्राकृत, मारवाड़ी/मेवाड़ी, अपभ्रंश, हिंदी, उर्दू, पंजाबी, राजस्थानी, सिंधी, कश्मीरी, मैथिली, भोजपुरी, नेपाली, मराठी, डोगरी,कुरमाली नागपुरी, कोंकणी, गुजराती, बंगाली, उड़िया, असमीखोरठा

द्रविड़ भाषाएँसंपादित करें

तमिल, तेलुगु, मलयालम, कन्नड़, तुलू, गोंडी, कुड़ुख

आस्ट्रो-एशियाई भाषाएँसंपादित करें

संथाली, हो, मुंडारी, खासी

तिब्बती-बर्मी भाषाएँसंपादित करें

नेपाल भाषा, मणिपुरी, खासी, मिज़ो, आओ, म्हार, नागा

मातृभाषा के अनुसार बड़ी भारतीय भाषाओं की सूचीसंपादित करें

यहाँ यह ध्यान रखने योग्य बात है कि भारत में द्विभाषिकता एवं बहुभाषिकता का प्रचलन है इसलिए यह सँख्या उन लोगों की है जिन्होंने ने हिन्दी को अपनी प्रथम भाषा के तौर पर १९९१ की जनगणना में दर्ज़ किया था।

मान्यता प्राप्त भाषाएंसंपादित करें

हिंदी भारत के उत्तरी हिस्सों में सबसे व्यापक बोली जाने वाली भाषा है। भारतीय जनगणना "हिंदी" की व्यापक विविधता के रूप में "हिंदी" की व्यापक संभव परिभाषा लेती है।[3] 2011 की जनगणना के अनुसार, 43.63% भारतीय लोगों ने हिंदी को अपनी मूल भाषा या मातृभाषा घोषित कर दिया है।[4] भाषा डेटा 26 जून 2018 को जारी किया गया था।[5] भिली / भिलोदी 1.04 करोड़ वक्ताओं के साथ सबसे ज्यादा बोली जाने वाली गैर अनुसूचित भाषा थी, इसके बाद गोंडी 29 लाख वक्ताओं के साथ थीं। भारत की जनगणना २०११ में भारत की आबादी का 96.71% 22 अनुसूचित भाषाओं में से एक अपनी मातृभाषा के रूप में बोलता है।

बोलने वालों की संख्या के आधार प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय भाषाएँ (2011 की जनगणना)
भाषा प्रथम भाषाभाषी[6] प्रथम भाषाभाषी
कुल जनसंख्या के प्रतिशत के रूप में
द्वितीय भाषाभाषी (करोड़ में) तृतीय भाषाभाषी (करोड़ में) सभी भाषाभाषी (in करोड़ में)[7][8] कुल जनसंख्या के प्रतिशत
के रूप में कुल भाषाभाषी
हिंदी 52,83,47,193 43.63 13.9 2.4 69.2 57.10
अंग्रेज़ी 2,59,678 0.02 8.3 4.6 12.9 10.60
बंगाली 9,72,37,669 8.30 0.9 0.1 10.7 8.90
मराठी 8,30,26,680 7.09 1.3 0.3 9.9 8.20
तेलुगू 8,11,27,740 6.93 1.2 0.1 9.5 7.80
तमिल 6,90,26,881 5.89 0.7 0.1 7.7 6.30
गुजराती 5,54,92,554 4.74 0.4 0.1 6.0 5.00
उर्दू 5,07,72,631 4.34 1.1 0.1 6.3 5.20
कन्नड़ 4,37,06,512 3.73 1.4 0.1 5.9 4.94
ओड़िया 3,75,21,324 3.20 0.5 319,525 4.3 3.56
मलयालम 3,48,38,819 2.97 499,188 195,885 33,761,465 3.28
पंजाबी 3,31,24,726 2.83 3,272,151 319,525 36,609,122 3.56
संस्कृत 24,821 <0.01 1,234,931 3,742,223 4,991,289 0.49

दस लाख से कम व्यक्तियों द्वारा बोली जाने वाली भाषाएँसंपादित करें

बोलने वाले प्रतिशत
23 खानदेशी 973,709 0.116%
24 हो 949,216 0.113%
25 खासी 912,283 0.109%
26 मुंडारी 861,378 0.103%
27 कोकबराक भाषा 694,940 0.083%
28 गारो 675,642 0.081%
29 कुई 641,662 0.077%
30 मीज़ो 538,842 0.064%
31 हलाबी 534,313 0.064%
32 कोरकू 466,073 0.056%
33 मुंडा 413,894 0.049%
34 मिशिंग 390,583 0.047%
35 कार्बी/मिकिर 366,229 0.044%
36 सावरा 273,168 0.033%
37 कोया भाषा 270,994 0.032%
38 खड़िया 225,556 0.027%
39 खोंड 220,783 0.026%
40 अँग्रेजी 178,598 0.021%
41 निशी 173,791 0.021%
42 आओ 172,449 0.021%
43 सेमा 166,157 0.020%
44 किसान 162,088 0.019%
45 आदी 158,409 0.019%
46 रभा 139,365 0.017%
47 कोन्याक 137,722 0.016%
48 माल्तो भाषा 108,148 0.013%
49 थाड़ो 107,992 0.013%
50 तांगखुल 101,841 0.012%

संक्षिप्त चिह्लसंपादित करें

सन्दर्भसंपादित करें

  1. "'भाषाओं की क़ब्रगाह बन गया भारत'".
  2. "Hindi migrants speaking Marathi rise to 60 lakh".
  3. "India census results 2011" (PDF).
  4. "Hindi mother tongue of 44% in India, Bangla second most spoken".
  5. साँचा:Cit web
  6. ORGI. "Census of India: Comparative speaker's strength of Scheduled Languages-1951, 1961, 1971, 1981, 1991 ,2001 and 2011" (PDF).
  7. "How languages intersect in India". Hindustan Times.
  8. "How many Indians can you talk to?".

इन्हें भी देखेंसंपादित करें

बाहरी कड़ियाँसंपादित करें