मुख्य मेनू खोलें

भारत गणराज्य का इतिहास

भारत गणराज्य के इतिहास

साँचा:History of South Asia भारत गणतन्त्र का इतिहास 26 जनवरी 1950 को शुरू होता है।

राष्ट्र को धार्मिक हिंसा, जातिवाद, नक्सलवाद, आतंकवाद और विशेषकर जम्मू और कश्मीर तथा उत्तरपूर्वी भारत में, क्षेत्रीय अलगाववादी विर्द्रोहों का सामना करना पड़ा।

भारत एक परमाणु-हथियार सम्पन्न राज्य है; इसने पहला परमाणु परीक्षण १९७४ में किया, व १९९८ में बाद में और पाँच परीक्षण कियें। 1950 के दशक के लेकर 1980 के दशक तक, भारत ने समाजवादी-प्रेरित नीतियों का अनुसरण किया। अर्थव्यवस्था लाइसेंस राज, संरक्षणवाद और सार्वजिक स्वामित्व से बन्धी हुई थी, जिसका परिणामस्वरूप भ्रष्टाचार और धीमा आर्थिक विकास थे। 1991 में शुरू हुएँ नव-उदार आर्थिक सुधारों ने भारत को विश्व में तीसरी सबसे बड़ी और सबसे तेज़ विकसित होती अर्थव्यवस्था में परिवर्तित कर दिया। आज, भारत, वैश्विक मामलों में एक प्रमुख आवाज़ के साथ, एक प्रमुख विश्व शक्ति हैं और संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में स्थायी सीट हेतु प्रयासरत हैं। अनेक अर्थशास्त्रियों, सैन्य विश्लेषकों और बुद्धिजीवियों की यह अपेक्षा हैं कि भारत निकट भविष्य में एक महाशक्ति बनेगा।

1947–1950: भारत अधिराज्यसंपादित करें

===भारत का विभाजन===India

रियासतों का एकीकरणसंपादित करें

1947–1948 का भारत-पाकिस्तान युद्धसंपादित करें

1950 और 1960 के दशकसंपादित करें

नेहरू प्रशासन (1952–1964)संपादित करें

राज्यों का पुनर्गठनसंपादित करें

विदेश नीति और सैन्य संघर्षसंपादित करें

उत्तर-नेहरू भारतसंपादित करें

1970 का दशकसंपादित करें

हरित क्रान्ति और ऑपरेशन फ़्लडसंपादित करें

1971 का भारत-पाकिस्तान युद्धसंपादित करें

भारतीय आपातकालसंपादित करें

जनता interludeसंपादित करें

1980 का दशकसंपादित करें

राजीव गांधी प्रशासनसंपादित करें

जनता दलसंपादित करें

1990 का दशकसंपादित करें

गठबन्धनों का युगसंपादित करें

2000 का दशकसंपादित करें

भारतीय जनता पार्टी के अधीनसंपादित करें

कांग्रेस शासन की वापसीसंपादित करें

आर्थिक transformationसंपादित करें

2010 का दशकसंपादित करें

2014 – भारतीय जनता पार्टी सरकार की वापसीसंपादित करें

इन्हें भी देखेंसंपादित करें

सन्दर्भसंपादित करें

आगे पढ़ेंसंपादित करें

Primary स्रोतसंपादित करें

बाहरी कड़ियाँसंपादित करें

  • [1] बीबीसी भारत प्रोफ़ाइल